Monday, September 23, 2019
मथुरा में बोले पीएम मोदीः 'ॐ' और 'गाय' शब्द सुनते ही कुछ लोगों के बाल हो जाते खड़े

मथुरा में बोले पीएम मोदीः 'ॐ' और 'गाय' शब्द सुनते ही कुछ लोगों के बाल हो जाते खड़े

मीडियावाला.इन।

मथुरा: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि इस देश का दुर्भाग्य है कि कुछ लोगों के कान पर ॐ और गाय शब्द पड़ता है तो उनके बाल खड़े हो जाते हैं. उनको लगता है कि देश 16वीं-17 वीं सदी में चला गया है. ऐसे लोगों ने ही देश को बर्बाद कर रखा है. मथुरा के वेटनरी विश्वविद्यालय में पशु आरोग्य मेले की शुरुआत करने के बाद पीएम ने जनता को संबोधित करते हुए यह बात कही.

उन्होंने कहा कि ऐसा कहने वालों ने देश को बर्बाद करने में कुछ नहीं छोड़ा है. हमारे भारत में पशुधन काफी बड़ी बात है, इसके बिना अर्थव्यवस्था, गांव कुछ नहीं चल सकता है. इसके अलावा सिंगल यूज प्लास्टिक के इस्तेमाल को खत्म करने की मुहिम की शुरुआत करते हुए पीए मोदी ने बुधवार को मथुरा में बड़ा ऐलान किया है.

पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि वह 2 अक्टूबर तक अपने घरों, दफ्तरों को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त कर लें. यहां प्रधानमंत्री ने बिना नाम लिए पाकिस्तान पर भी निशाना साधा.पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद आज दुनिया के लिए मुसीबत बन गया है, इसकी जड़ें हमारे पड़ोस में पल रही हैं. आतंकवाद के खिलाफ पूरी दुनिया को एकजुट होने की जरूरत है. भारत इस चुनौती से निपटने में सक्षम है, हमने ये करके दिखाया है और आगे भी करेंगे. हमारी सरकार ने आतंकियों के खिलाफ कानून को कड़ा किया है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज के कार्यक्रम को प्लास्टिक के कचरे से मुक्ति के लिए शुरू किया गया है, प्लास्टिक से पशुओं, नदियों, झील, तालाब में रहने वाले प्राणियों का नुकसान होता है. ऐसे में हमें सिंगल यूज प्लास्टिक से छुटकारा पाना होगा. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि 2 अक्टूबर तक सभी लोग अपने घर, दफ्तर, आसपास की जगह को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करें.

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में फैलते बुखार के खिलाफ लड़ाई लड़ी, सड़क से संसद तक उन्होंने लोगों को जागरूक किया. योगी ने संसद के हर सत्र में इसकी आवाज उठाई. योगी जी की सरकार बनी तो कुछ ग्रुपों ने उन्हीं के माथे पर आरोप लगा दिया. जिस मुद्दे को लेकर वो 30-40 साल से काम कर रह थे, अब उन्हें सफलता मिली है.

इससे पहले पीएम मोदी ने मथुरा के वेटनरी विश्वविद्यालय में पशुओं में होने वाली अलग-अलग बीमारियों के टीकाकरण कार्यक्रम की भी शुरुआत की. देश भर के लिए 40 मोबाइल पशु चिकित्सा वाहनों को झंडी दिखाकर रवाना किया.कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन की शुरुआत ब्रज भाषा में की और लोकसभा चुनाव में समर्थन के लिए लोगों का धन्यवाद किया.

पीएम ने कहा कि भारत को भगवान कृष्ण से पर्यावरण को बचाने की प्रेरणा मिलती है. पीएम ने कहा कि दूध, दही, माखन, धेनु, प्रकृति, पर्यावरण के बिना बालगोपाल की कल्पना नहीं हो सकती है.

Source : "प्रभात खबर" 

0 comments      

Add Comment