Wednesday, February 20, 2019
चीटियां भगवान का रूप बनकर सामने आईं और एक लड़की को  दुष्कर्म का शिकार होने से बचा लिया।

चीटियां भगवान का रूप बनकर सामने आईं और एक लड़की को दुष्कर्म का शिकार होने से बचा लिया।

मीडियावाला.इन।जकार्ता। कहते हैं भगवान कई बार मदद के लिए अपने फरिश्तों को भेज देता है। इंडोनेशिया की 16 साल की लड़की के लिए चीटियां भगवान का रूप बनकर सामने आईं और उसे दुष्कर्म का शिकार होने से बचा लिया।

बताया जा रहा है कि 29 वर्षीय टोनी इरावन ने 16 वर्षीय लड़की से संपर्क किया और उसे साउथ सुलावेसी प्रांत के सुकामाजू में ड्राइव के लिए चलने को कहा। वहां पहुंच कर टोनी ने लड़की के साथ सेक्स करने की बात कही। मगर, लड़की ने इंकार कर दिया। इसके बाद टोनी ने एक गांव के पास गाड़ी रोकी।

लड़की ने कार से उतरकर भागना शुरू कर दिया। मगर, टोनी उसे पकड़कर पास की झाड़ियों में ले गया। वहां उसने लड़की को जमीन पर पटक दिया। वह उस लड़की के साथ दुष्कर्म करने वाला था, तभी काली चींटियों ने उस पर हमला कर दिया।

इस अफरा-तफरी में लड़की ने किसी तरह से खुद को टोनी के चंगुल से छुड़ा लिया और पास में बने घर तक भागने में कामयाब हो गई। वहां जाकर उसने पुलिस को फोन किया।

सुकमाजू पुलिस प्रमुख इप्टू अलिमिन ने स्थानीय मीडिया को बताया कि इरावन को गिरफ्तार कर लिया गया है और फिलहाल मामले की जांच जारी है। अगर उसे दोषी पाया जाता है, तो उसे तीन से 15 साल की कैद की सजा हो सकती है।[नईदुनिया ]

 

0 comments      

Add Comment