Monday, October 14, 2019
अभी मैं इंदौर की चाबी संभालने के लिए पुरी तरह से तैयार और स्वस्थ हूं:सुमित्रा महाजन

अभी मैं इंदौर की चाबी संभालने के लिए पुरी तरह से तैयार और स्वस्थ हूं:सुमित्रा महाजन

मीडियावाला.इन।इंदौर। लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने लोकसभा का चुनाव नही लड़ने जैसी कई अफ़वाहों पर लगाया विराम।जता दी चुनावी दावेदारी-कहा अभी मैं इंदौर की चाबी संभालने के लिए पुरी तरह से तैयार और स्वस्थ हूं।सही समय आने पर सही व्यक्ति को सौपूँगी शहर की चाबी।मेरे सामने कांग्रेस का कोई बड़ा नेता चुनाव लड़ेगा तो अच्छा लगेगा,यह बात उन्होंने स्मार्ट सिटी योजना के तहत बहुउद्देशीय कला संकुल के भूमि पूजन (एमजी रोड मराठी स्कूल परिसर के पास) के मौके पर कही। कांग्रेस से दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के इंदौर से चुनाव लड़ने के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि यह बहुत अच्छी बात है कि अच्छे लोग चुनाव मैदान में उतरें। चुनाव में आमने-सामने की लड़ाई होगी तो मजा आएगा।

 

भाजपा के वरिष्ठ नेता सत्यनारायण सत्तन द्वारा इस बार उनकी दावेदारी का विरोध करने पर उन्होंने कहा - जब कोई मेरे साथ नहीं था, तब सत्तन ने मेरा साथ दिया था। वह काफी वरिष्ठ हैं और वह हमारे परिवार के सदस्य हैं तो उनके खिलाफ मैं कुछ भी नहीं कहूंगी और समय आने पर उनके साथ मुलाकात भी करूंगी।

 

कांग्रेस नेता पर भड़कीं: लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, महापौर मालिनी गौड़ और पूर्व आईडीए अध्यक्ष शंकर लालवानी ने बहुउद्देशीय कला संकुल का भूमि पूजन किया। इसके पहले हमेशा शांत रहने वाली महाजन को उस समय गुस्सा आ गया जब भूमिपूजन के अवसर पर कांग्रेस नेता नए प्रोजेक्ट में मैदान की जगह पर पार्किंग बनाने की सूचना मिलने पर विरोध करने पहुंच गए। कार्यक्रम शुरू ही होने वाला था कि यूथ कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष पिंटू जोशी कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के साथ मौके पर पहुंच गए ज्ञापन देकर विरोध करने लगे।

 

उनका कहना था कि यहां खेल संगठनों के लिए जो जगह पहले से दी गई है, वह खत्म नहीं की जाए। यहां खेल संगठनों के लिए पहले ही जगह कम है। कला संकुल की पार्किंग खेल मैदान पर न आ जाए। कला संकुल का स्वागत है, लेकिन पिंटू जोशी ने कहा खेल संगठनों को दरकिनार नहीं किया जाए।

 

जोशी की बात सुन महाजन भड़कते हुए बोलीं- पहले तुम प्रोजेक्ट देखो, समझो, फिर आओ। मेरे साथ बैठो और प्रोजेक्ट समझो। शिंदे को तुम नहीं जानते और लेकर आ गए विरोध का लेटर, तुम आओ मेरे साथ पहले, पूरे कार्यक्रम में मेरे साथ रहो। फिर पता चलेगा, जिसके लिए ज्ञापन लेकर आए हो, कुछ जानते हो नहीं बस नेतागिरी करना है।एक साथ कई प्रोजेक्ट पर होगा काम : वर्तमान स्थान पर अभी मराठी स्कूल, देवलालीकर कला वीथिका, दो अन्य सरकारी स्कूल सहित कुछ शासकीय कार्यालय भी यहां चलते हैं। इन्हें एक साथ एक ही बिल्डिंग में लाने का प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी के तहत तैयार किया गया है। महापौर गौड़ ने बताया कि इसके टेंडर की प्रक्रिया हो चुकी है। छह मंजिला इस बिल्डिंग में खेल संगठनों के लिए भी पूरी जगह दी जाएगी।

 

0 comments      

Add Comment