Thursday, October 24, 2019
पीएम मोदी ने कहा,'कट्टरपंथियों और विपक्षी दलों की सभी बधाओं तथा विरोध के बावजूद सरकार तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है

पीएम मोदी ने कहा,'कट्टरपंथियों और विपक्षी दलों की सभी बधाओं तथा विरोध के बावजूद सरकार तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है

मीडियावाला.इन। गांधीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि सरकार 'कट्टरपंथियों' और विपक्षी दलों के विरोध तथा 'बाधाओं' का सामना करने के बावजूद तीन तलाक पर एक कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है. बीजेपी महिला मोर्चा के यहां पांचवें राष्ट्रीय सम्मेलन के अवसर पर पीएम मोदी ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि महिलाओं का कल्याण पूर्ववर्ती सरकारों के लिए कभी प्राथमिकता नहीं रहा.

उन्होंने कहा,'कट्टरपंथियों और विपक्षी दलों की सभी बधाओं तथा विरोध के बावजूद सरकार तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है.' लोकसभा में 27 दिसंबर को तीन तलाक विधेयक पर चर्चा हो सकती है.

पीएम मोदी ने कहा,'हम प्रतिबद्ध हैं ताकि मुस्लिम महिलाओं को जिंदगी के एक बड़े खतरे से मुक्ति मिल सकें. हज पर जाने के वास्ते मुस्लिम महिलाओं के लिए हमने उनके साथ पुरुष व्यक्ति के साथ जाने की शर्त हटा दी.'

प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की महिलाओं ने बीजेपी को 'अन्य सभी विकल्पों को तलाशने के बाद बड़ी उम्मीद और विश्वास के साथ' मौका दिया है. उन्होंने कहा,'पिछले छह से सात दशकों में विभिन्न विकल्पों की तलाश करने के बाद देश में हमारी बहनों और बेटियों ने बीजेपी पर भरोसा जताया. पूर्ववर्ती सरकारों ने महिलाओं को मूल सुविधाएं तक उपलब्ध कराने में कुछ नहीं किया और उन्होंने बस वादे किए.'

उन्होंने कहा कि जिन्होंने 60 से 70 वर्षों तक भारत पर राज किया वे महिलाओं के कल्याण के लिए मूल सुविधाएं तक उपलब्ध कराने में विफल रहे. पूर्ववर्ती सरकारें सामाजिक सुधार लाने और रवैया बदलने के लिए बस सही समय का इंतजार करती रहीं.

0 comments      

Add Comment