Thursday, September 19, 2019
भारत की इस होनहार बेटी के साथ चेकिंग के नाम पर CISF जवान ने की शर्मनाक हरकत !

भारत की इस होनहार बेटी के साथ चेकिंग के नाम पर CISF जवान ने की शर्मनाक हरकत !

मीडियावाला.इन।

भारतीय-अमेरिकी विकलांगता अधिकार कार्यकर्ता विराली मोदी ने आरोप लगाया है कि दिल्ली हवाई अड्डे पर सुरक्षाकर्मी ने जांच के नाम पर उनके साथ बदसुलूकी की है. विराली मोदी का आरोप है कि एक महिला जवान ने कहा कि आप विकलांग नहीं हैं और ड्रामा कर रही हैं. महिला जवान ने विराली की जांच करने से ही मना कर दिया.

उन्होंने आरोप लगाया कि महिला सुरक्षाकर्मी की वर्दी पर नेम प्लेट भी नहीं लगी थी. इसके बाद जब उनसे नाम पूछा तो उन्होंने नहीं बताया. पिछले 13 साल से पैरालाइज विराली ने पिछले साल मुंबई एयरपोर्ट पर भी सीआईएसएफ जवानों पर बदसलूकी का आरोप लगाया था.

ANI✔@ANI

Virali Modi: I've sent email to CISF HQ. I also called them up & registered complaint. Sr Commander, Delhi called me up&apologised. But that isn't enough, something more should be done. More training should be given to them. They need to be more empathetic. Want a written apology https://twitter.com/ANI/status/1171320462355226624 …

View image on Twitter

ANI✔@ANI

Virali Modi, a wheelchair-bound woman, who was going from Delhi to Mumbai says she was asked by a security personnel at Delhi airport to stand up from her wheelchair for security check despite her declaring that she can't stand due to a spinal injury she suffered in 2006.

View image on Twitter

View image on Twitter

185

12:43 PM - Sep 10, 2019

Twitter Ads info and privacy

69 people are talking about this

विराली ने बताया कि सोमवार को वह दिल्ली के टर्मिनल-3 एयरपोर्ट पर पहुंची तो जांच की बात कहकर सीआईएसएफ जवानों ने बदसलूकी की. एक महिला जवान ने बार-बार उनसे खड़े होने को कहा, जबकि विराली ने सुरक्षाकर्मियों को बता दिया था कि वह व्हीलचेयर से उठ नहीं सकती हैं. इस दौरान एक महिला जवान ने ये कहा कि आप ड्रामा कर रही हैं.

विराली ने इसकी शिकायत करते हुए CISF चीफ को ई-मेल भी लिखा. मेल में उन्होंने बताया कि 2006 में रीढ़ की हड्डी में चोट आने के कारण वह खड़ी नहीं हो सकतीं. यह बात उन्होंने सुरक्षा अधिकारी को बताई थी, इसके बाद भी सुरक्षा अधिकारी ने अपने अफसर को बुलाकर कहा कि वह खड़े न हो सकने का ड्रामा कर रही हैं.

इस मेल के बाद CISF प्रमुख ने उनको फोन किया और खेद व्यक्त किया. सीआईएसएफ प्रमुख ने कहा कि जब वह दिल्ली में हों, उनसे मिलें. मोदी ने कहा यह बेशक स्थिति का हल नहीं हो सकता, लेकिन यह विकलांग लोगों के साथ बेहतर व्यवहार करने की दिशा में एक कदम है.

Source : "Catch News"

0 comments      

Add Comment