Thursday, October 24, 2019
बस कुछ देर में लाखों लोग हो जाएंगे बेघर, असमंजस में राज्य

बस कुछ देर में लाखों लोग हो जाएंगे बेघर, असमंजस में राज्य

मीडियावाला.इन।

गुवाहाटी

असम की बहुचर्चित राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) की फाइनल लिस्ट आज सुबह करीब 10 बजे तक आ जाएगी। बड़ी संख्या में लोग लिस्ट में नाम होने या न होने को लेकर आशंकित हैं। उन्हें अपने भविष्य की चिंता सता रही है। दरअसल, जब एनआरसी का मसौदा प्रकाशित हुआ था, तब 40.7 लाख लोगों को इससे बाहर रखा गया था, जिस पर काफी विवाद हुआ था। राजनीतिक दलों द्वारा गलत तरीके से लोगों को एनआरसी में शामिल करने या निकाले जाने के आरोपों के बीच अब आज इसे सार्वजनिक किया जाएगा।

संवेदनशील हुआ प्रशासन 

उधर, राज्य प्रशासन ने गुवाहाटी सहित संवेदनशील इलाकों में निषेधाज्ञा लागू कर दी है। अधिकारियों ने बताया कि कार्यालयों में सामान्य कामकाज, आमजनों और यातायात की सामान्य आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए ऐसा किया गया है। राज्य सरकार ने लोगों को आश्वस्त भी किया है कि जिन लोगों के नाम शामिल नहीं होंगे, उनके पास आगे विकल्प रहेगा।

बीटीएडी, चाय समुदाय को नहीं है डर 

वहीं दूसरी ओर ग्वालपाड़ा जिले के सोलमारी कल्याणपुर गांव के गणेश राय स्थानीय राजबांगशी समुदाय के हैं लेकिन उन्हें आशंका है कि उनका नाम अंतिम एनआरसी में शामिल नहीं होगा क्योंकि उन्हें डी-वोटर (संदेहास्पद) घोषित किया गया है। उन्होंने 2016 के विधानसभा चुनावों में वोट दिया था और उनकी बदली स्थिति के बारे में कभी भी नोटिस नहीं मिला जो एनआरसी सेवा केंद्र पर पूछताछ के दौरान उन्हें पता चला। इस बीच बोडोलैंड स्वायत्तशासी क्षेत्र जिले (बीटीएडी) के कई बोडो और चाय आदिवासी चिंतित नहीं हैं। उनका कहना है कि वे असम के स्थानीय निवासी हैं और कोई भी उन्हें उनकी जमीन से नहीं हटा सकता।

Dailyhunt

 

0 comments      

Add Comment