Wednesday, September 18, 2019
छतरपुर कलेक्टर को हटाने पांचों विधायकों ने सीएम को लिखा पत्र, समस्याओं का समाधान नहीं करने का आरोप

छतरपुर कलेक्टर को हटाने पांचों विधायकों ने सीएम को लिखा पत्र, समस्याओं का समाधान नहीं करने का आरोप

मीडियावाला.इन।

भोपाल. चंदला से भाजपा विधायक राजेश प्रजापति भी छतरपुर कलेक्टर मोहित बुंदस से नाराज हो गए हैं। प्रजापति सोमवार को कलेक्टर से मुलाकात के लिए पहुंचे, तो उन्हें एक घंटे तक कक्ष से बाहर इंतजार कराया गया। इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक कुंवर विक्रम सिंह नातीराजा, आलोक चतुर्वेदी, प्रद्युमन सिंह लोधी, नीरज दीक्षित और सपा विधायक राजेश शुक्ला भी कलेक्टर के खिलाफ मोर्चा खोल चुके हैं। उन्होंने बुंदस को हटाने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ को पत्र भी लिखा है। प्रजापति जन समस्याओं को लेकर बुंदस से मिलने कलेक्टोरेट पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया कि मैं विपक्ष से विधायक हूं इसलिए मुझे प्रताड़ित किया जा रहा है। 


दरअसल, बुंदस को हटाए जाने के लिए जिले के पांचों विधायकों ने पहले से ही मोर्चा खोल रखा है। विधायकों ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि विधायक जब विधानसभा क्षेत्र की दिक्कतों के बारे में कलेक्टर को बताते हैं तो उनका समाधान नहीं किया जाता। मुलाकात के लिए भी समय नहीं दिया जाता। जिले के पांचों विधायकों ने पत्र लिखने की पुष्टि की है। नातीराजा का कहना है कि मुख्यमंत्री को इस बारे में पत्र लिखा गया था। महाराजपुर से विधायक नीरज दीक्षित का कहना है कि वे जिले के विधायकों के साथ है, जैसा वे चाहते हैं मैं भी वही चाहता हूं। छतरपुर से विधायक आलोक चतुर्वेदी का कहना है कि पत्र लिखे काफी समय हो गया है। सपा विधायक राजेश शुक्ला का कहना है कि पत्र पर जिले के पांचों विधायकों ने हस्ताक्षर कर मुख्यमंत्री को भेजा था, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। वे कांग्रेस के विधायकों के साथ मुख्यमंत्री से मुलाकात कर कलेक्टर के ट्रांसफर की मांग करेंगे।

कलेक्टर बुंदस ने भाजपा विधायक को एक घंटे कराया इंतजार
चंदला से भाजपा विधायक राजेश प्रजापति सोमवार की शाम कलेक्टर मोहित बुंदस से मिलने के लिए कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। उन्हें कलेक्टर से मिलने के लिए कक्ष से बाहर करीब एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा जिससे वे भड़क गए। उन्होंने आरोप लगाया कि कलेक्टर जनता से नहीं मिल रहा हैं। उन्हें विपक्ष का विधायक होने के कारण प्रताड़ित किया जा रहा है। वहीं, इस संबंध में कलेक्टर बुंदस का कहना है कि चंदला विधायक बगैर किसी सूचना के अचानक आए थे। इस दौरान कुछ छात्र-छात्राएं और राजनगर विधायक भी मिलने आए थे। इस कारण कुछ समय लगा।

न्यूज सोर्स-.bhaskar.com

0 comments      

Add Comment