Monday, September 23, 2019

कॉलम / नजरिया

सुधांशु महाराज को भी धमका चुके हैं आसाराम के अनुयायी !

सुधांशु महाराज को भी धमका चुके हैं आसाराम के अनुयायी !

मीडियावाला.इन। विश्वजागृतिमिशन के संस्थापक आचार्य  सुधांशुमहाराज को भी चंडीगढ़ में आसाराम बापू समर्थक धमका चुके हैं।यह ख़ुलासा खुद उन्होंने चर्चा के दौरान किया।  कथावाचकों आसाराम को उम्र क़ैद वाली सजा को सुधांशु महाराज ने बहुत...

उघरे अंत न होंहि निबाहू

उघरे अंत न होंहि निबाहू

मीडियावाला.इन। जब आसाराम को उम्रकैद की सजा पड़ी तो अतीत का दृश्य वैसे ही जीवंत हो गया जैसे कि मसाला फिल्मों का फ्लैशबैक। चैनल के एंकर साहब भी क्या गजब का रूपक बाँध रहे थे-...

आधार ने तेरह अरब डालर का सार्वजनिक धन बचाया

आधार ने तेरह अरब डालर का सार्वजनिक धन बचाया

मीडियावाला.इन। आधार बिचौलिया तंत्र और फर्जी आंकड़ों की बाजीगरी करने वालों के खात्मे के साथ ही प्रशासनिक और वितरण प्रणाली में पारदर्शिता लाने में कामयाब रहा और बीते तीन साल में 13 अरब डॉलर का सार्वजनिक धन बचाने...

मधुर-मधुर नाम हरि हरि ओम...

मधुर-मधुर नाम हरि हरि ओम...

मीडियावाला.इन। पता नहीं साध्वी प्रज्ञा का सिक्स्थ सेंस कैसे फ़ेल हो गया। एक साध्वी 24 घंटे पहले आसाराम के बरी होने की घोषणा करे और जोधपुर कोर्ट का फ़ैसला ठीक उलट आए यह तो आसाराम...

ऐप की दुनिया में भी नंबर वन अमेजॉन

ऐप की दुनिया में भी नंबर वन अमेजॉन

भारत में विगत वर्ष अगर कोई ऐप ज्यादा डाउनलोड किया गया, तो वह था अमेजॉन ऐप। डेस्कटॉप और मोबाइल दोनों पर उसे सबसे ज्यादा डाउनलोड किया गया। अमेजॉन के प्रमुख जेफ बेजोस अपनी कंपनी के शेयर होल्डर को लिखी चिट्ठी...

नर्मदा का यह भी चमत्कार रिपोर्ट में बाज़ी मार ली भय्यू महाराज ने!

नर्मदा का यह भी चमत्कार रिपोर्ट में बाज़ी मार ली भय्यू महाराज ने!

मीडियावाला.इन। •••• शिवराज ने विरोधी बाबाओं को चुप कराने के साथ ही दिग्विजय सिंह के चुनावी मुद्दे की भी हवा निकाल दी। •••• समिति में इंकार के बाद भी सरकार को पूरा योगदान,...

हमारे देश की राजनीति में केवल 'हित' स्थायी

हमारे देश की राजनीति में केवल 'हित' स्थायी

मीडियावाला.इन। असमान राजनीतिक ताकतों के एकसाथ आने का यह पहला उदाहरण नहीं है। ऐसा 1970 के दशक में आपातकाल के दौरान भी हुआ था, जब इंदिरा गांधी की निरंकुशता बढ़ गई थी; अस्सी के दशक...

मायावती अब सवर्णों की बात क्यों नहीं करतीं !

मायावती अब सवर्णों की बात क्यों नहीं करतीं !

मीडियावाला.इन। कभी बसपा सुप्रीमो मायावती समाजवादी पार्टी और उसके प्रमुख मुलायम को अपना सबसे बड़ा दुश्मन मानती थीं। आज मुलायम की जगह मोदी ने ले ली है और अब सपा की बजाय बीजेपी उनकी नंबर...

कमलनाथ को अध्यक्ष बनाने की चर्चा के साथ कांग्रेस की एकता का गीत गले नहीं उतर रहा

कमलनाथ को अध्यक्ष बनाने की चर्चा के साथ कांग्रेस की एकता का गीत गले नहीं उतर रहा

मीडियावाला.इन। ००००० भाजपा सिंधिया के नाम पर आक्रामक और कमलनाथ के प्रति उतनी ही नरम।  ००००० ज्यादातर सीटों पर जीत के लिए एक से अधिक नेताओं को दायित्व मिल सकता है। अब जबकि भाजपा ने...

मासूम की अस्मत, जिंदगी छीनने की अपराधी व्यवस्था भी है

मासूम की अस्मत, जिंदगी छीनने की अपराधी व्यवस्था भी है

मीडियावाला.इन। इंदौर। हैवानियत और दरिंदगी ने रिश्तों को तार-तार कर दिया। मामा अपनी चार माह की बच्ची को हवस का शिकार बनाए और बिल्डिंग से फेंककर जीवनलीला समाप्त कर दे, इसे क्या कहेंगे? घटना के...

सुप्रीम पर भारी राजनीति, मामला  समाप्त  राजनीति जारी!

सुप्रीम पर भारी राजनीति, मामला समाप्त राजनीति जारी!

जस्टिज लोया मामला  शायद अभी भी खत्म न हों। सुप्रीम कोर्ट ने अपनी तरफ से जस्टिस बृजगोपाल हरिकिशन लोया के मामले पर पूर्णविराम लगा दिया गया है। अदालत का कहना है कि उनका निधन जिन परिस्थितियों में हुआ, उसकी स्वतंत्र...

बिरादर! तुम्हारी जाति क्या है?

बिरादर! तुम्हारी जाति क्या है?

जबलपुर के सांसद राकेश सिंह मध्यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी के नए अध्यक्ष मनोनीत किए गए।  उनके नाम की चर्चा चल ही रही थी, उसी बीच मैंने चार लाइन की एक छोटी सी पोस्ट डाल दी कि जबलपुर साइंस कालेज में...

12 मीडिया घरानोें पर 10-10 लाख रूपए जुर्माने का अर्थ

12 मीडिया घरानोें पर 10-10 लाख रूपए जुर्माने का अर्थ

मीडिया घरानों ने पीड़िता की पहचान को उजागर करके इंडियन पैनल कोड के सेक्शन 228ए का उल्लंघन किया है, जिसके तहत  सजा देने की व्यवस्था है दिल्ली हाईकोर्ट ने 12 मीडिया घरानों पर 10-10 लाख रूपए का जुर्माना अदा...

सवाल आर्थिक से ज्यादा राजनीतिक है

सवाल आर्थिक से ज्यादा राजनीतिक है

सांविधानिक प्रावधानों के तहत हरेक पांच साल पर वित्त आयोग का गठन किया जाता है, ताकि यह तय किया जा सके कि केंद्र व राज्यों के बीच और राज्य-राज्य के बीच राजस्व के बंटवारे की रूपरेखा कैसी होनी चाहिए? दरअसल,...

जन्म से नहीं संस्कार से मिलता है ब्राम्हणत्व

जन्म से नहीं संस्कार से मिलता है ब्राम्हणत्व

धर्मशात्रों में ब्राह्मणों का स्थान अप्रतिम और अमोघ माना गया है। लोग कह सकते है क्योंकि शास्त्रकार सबके सब ब्राह्मण होते थे इसलिए खुद को सर्वोपरि रखा। फिर भी ब्राह्मणत्व में ऐसा कुछ न कुछ तो होगा कि प्रायः प्रत्येक...

यूपी सरकार भी शराबबंदी के टोटके में

यूपी सरकार भी शराबबंदी के टोटके में

योगी सरकार भी अब शराबबंदी के टोटके में आ गई। जिस तरह बिहार में नितीश कुमार को भ्रम था कि शराबबंदी से उन्हें महिलाओं के थोकबंद वोट मिल जाएंगे और वे उसका राजनीतिक लाभ ले पाएंगे, उसी तरह अब उत्तरप्रदेश सरकार को भी यही लगने लगा है।

मोदी के खिलाफ विपक्ष एक होगा, आज कोई नहीं कह सकता

मोदी के खिलाफ विपक्ष एक होगा, आज कोई नहीं कह सकता

तेलंगाना के मुख्यमंत्री चन्द्रशेखर  राव एक गैर भाजपाई और गैर कांग्रेसी दलों का गठजोड़ चाहते हैं, जबकि ममता बनर्जी ने कांग्रेस सहित अन्य दलों से तालमेल के विकल्पों को खुला रखा है। लेकिन अगर तीसरा मोर्चा बनता है तो क्या...

कुछ तो सीखो इंदौरियों से

कुछ तो सीखो इंदौरियों से

मीडियावाला.इन। समय का पहिया अपनी गति से घूमता है, कभी उत्थान तो कभी पतन। इसीलिए कहते हैं कि घूरे के दिन भी फिरते हैं। आज जो हेय है कल श्रेय भी बन सकता है। ...

मनमोहनसिंह-एक मौनवृत्ति कर्म योगी

मनमोहनसिंह-एक मौनवृत्ति कर्म योगी

मीडियावाला.इन। कभी मैंने लिखा था , तब वे प्रधानमंत्री हुआ करते थे कि मनमोहन सिंह न मन हैं न मोहन हैं न सिंह लेकिन आज हम उनका वर्तमान परिप्रेक्ष्य में आकलन करें तो लगता है कई मौकों...