Wednesday, June 26, 2019

यादें

कहां खींची गई नोट पर दिखने वाली महात्मा गांधी की तस्वीर

कहां खींची गई नोट पर दिखने वाली महात्मा गांधी की तस्वीर

मीडियावाला.इन। दरअसल, साल 1949 तक किंग जॉर्ज की फोटो वाले नोट चलन में थे। इसके बाद किंग जॉर्ज की तस्वीर वाले नोटों को बंदकर अशोक स्तंभ वाले नोट जारी किए गए। यह सिलसिला कई सालों तक चला। साल 1996 में...

स्वर कोकिला लता मंगेशकर का शहीदों को समर्पित कालजयी गीत आज फिर प्रासंगिक

स्वर कोकिला लता मंगेशकर का शहीदों को समर्पित कालजयी गीत आज फिर प्रासंगिक

मीडियावाला.इन। भोपाल : स्वर कोकिला लता मंगेशकर का  शहीदों को समर्पित कालजयी गीत आज फिर प्रासंगिक हो गया है।यह वही गीत है जिसे सुनकर तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की आंखों में आंसू आ गए थे। हम इस गीत के वीडियो...

भैय्यू महाराज की सम्पत्ति एक हज़ार करोड़ की

भैय्यू महाराज की सम्पत्ति एक हज़ार करोड़ की

मीडियावाला.इन। इंदौर। भय्यूजी महाराज ने सुसाइड करने से पहले सुसाइड नोट में आश्रम, प्रॉपर्टी और वित्‍तीय शक्‍तियों की सारी जिम्‍मेदारी अपने वफादार सेवादार विनायक को दी लेकिन अभी पुलिस जांच चल रही है। जांच के बाद ही ये निर्णय...

भय्यू महाराज के दो या तीन सुसाइड नोट, दोनों डायरी और पेन अलग अलग, रहस्य गहराया

भय्यू महाराज के दो या तीन सुसाइड नोट, दोनों डायरी और पेन अलग अलग, रहस्य गहराया

मीडियावाला.इन। क्या भय्यू महाराज ने दो डायरी में दो तीन सुसाइट नोट लिखे अलग-अलग ? दोनों डायरियों की बाइन्डिंग ध्यान से देखिए। भय्यू महाराज की जिस डायरी का पन्ना पहले आया था वह वर्टिकल (Vertical) आकार का ...

यह है भय्यू महाराज का सुसाइड नोट 

यह है भय्यू महाराज का सुसाइड नोट 

 कुहू देना चाहती थी सरप्राइज़    माधवी और भय्यूजी की बेटी कुहू  भी थी जो पुणे में रहती है और ये बताया जाता है कि वो 12 जून को ही (माने घटना के दिन) अपने पिता को...

40 वर्षो बाद मिले पुराने साथी

40 वर्षो बाद मिले पुराने साथी

मीडियावाला.इन। माहेश्वरी स्कूल के 1977 बैच के छात्रो का मिलन। इंदौर। ठीक 40 साल पहले एक साथ पढ़ने वाले साथी आगे की पढ़ाई,रोजगार ,व्यवसाय, नौकरी के कारण धीरे -धीरे बिछुड़ते गए।कुछ लगातार संपर्क में रहे।जिंदगी की इस दौड़...

यादों के सफ़हे

यादों के सफ़हे

मीडियावाला.इन। कुछ दिनों से  धूम है 11/11/11 की जहाँ देखो नए नए तरीकों से इसकी व्याख्या हो रही है कुछ अपने बच्चो का जन्म इसी दिन चाहते हैं ये सोच कर की ये बड़ा अद्भुत संयोग है | कुछ...

नौकरशाह जिन्होंने मंत्री को दिखाया आईना...

नौकरशाह जिन्होंने मंत्री को दिखाया आईना...

मीडियावाला.इन। अस्सी के दशक में एमएन बुच ने एक फ़ाइल तत्कालीन वन मंत्री को मार्क की. उन्होंने लिखा-‘वनमंत्री’. वे मंत्रीजी के सामने ही बैठे थे. मंत्री ने उन्हें फ़ाइल वापस करते हुए कहा- ‘माननीय वनमंत्री’ लिखिए....