Tuesday, August 20, 2019
घरेलू के लिए 3 तो इंटरनेशनल उड़ान के लिए 4 घंटे पहले पहुंचना होगा एयरपोर्ट

घरेलू के लिए 3 तो इंटरनेशनल उड़ान के लिए 4 घंटे पहले पहुंचना होगा एयरपोर्ट

मीडियावाला.इन।

इंदौर.नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो (BCAS) ने सभी एयरलाइंस और हवाई अड्डों के प्रबंधन को कहा है कि अब घरेलू उड़ानों के लिए यात्रियों को 3 घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा. जो अंतरराष्ट्रीय उड़ान लेने वाले हैं उन्हें 4 घंटे पहले हवाई अड्डे पर पहुंच जाना होगा. स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा के मद्देनजर ये नियम 10 अगस्त से 30 अगस्त तक लागू रहेगा.

 

जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटने के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है. आतंकी हमलों की आशंका में देश के सभी हवाई अड्डों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो (BCAS) ने सभी एयरलाइंस और हवाई अड्डों के प्रबंधन को कहा है कि अब घरेलू उड़ानों के लिए यात्रियों को 3 घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचना होगा. जो अंतरराष्ट्रीय उड़ान लेने वाले हैं उन्हें 4 घंटे पहले हवाई अड्डे पर पहुंच जाना होगा. स्वतंत्रता दिवस की सुरक्षा के मद्देनजर ये नियम 10 अगस्त से 30 अगस्त तक लागू रहेगा. जबकि, सामान्य स्थिति में घरेलू उड़ानों के लिए 2 घंटे और अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से 3 घंटे पहले एयरपोर्ट जाना होता था.

 

एयरपोर्ट की परिधि में आने वाली सभी गाड़ियों की जांच होगी. चाहे वह पार्किंग में हो, टर्मिनल के बाहर हों या पिक-ड्रॉप सर्विस में लगी हों. इसी तरह सभी यात्रियों की एयरपोर्ट में घुसने से लेकर विमान में चढ़ने तक बेहद गहन जांच होगी. इतना नहीं, 30 अगस्त तक एयरपोर्ट पर विजिटर पास नहीं मिलेंगे. ब्यूरो ने विजिटर्स की एंट्री बंद कर दी है.

 

सिर्फ यात्रियों की ही जांच नहीं होगी, बल्कि पायलट, क्रू स्टाफ, ग्राउंड स्टाफ समेत एयरपोर्ट के सभी कर्मचारियों की जांच की जाएगी. साथ ही यह भी देखा जाएगा कि इनमें से किसी ने शराब तो नहीं पी है. इन सबका ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट होगा. जबकि, अभी तक सिर्फ पायलट और केबिन क्रू ही इस प्रक्रिया से गुजरते थे.ब्यूरो ने कहा है कि जो भी ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट में शराब पिया हुआ पकड़ा जाएगा, उसके खिलाफ तुरंत कड़ी कार्रवाई की जाएगी. अगर वह पायलट हुआ तो उसका लाइसेंस भी रद्द हो सकता है. जो कर्मचारी बगैर लाइसेंस काम करते हैं उन्हें अस्थायी या स्थायी रूप से नौकरी से निकाला जा सकता है.

 

नागरिक उड्डयन सुरक्षा ब्यूरो ने हवाई अड्डों को यह भी निर्देश दिया है कि एयरपोर्ट पर ड्रोन, मॉडल और माइक्रोलाइट एयरक्राफ्ट पर निगरानी रखें. सभी एयरपोर्ट क्विक रिएक्शन टीम को तैनात रखें. इसके अलावा दिल्ली एयरपोर्ट के पार्किंग एरिया के लिए विशेष निर्देश दिए गए हैं. यह सारे नियम तब तक लागू रहेंगे, जब तक ब्यूरो अगला आदेश न दे.

0 comments      

Add Comment