Thursday, September 19, 2019

कॉलम / नजरिया

अबकी बदली बदली सी सरकार नजर आती है..

अबकी बदली बदली सी सरकार नजर आती है..

दृश्य एक: मध्यप्रदेश की पंद्रहवीं विधानसभा का पहला सत्र। इंदिरा विधान भवन के बाहर जहां प्रवेश पत्र बनाये जाते हैं उस काउंटर पर उतावले लोगों की भीड। सभी को अंदर जाने की बेताबी। हर तरफ  चार पहिया वाहनों...

सियासी मन मेरे

सियासी मन मेरे

मीडियावाला.इन हर जिंदगी की अपनी एक फ्रेम होती है। आदमी उस फ्रेम में धीरे-धीरे आगे बढ़ता है। शिखर पर वह फ्रेम का मुख्य किरदार बन जाता है। फिर ढलान पर आता है तो किनारे...

दूसरों की जय से पहले खुद की जय करें

दूसरों की जय से पहले खुद की जय करें

स्वामी विवेकानंद युवाओं के आदर्श हैं। उनकी जयंती पर युवा दिवस मनाया जाता है। उनके बारे में इतना कुछ लिखा पढ़ा जा चुका है कि एक औसत युवा भी कुछ न कुछ तो जानता ही है। स्वामीजी ने...

अपने-अपने भ्रष्टाचारी

अपने-अपने भ्रष्टाचारी

सीबीआई, सवर्णों का आर्थिक आरक्षण और अध्योध्या विवाद- इन तीनों मसलों पर गौर करें तो हम किस नतीजे पर पहुंचेंगे ? सरकार, संसद, सर्वोच्च न्यायपालिका और विपक्ष -- सबकी इज्जत पैंदे में बैठी जा रही है। सीबीआई के...

मप्र में छाए हुए हैं डॉन....डकैत...खान....बॉस...!

मप्र में छाए हुए हैं डॉन....डकैत...खान....बॉस...!

निज़ाम बदला, मिजाज बदल गए और राजनीतिक हवा भी बदल गई लेकिन इस बदली हवा के झोंके को अभी तक भी कई लोग या तो महसूस नहीं कर पाए हैं या जानबूझकर अंजान बने हुए हैं।कब, क्या, कहां,...

मराठी साहित्य सम्मेलन है:कुछ प्रश्न ?

मराठी साहित्य सम्मेलन है:कुछ प्रश्न ?

मीडियावाला.इन। "यवतमाल में हो रहे अखिल भारतीय मराठी साहित्य सम्मेलन ने प्रसिद्ध अंग्रेजी लेखिका नयनतारा सहगल को उद्घाटन के लिए आमंत्रित किया था। उन्होंने आने की स्वीकृति भी दे दी थी, पर कुछ संगठनों की धमकी के कारण अखिल भारतीय...

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर, एक्सीडेंटल मीडिया एडवाइजर की कहानी

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर, एक्सीडेंटल मीडिया एडवाइजर की कहानी

संजय बारू सवा चार साल तक तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के मीडिया एडवाइजर रहे, लेकिन कहानी उन्होंने 10 साल की बयां कर दी। फिल्म देखते हुए लगता है कि इसका मकसद कांग्रेस और राहुल का मजाक उड़ाना और...

आर्थिक आरक्षण से विषमता की नई लामबंदियां शुरू  ...!

आर्थिक आरक्षण से विषमता की नई लामबंदियां शुरू  ...!

जैसी कि आशंका थी, सामान्य वर्ग और खासकर सवर्णों को आर्थिक आधार पर आरक्षण लागू होने के पहले ही विवादो में घिर गया है। जातिवादी आरक्षण का घोर विरोध करने वाली संस्था ‘यूथ फाॅर इक्वेलिटी’ ने इसके खिलाफ...

शिवराज जी अब नई चुनौती लेंगे!

शिवराज जी अब नई चुनौती लेंगे!

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शिवराज सिंह चौहान को पार्टी का राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाया है।इसके साथ ही यह चर्चा शुरू हो गयी है कि वे अपनी पुरानी विदिशा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ेंगे!सुषमा स्वराज पहले ही चुनाव लड़ने...

आर्थिक आरक्षण: सरासर फर्जीवाड़ा?

आर्थिक आरक्षण: सरासर फर्जीवाड़ा?

सवर्णों के लिए आर्थिक आरक्षण के विधेयक को संसद के दोनों सदनों ने प्रचंड बहुमत से पारित कर दिया है। आरक्षण का आधार यदि आर्थिक है तो उसे मेरा पूरा समर्थन है। वह भी सरकारी नौकरियों में नहीं,...

लोकतंत्र की हत्या 

लोकतंत्र की हत्या 

बड़े जोर का शोर मचा कि लोकतंत्र की हत्या हो गई है। शव विधानसभा के गेट पर पड़ा है। छुरा कातिल सरकार के हाथ में है, अब तक उससे खून टपक रहा है। विधानसभा की दीवारें लाल हो...

सोशल मीडिया पर अति से बचें

सोशल मीडिया पर अति से बचें

मीडियावाला.इन। सोशल मीडिया के फायदे और नुकसान की बातें, तो अकसर होती ही रहती है। यह भी कहा जाता है कि सोशल मीडिया का अत्यधिक उपयोग व्यक्ति को आत्मकेन्द्रित बना देता है। कुछ लोग सुबह उठते ही पहला...

हिन्दी के दाँत, खाने के कुछ दिखाने के कुछ

हिन्दी के दाँत, खाने के कुछ दिखाने के कुछ

मीडियावाला.इन। मारीशस के विश्व हिंदी सम्मेलन की खुमारी अभी तक नहीं उतरी है। कई लेखकगण वहां के खूबसूरत सागरतट की दृष्यावलियां अभी भी शेयर कर रहे हैं। पोर्ट लुई में किस ठाट के साथ हिंदी को गाया- उसका...

आरक्षण: अंधे से काणा भला

आरक्षण: अंधे से काणा भला

केंद्र सरकार की इस घोषणा का कोई भी विरोध नहीं कर सकता कि देश के सवर्णों में जो भी आर्थिक दृष्टि से पिछड़े हुए हैं, उन्हें भी अब शिक्षा और सरकारी नौकरियों में 10 प्रतिशत आरक्षण मिलेगा। इस...

विधानसभा विशेष : एनपी का जीत जाना, भाजपा की चूक या कांग्रेस की रणनीतिक विजय…?

विधानसभा विशेष : एनपी का जीत जाना, भाजपा की चूक या कांग्रेस की रणनीतिक विजय…?

अंतत: कांग्रेस विधायक नर्मदा प्रसाद प्रजापति एनपी 15 वीं विधानसभा के अध्‍यक्ष चुन लिए गए। भाजपा नियमों में ऐसी उलझी कि उसे अपने प्रत्‍याशी का प्रस्‍ताव रखने का मौका तक न मिला। खीज कर भाजपा विधायक दल सड़क...

क्या भाजपा लौट पाएगी?

क्या भाजपा लौट पाएगी?

भाजपा के संस्थापक और पूर्व केंद्रीय मंत्री संघप्रिय गौतम के बयान ने तहलका-सा मचा दिया है। वे अटलजी और आडवाणीजी  के साथी रहे हैं और उनकी उम्र 88 साल की हैं। वे नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शक मंडल के...

सवर्णों को आरक्षण से ज्यादा जरूरत रोजगार के अवसरों की है..! 

सवर्णों को आरक्षण से ज्यादा जरूरत रोजगार के अवसरों की है..! 

मोदी सरकार द्वारा सामान्य वर्ग को सरकारी नौकरियों में 10 फीसदी आरक्षण को भाजपा और सहयोगी दल भले लोकसभा चुनाव की दृष्टि से भले ‘गेम चेंजर’ मान रहे हों, लेकिन व्यावहारिक दृष्टि से यह दांव ‘गेम चेंजर’ साबित...

चीन के वर्कर नागरिक कब बनेंगे?

चीन के वर्कर नागरिक कब बनेंगे?

मीडियावाला.इन। भारत में हम लोग कहते हैं कि हम, भारत के नागरिक। लेकिन चीन में लोग कहते हैं कि हम वर्कर हैं। हाल ही में चीन के एक कुंठित नागरिक ने इस तरह का बयान एक अंतरराष्ट्रीय समाचार...

आदिवासियों के भीतर जल रही चिंगारी को हवा दे रही भाजपा

आदिवासियों के भीतर जल रही चिंगारी को हवा दे रही भाजपा

भारतीय जनता पार्टी की नजर कांग्रेस के भीतर सुलग रही चिंगारी को हवा देते रहने की है। आदिवासी खासकर मालवा निमाड़ के आदिवासी विधायकों में पनप रहे असंतोष को हवा देने की है। कमलनाथ मंत्रिमंडल में ठाकुरों के...

खेल देखिये और खेल के पीछे की मंशा समझिये!

खेल देखिये और खेल के पीछे की मंशा समझिये!

हां मैं बीजेपी के ही खेल की बात कर रहा हूँ! तीन राज्यों में हार क्या हुई कि सवर्णों के लिये आरक्षण याद आ गया।याद रखिये इन्होंने पहले गांधी का नाम अपनी वल्दियत में जोड़ा! फिर आम्बेडकर को...