Wednesday, October 16, 2019
इस बार अरुण जेटली नहीं होंगे वित्त मंत्री, ये है वजह

इस बार अरुण जेटली नहीं होंगे वित्त मंत्री, ये है वजह

मीडियावाला.इन। नई दिल्ली. चुनाव खत्म हो चुके हैं. साथ ही बीजेपी बहुमत के साथ जीतकर एक बार फिर सरकार बनाने के लिए तैयार है.ऐसे में खबरें आ रही है कि नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में अरुण जेटली दोबारा वित्त मंत्रालय का कार्यभार नहीं लेंगे.

अरुण जेटली दोबारा नहीं बनेगें वित्त मंत्री-

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस बार अरुण जेटली ने वित्त मंत्रालय के पद को संभालने के मना कर दिया है.उन्होंने इस पद को एक बार फिर से संभालने के लिए कोई दिलचस्पी नहीं दिखाएं है.

ये है वित्त मंत्री नहीं बनने की वजह-

अरुण जेटली के वित्त मंत्रालय न लेने की एक वजह उनकी सेहत को भी माना जा रहा है.दरअसल पिछले कुछ महीनों से लगातार उनकी सेहत नीचे गिरती जा रही है. इतना ही नहीं बीते कुछ महीनों से लगातार बिमार रहने के कारण उनकी हेल्थ में काफी गिरावट आई है.

उनकी ताबियत खरब होने के कारण ही वो जेटली शुक्रवार को हुई मोदी सरकार के पहले कार्यकाल की आखिरी कैबिनेट मीटिंग में भी शामिल नहीं हो सके थे. यहीं कारण हो कि उनकी सेहत ज्यादा बिगड़ने की अटकलें तेज हो गई हैं.

ताबियत खराब होने के कारण ही अरुण जेटली जेटली गुरुवार रात को बीजेपी मुख्यालय में हुए समारोह में शिरकत करने नहीं जा पाए थे.इतना ही नहीं पिछले दो सप्ताह से वह सार्वजनिक तौर पर कहीं दिखाई नहीं पड़े हैं, हालांकि वह ब्लॉग लिख रहे हैं और सोशल मीडिया पर मैसेज भी डालते रहे हैं.

इस बार संभालेगें ये पद-

मीडिया रिपोर्टस की माने तो इस बार ये बात बिल्कुल साफ है कि वो वित्त मंत्री का पद नहीं संभालने वाले हैं. क्योंकि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है.मीडिया रिपोर्टस की मानें तो अरुण जेटली इस बार कोई कम तनाव वाला मंत्रालय संभालेगें.

मीडिया में चल रही इन अटकलों पर अभी तक जेटली या उनके किसी करीबी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.साथ ही बीजेपी ने भी इस पर अभी कुछ कहने से इनकार कर दिया है. बता दें कि बीजेपी में नरेंद्र मोदी और अमित शाह के बाद अरुण जेटली ही तीसरे सबसे दिग्गज मानें जाते हैं.

 

source indias news

0 comments      

Add Comment