Monday, September 23, 2019
फाइटर पायलट भावना कंठ ने रचा इतिहास, युद्ध की बाधा पार करने वाली पहली महिला

फाइटर पायलट भावना कंठ ने रचा इतिहास, युद्ध की बाधा पार करने वाली पहली महिला

मीडियावाला.इन।फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ ने युद्ध मिशन में शामिल होने की योग्यता हासिल करने वाली पहली महिला फाइटर पायलट बन कर इतिहास रच दिया है।वायु सेना के अधिकारियों ने कहा कि भावना कंठ ने दिन में लड़ाकू विमान मिग-21 को उड़ाकर इस मिशन को पूरा किया। वायु सेना के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन अनुपम बनर्जी ने कहा कि भावना ने दिन में लड़ाकू विमान में उड़ान भर कर मिशन में कामयाबी हासिल करने वाली पहली महिला फाइटर पायलट बन गई हैं। 

भावना भारतीय वायु सेना के पहले बैच की महिला फाइटर पायलट हैं। उनके साथ दो अन्य महिला पायलट अवनी चतुर्वेदी और मोहना सिंह को 2016 में फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में चुना गया था। एक साल से कम समय में ही सरकार ने प्रयोग के तौर पर महिला पायलटों के लिए युद्ध मिशन में शामिल होने का रास्ता खोलने का निर्णय लिया था।

बिहार की बेटी भावना इस वक्त बीकानेर स्थित नल बेस पर तैनात हैं। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि एक बार वह रात के मिशन का प्रशिक्षण पूरा कर लें, तो उन्हें रात्रि अभियान में भी जाने की इजाजत दी जाएगी। भावना फाइटर स्क्वॉड्रन में नवंबर 2017 में शामिल हुई थीं और पहली बार अकेले मिग-21 को पिछले साल मार्च में उड़ाया था। बनर्जी ने कहा कि उनकी कड़ी मेहनत और लगन के कारण वह इस मुकाम को हासिल करने वाली भारतीय वायु सेना की पहली महिला अधिकारी बनी हैं।अमर उजाला  से 

 

0 comments      

Add Comment