Monday, October 14, 2019
सज्जन को सजा के बाद कमलनाथ को सीएम बनाने पर उठे सवाल

सज्जन को सजा के बाद कमलनाथ को सीएम बनाने पर उठे सवाल

मीडियावाला.इन।  भोपाल/ नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आज मध्य प्रदेश के सीएम पद की शपथ लेने वाले हैं। इससे ठीक पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने सिख विरोधी दंगों में कांग्रेस नेता सज्जन कुमार को उम्रकैद की सजा सुनाई। इसके बाद कमलनाथ भी इन दंगों के आरोप में वापस घिर गए हैं। 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिख दंगे हुए थे, इन्हें भड़काने में सज्जन कुमार सहित कमलनाथ और सज्जन कुमार भी शामिल होने के आरोप थे। दंगों से पीड़ित लोगों ने कांग्रेस द्वारा कमलनाथ को सीएम बनाए जाने पर सवाल उठाए हैं।

कमलनाथ पर आरोप थे कि सिख दंगों के दौरान गुरुद्वारा रकाब गंज की घेराबंदी के दौरान वे वहां दो घंटे तक मौजूद थे और उन्होंने भीड़ का संचालन किया। कमलनाथ ने इस मामले में खुद को निर्दोष बताया था, उनका कहना था कि वे वहां पार्टी के कहने पर भीड़ को गुरुद्वारे पर हमला करने से रोकने के लिए गए थे। सज्जन सिंह को उम्रकैद की सजा मिलने के बाद भाजपा को बैठे-बैठाए कमलनाथ के खिलाफ एक मुद्दा मिल गया है। कांग्रेस द्वारा मप्र के सीएम के लिए कमलनाथ के नाम का ऐलान होने के बाद चंडीगढ़ में शिरोमणी अकाली दल, शिरोमणी गुरुद्वारा प्रबंधक समिति और आप के विधायक सुखपाल खैरा ने इसका विरोध किया था।


 

0 comments      

Add Comment