Monday, September 23, 2019
घरवाले खिलाफ थे फिर भी वकालत ले आई थी दोनों को करीब, पढ़ें सुषमा और स्‍वराज की लव स्‍टोरी

घरवाले खिलाफ थे फिर भी वकालत ले आई थी दोनों को करीब, पढ़ें सुषमा और स्‍वराज की लव स्‍टोरी

मीडियावाला.इन।

सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल के परिवार वाले इस शादी से खुश नहीं थे, लेकिन दोनों ने अपने घरवालों को मनाया और 13 जुलाई, 1975 में दोनों ने शादी कर ली.

पूर्व केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज के निधन से देश में शोक की लहर है. सुषमा स्वराज की दरियादिली और जिंदादिली के चर्चे दुनियाभर में थे. सुषमा स्वराज बहुत कम उम्र की थीं, जब उन्होंने राजनीति में कदम रखा था. उनके शानदार और बेबाक अंदाज का हर कोई कायल था. सुषमा स्वराज जितना राजनीतिक गतिविधियों को लेकर सुर्खियों में बनी रहती थीं, उतना ही वे सोशल मीडिया पर अपने पति स्वराज कौशल के साथ मस्ती भरे रिएक्शन्स को लेकर भी रहती थीं. देश में जब इमरजेंसी लगी थी तब उन्होंने स्वराज कौशल के साथ लव मैरिज की थी. यह वो दौर था जब लड़कियों को घर में पर्दे के अंदर छिपा कर रखा जाता था.

वहीं दूसरी ओर सुषमा स्वराज उन महिलाओं में से थीं, जिन्होंने न केवल वकालत की पढ़ाई की बल्कि राजनीति में भी हाथ आजमाया. सुषमा स्वराज ने उन बेड़ियों को तोड़ा जहां पर लड़कियों को अपनी मर्जी से शादी करने की इजाजत नहीं थी.

सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल कॉलेज के दिनों में एक दूसरे के करीब आए थे. दोनों पंजाब यूनिवर्सिटी चंडीगढ़ के लॉ डिपार्टमेंट में पढ़ाई करते थे.

कॉलेज में दोनों की नजरें एक दूसरे से टकराईं और फिर मुलाकातों का दौर शुरू हुआ और फिर वे अच्छे दोस्त बन गए.

चंडीगढ़ में पढ़ाई पूरी करने के बाद दोनों दिल्ली लॉ की प्रेक्टिस करने दिल्ली आ गए. यहां दोनों एक दूसरे के ज्यादा करीब आए और दोस्ती प्यार में बदल गई. दोनों अब एक दूसरे से इतना प्यार करने लगे थे कि उन्होंने शादी करने का फैसला कर लिया था, लेकिन उनका यह फैसला उनके घर वालों को मंजूर न था.

सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल के परिवार वाले इस शादी से खुश नहीं थे, लेकिन दोनों ने अपने घरवालों को मनाया और 13 जुलाई, 1975 में दोनों ने शादी कर ली.

सुषमा स्वराज और स्वराज कौशल एक दूसरे से कितना प्यार करते हैं, ये तो हम उनके सोशल मीडिया रिएक्शन्स में देख ही चुके हैं. एक बार की बात है किसी यूजर ने स्वराज कौशल से पूछ लिया था कि आप सुषमा स्वराज जी को ट्विटर फॉलो नहीं करते, तो इसके जवाब में कौशल ने कहा था कि "क्योंकि मैं लीबिया या यमन में फंसा हुआ नहीं हूं."

सुषमा स्वराज हमेशा पति स्वराज कौशल के लिए करवाचौथ का व्रत भी रखती थीं. करवाचौथ की उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई थीं.
 

सुषमा स्वराज के लोकसभा 2019 का चुनाव न लड़ने की सबसे ज्यादा खुशी स्वराज कौशल को हुई थी और उन्होंने इसके लिए अपनी पत्नी को धन्यवाद भी कहा था. स्वराज कौशल ने लिखा था, "मैडम, अब और चुनाव नहीं लड़ने के आपके फैसले के लिए धन्यवाद. मिल्खा सिंह को भी रुकना पड़ा था. यह दौड़ 1977 से शुरू हुई थी, जिसे अब 41 साल हो गए हैं.

आप अब तक 11 चुनाव लड़ चुकी हैं. सिर्फ दो बार 1991 और 2004 में आप चुनाव नहीं लड़ी थीं, क्योंकि पार्टी ने आपको चुनावी मैदान में नहीं उतरने दिया था. मैं पिछले 46 सालों से आपके पीछे भाग रहा हूं. अब मैं 19 साल का नहीं हूं. प्लीज, अब मैं भी थक गया हूं."

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment