Monday, August 19, 2019

Blog

सिर्फ याद करने की तारीख न रहे आजादी का ये दिन!

मीडियावाला.इन। देश का जनमानस उस तिथि या घटना को ही अक्षुण्ण बनाए रख पाता है, जिसमें आध्यात्मिकता का पुट हो! क्योंकि, एतिहासिकता में आध्यात्मिकता का भाव होना जरुरी है। अन्यथा, भारतीय जनमानस औपचारिकताओं में अपनी रुचि कम कर देता है।...

कानून के गलियारे में 'तीन तलाक़' और दुनिया का नजरिया!

कानून के गलियारे में 'तीन तलाक़' और दुनिया का नजरिया!

मीडियावाला.इन। संसद में पारित होने के बाद 'तीन तलाक' से जुड़ा विधेयक अब कानून बन गया। सरकार ने अब पुरुषों की पत्नी को तीन बार बोलकर छोड़ देनेकी प्रथा को अपराध बना दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने पहले...

अदालत के बाहर औरत की अनंत त्रासदी!

अदालत के बाहर औरत की अनंत त्रासदी!

मीडियावाला.इन।कोर्ट, अस्पताल और पुलिस थाने से जहाँ तक हो सके बचकर रहना चाहिए! बातचीत में अकसर इस बात का जिक्र होता है! ये बात अपनी जगह इसलिए भी सही है, कि ये तीन वो जगह होती है, जहाँ कोई...

बच्चे को सिर्फ प्यार ही न दें, उसकी सुरक्षा भी करें!

बच्चे को सिर्फ प्यार ही न दें, उसकी सुरक्षा भी करें!

मीडियावाला.इन।  हर तरह के अपराध का एक अपना अलग मनोविज्ञान होता है। अपराध करने वाले की शारीरिक भावभंगिमाएं और उनकी नजरें इस बात की चुगली करती हैं कि वे कोई वारदात करने की मंशा में हैं! लेकिन, बाल...

आधे साल में तीन फिल्मों का कमाल! 

आधे साल में तीन फिल्मों का कमाल! 

मीडियावाला.इन।  बॉलीवुड में इस बार शुरूआती छह महीने में तीन फिल्मों ने कमाई के मामले में कमाल कर दिया। उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक, भारत और कबीर सिंह ने बता दिया कि अब दर्शकों की पसंद बदल रही है।...

संतान के प्रति पिता का प्रेम अव्यक्त भाव! 

संतान के प्रति पिता का प्रेम अव्यक्त भाव! 

मीडियावाला.इन। फादर्स-डे' विशेष  संतान के प्रति पिता का प्रेम अव्यक्त भाव!   सूर्य प्रतिदिन उदित हो अपने प्रकाश से और प्रकाश में समाहित ऊर्जा से समस्त संसार को जीवन प्रदान  कर  और समस्त प्राणियों के...

गिरीश कर्नाड नहीं रहे, अब 'टाइगर' की खबर कौन रखेगा?

गिरीश कर्नाड नहीं रहे, अब 'टाइगर' की खबर कौन रखेगा?

मीडियावाला.इन।  सलमान खान की फिल्म 'टाइगर' और 'टाइगर जिंदा है' में ख़ुफ़िया एजेंसी 'रॉ' के चीफ डॉ शेनॉय एक ऐसा किरदार था, जिसे लोग भूल नहीं पाए थे! ख़ुफ़िया एजेंट 'टाइगर' यानी सलमान को किस मिशन पर लगाना...

संयुक्त परिवारों में बच्चों के यौन शोषण का खतरा ज्यादा!

मीडियावाला.इन।  बच्चों के यौन शोषण की अधिकांश घटनाएं 'परिवारों' में होती है। वास्तव में ये अबूझ पहेली है और सामाजिक रूप से एक बड़ा खतरा भी! ऐसी घटनाओं में पिता, चाचा, मौसा, भाई, चचेरा भाई या...

एकता शर्मा को 'मीडिया फैलोशिप' के लिए चुना गया

एकता शर्मा को 'मीडिया फैलोशिप' के लिए चुना गया

मीडियावाला.इन। समाज के कमजोर और वंचित समुदाय से जुड़े मुद्दों पर मीडिया लेखन और शोध के लिए भोपाल की 'विकास संवाद' संस्था ने 15वीं मीडिया फैलोशिप के लिए धार की एडवोकेट और वरिष्ठ पत्रकार एकता शर्मा को चुना...

वेब सीरीज से मुकाबले में पिछड़ने लगे टीवी और सिनेमा!

वेब सीरीज से मुकाबले में पिछड़ने लगे टीवी और सिनेमा!

मनोरंजन के अभी तक कुछ ही माध्यम मौजूद थे। दो दृश्य माध्यम सिनेमा और टीवी और एक श्रवण माध्यम यानी रेडियो! करीब तीन दशकों से यही चल रहा था। लेकिन, अब मनोरंजन के एक और माध्यम 'वेब...

अब आ गया बायोपिक फिल्मों का ट्रेंड!

अब आ गया बायोपिक फिल्मों का ट्रेंड!

मीडियावाला.इन। फिल्मी दुनिया का अपना चलन है। यहाँ जब भी कोई आइडिया हिट होता है, सभी फिल्म बनाने वाले वही चाल चलने लगते हैं। वास्तव में तो ये भेड़ चाल है, लेकिन हिट आइडिये को कोई छोड़ना नहीं चाहता। ख़ास...

परदे पर कटुता, आतंकवाद और नफरत का बाजार! 

परदे पर कटुता, आतंकवाद और नफरत का बाजार! 

पड़ौसी देश से खट्टे-मीठे रिश्तों पर फ़िल्में बनाने का जुनून हमारे देश में बरसों से चल रहा है। ये एक ऐसा फ़िल्मी फार्मूला है, जो कभी फेल नहीं होता! पाकिस्तान से रिश्तों पर दो तरह की...

फिल्म के कथानक से उतर गए होली के रंग!  

फिल्म के कथानक से उतर गए होली के रंग!  

हिंदी फिल्मों में होली गीतों का अपनी ख़ास जगह हुआ करती थी! अब वो दौर करीब-करीब ख़त्म हो गया। मस्ती से सराबोर इस त्यौहार के ब्लैक एंड व्हाइट से लगाकर रंगीन फिल्मों तक में कई रंग दिखाए...

बॉलीवुड की किसी फ्लॉप फिल्म सा रहा 'मी टू' का तूफ़ान!  

बॉलीवुड की किसी फ्लॉप फिल्म सा रहा 'मी टू' का तूफ़ान!  

मीडियावाला.इन। बॉलीवुड में सबकुछ फ़िल्मी होता है! ख़ुशी, दुःख, दर्द, विवाद, रिश्ते और यहाँ तक कि निजी बातें भी हिट या फ्लॉप की तराजू पर तौली जाती है। कुछ दिनों पहले देश में 'मी-टू' का काफी बवाल मचा...