Monday, October 22, 2018
अमेरिका की भारत को धमकी, ईरान से तेल खरीदा तो देख लेंगे

अमेरिका की भारत को धमकी, ईरान से तेल खरीदा तो देख लेंगे

मीडियावाला.इन। वॉशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत समेत उन सभी देशों को चेताया है जो देश चार नवंबर से ईरान से तेल खरीदना बिलकुल बंद करने की उसकी चेतावनी को नजरअंदाज करेंगे, उसे वह देख लेगा। अमेरिका ने ईरान के खिलाफ चार नवंबर से शुरू हो रहे प्रतिबंधों को नहीं मानने वाले देशों को चेतावनी दी है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने ऐसे देशों को दो टूक कहा कि अगर प्रतिबंध लागू होने के दिन तक कोई देश ईरान से तेल आयात को शून्य नहीं करेगा तो वॉशिंगटन ऐसे देशों को "देख लेगा"।

भारत ने दो दिन पहले घोषणा की थी कि उसकी दो कंपनियों ने ईरान से तेल आयात का ऑर्डर लिया है।ट्रंप ने इस साल मई में ईरान से अमेरिका के परमाणु संबंध तोड़ने की घोषणा की थी। दोनों देशों के बीच 2015 में परमाणु समझौता हुआ था। ट्रंप से जब भारत और चीन द्वारा ईरान से तेल खरीदने पर सवाल पूछा गया तब ट्रंप ने कहा, "हम उनको देख लेंगे।"


पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने सोमवार को कहा था कि देश की दो तेल रिफाइनरी ने नवंबर में ईरान से तेल आयात का ऑर्डर लिया है। प्रधान ने कहा था कि भारत की अपनी ऊर्जा जरूरतों को पूरी करने के लिए ऐसा करना पड़ा है। ट्रंप ने ईरान के साथ समझौता खत्म करने की घोषणा करने के वक्त कहा था कि यह डील अपने मूल उद्देश्य, ईरान को परमाणु बम हासिल करने से रोकने में सफल नहीं हो पाया था।


ट्रंप ने तब कहा था कि इस समझौते ने ईरान को बैलिस्टिक मिसाइल बनाने से भी नहीं रोक पाया था।ईरान को नया समझौता मानने को बाध्य करने के लिए ट्रंप ने ईरान पर कई और प्रतिबंध लागू कर दिए थे। इन प्रतिबंधों के कारण अमेरिकी डॉलर में ईरान सरकार की खरीदारी, गोल्ड में ईरान द्वारा किए जाना वाला ट्रेड और इसके ऑटोमोटिव सेक्टर पर असर पड़ा।


चार नवंबर को ईरान पर अमेरिका का दूसरे कड़े प्रतिबंध लागू होंगे। इससे ईरान के तेल सेक्टर और शिपिंग सेक्टर तथा उसके सेंट्रल बैंक को काफी नुकसान होगा। अमेरिका ने ईरान से तेल खरीदने वाले देशों को चार नवंबर तक आयात जीरो करने को कहा था।

0 comments      

Add Comment