Wednesday, June 19, 2019
अब आ गया बायोपिक फिल्मों का ट्रेंड!

अब आ गया बायोपिक फिल्मों का ट्रेंड!

मीडियावाला.इन।

फिल्मी दुनिया का अपना चलन है। यहाँ जब भी कोई आइडिया हिट होता है, सभी फिल्म बनाने वाले वही चाल चलने लगते हैं। वास्तव में तो ये भेड़ चाल है, लेकिन हिट आइडिये को कोई छोड़ना नहीं चाहता। ख़ास बात ये कि ये चलन हर दौर में बदलता है! जब देश में फ़िल्में बनना शुरू हुई, तो देशप्रेम और आजादी अलख जगाने वाले विषय को भुनाया गया। लम्बे समय तक तक ऐसी फिल्मों का दौर चला! आजादी के बाद जंग की कहानियों पर फ़िल्में बनी! साठ और सत्तर के दशक में प्यार-मोहब्बत की कहानियों को फिल्माया गया! ऐसे ही अभी बायोपिक का जमाना है। फिल्मकार नई-नई हस्तियों को ढूंढ ढूंढकर उनकी जिंदगी पर फ़िल्में बनाने में व्यस्त हैं। अभी करीब 25 से ज्यादा ऐसी फिल्मों पर काम हो रहा है, जो किसी न किसी की बायोपिक है! इस साल करीब 15 बायोपिक परदे पर उतरने वाली हैं। हाल ही में झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई पर आधारित 'मणिकर्णिका' और शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे पर बनी फिल्म 'ठाकरे' के साथ ही सारागढ़ी युद्ध पर बनी 'केसरी' रिलीज हुई है। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर 'द एक्सीडेंटल प्राइममिनिस्टर' रिलीज हुई थी। 2019 के पहले महीने में ही तीन बायोपिक रिलीज हुई! 

   पिछले साल (2018) 25 जनवरी को संजय लीला भंसाली की कथित विवादस्पद फिल्म 'पद्मावत' आई थी। वह भी एक बायोपिक फिल्म ही थी, जो अजमेर की रानी पद्मावती से जुडी एक सच्ची घटना पर आधारित थी। 'पद्मावत' की तरह 'मणिकर्णिका' भी झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई की जिंदगी पर बनी फिल्म है। इस साल बनने वाली अधिकांश बायोपिक फिल्मों में महिलाओं की जिंदगी पर ज्यादा फोकस है। 'मणिकर्णिका' तो परदे पर उतर आई, पर 'लक्ष्मी' नाम की एक और महिला प्रधान फिल्म आने वाली है। 'छपाक' नाम की ये फिल्म लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी की कहानी है, जिस पर एसिड अटैक हुआ था। लक्ष्मी ने अद्धभुत साहस का परिचय देते हुए इन हालातों में भी जीना सीख लिया। दीपिका पादुकोण इसमें लक्ष्मी की भूमिका निभाने के साथ इस फिल्म का निर्माण भी खुद कर रही हैं। 'शकीला' फिल्म भी बन रही है। ये फिल्म केरल की एक्ट्रेस शकीला की कहानी है, जिसकी सेमी-पोर्न फिल्मों ने 90 के दशक में दक्षिण की फिल्म इंडस्ट्री में धूम मचा दी थी। 

  बैडमिंटन की अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी सायना नेहवाल पर बन रही बायोपिक में सायना की भूमिका श्रद्धा कपूर निभाएगी! जाह्नवी कपूर भी वायु सेना की पहली महिला पायलट गुंजन सक्सेना की ज़िंदगी पर बन रही फिल्म में गुंजन का रोल करेंगी। गुंजन ने कारगिल युद्ध में जो योगदान दिया, उससे उन्हें 'कारगिल गर्ल' भी कहा जाने लगा। एक फिल्म महिला साइकिलिस्ट देबोराह हेरोल्ड पर बन रही है, जो देश की साइकल स्टार मानी जाती हैं। फिल्म में देबोराह बनने का मौका जैकलीन फर्नान्डीज को मिल रहा है।

   सबसे बड़ी बायोपिक फिल्म 'गांधी' पर 1982 में बनी थी। इसे ब्रिटिश फिल्मकार रिचर्ड एटनबरो ने बनाया था। इस फिल्म को 8 ऑस्कर अवार्ड भी जीते थे। इसके बाद बाबा आंबेडकर, सरदार पटेल और सुभाषचन्द्र बोस समेत कई हस्तियों पर बायोपिक बनीं। लेकिन, फिल्मकारों में बायोपिक बनाने का जुनून मिल्खा सिंह पर बनी 'भाग मिल्खा भाग' के बाद ही दिखाई दिया। इसके बाद खिलाडियों पर मेरी कॉम, एमएस धोनी, अज़हर, बुधिया सिंह, सूरमा और 'दंगल' फिल्में बनी। अगले साल रणवीर सिंह भी क्रिकेटर कपिल देव की बायोपिक '83' में दिखाई देंगे। निर्देशक कबीर खान ने इस फ़िल्म का नाम '83' इसलिए रखा, क्योंकि 1983 में ही कपिल देव की कप्तानी में भारत ने विश्व कप जीता था। इसके बाद नीरजा, वीरप्पन, सरबजीत, अन्ना, मंटो के बाद संजय दत्त पर 'संजू' भी बन गई। लेकिन, सभी बायोपिक सफल नहीं हुई! क्रिकेटर अजहरुद्दीन पर बनी बॉयोपिक बुरी तरह फ्लॉप हुई! जबकि, 'संजू' ने तो 300 करोड़ से ज्यादा का बिजनेस किया। 

  इसी साल रितिक रोशन की फिल्म 'सुपर 30' आने वाली है, जो बिहार के जाने-माने टीचर आनंद कुमार की बायोपिक है। अजय देवगन भी ऐतिहासिक योद्धा 'तानाजी : द अनसंग वार्रियर' बना रहे हैं। यह फिल्म मराठा साम्राज्य के सेना नायक तानाजी मालुसरे की कहानी है। अमिताभ बच्चन फिल्म 'झुण्ड' भी नागपुर के खेल शिक्षक विजय बरसे पर आधारित है, जिसने स्लम बस्ती के बच्चों के लिए 2001 में 'स्लम सॉकर' की स्थापना की थी। उनके इस काम ने बच्चों का ध्यान फुटबॉल खेलने में इतना लगा कि पूरे महाराष्ट्र में इनकी टीम का नाम हो गया!  इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर भी फिल्म बन गई, लेकिन उसकी रिलीज को लेकर उलझने हैं। सुरेश ओबेरॉय ने विवेक ओबेरॉय को नरेंद्र मोदी की भूमिका में लेकर इस फिल्म का काम किया है। यानी बायोपिक से शुरू हुआ ये साल लगता है बायोपिक पर ही ख़त्म होगा!  

--------------------------------------------

 

0 comments      

Add Comment