Monday, March 25, 2019
अब टेस्ट क्रिकेट में भी नो बॉल पर मिलेगी फ्री हिट!

अब टेस्ट क्रिकेट में भी नो बॉल पर मिलेगी फ्री हिट!

मीडियावाला.इन।  टेस्ट क्रिकेट में फिलहाल फ्री हिट का कोई कॉन्सेप्ट नहीं है. कुछ देशों में टेस्ट क्रिकेट की गिरती लोकप्रियता के चलते लंबे समय से बदलाव की मांग चल रही थी.

क्रिकेट का मिजाज दुनिया भर में तेज़ी से बदल रहा है. मैच को दिलचस्प बनाने के लिए लगभग हर साल क्रिकेट के नियम में कोई न कोई बदलाव किए जाते हैं. अब टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाने की तैयारी चल रही है. इसी की तहत मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (MCC) वर्ल्ड कमिटी ने टेस्ट क्रिकेट में नो बॉल पर फ्री हिट देने का प्रस्ताव रखा है.

नो बॉल पर फ्री हिट का इस्तेमाल पहले ही वनडे और टी-20 में हो रहा है. इसके तहत नो बॉल के बाद अगली गेंद पर बल्लेबाज़ को फ्री हिट मिलती है, यानी अगर वो आउट भी हो जाते हैं तो वो मान्य नहीं होता है. लिहाजा फ्री हिट पर बल्लेबाज़ बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करते हैं जो कि हमेशा मैच में रोमांच लाता है. यानी नो बॉल पर किसी भी टीम को एक बार में दो फायदे मिलते हैं. पहला पेनल्टी के तौर पर एक रन और फिर बल्लेबाज़ को फ्री हिट.

टेस्ट क्रिकेट में फिलहाल फ्री हिट का कोई कॉन्सेप्ट नहीं है. कुछ देशों में टेस्ट क्रिकेट की गिरती लोकप्रियता के चलते लंबे समय से बदलाव की मांग चल रही थी. ऐसे में नो बॉल पर फ्री हिट देने का प्रस्ताव रखा गया है. पिछले दिनों बेंगलुरु में MCC की बैठक में इसका प्रस्ताव रखा गया था.

MCC का काम है क्रिकेट के लिए नए नियम बनाना और इसे नियंत्रण करना. लेकिन नए नियमों को लागू करने से पहले इन प्रस्तावों को आईसीसी के पास भेजा जाता है. आईसीसी क्रिकेट खेलने वाले देशों से सहमति लेती है.

काउंटडाउन क्लॉक

टेस्ट क्रिकेट में स्लो ओवर रेट पर लगाम लगाने के लिए भी MCC की बैठक में बात हुई इसके तहत ओवर के बीच में एक काउंट डाउन क्लॉक लगाने का भी प्रस्ताव रखा गया है. फील्डिंग कर रही टीम को अगला ओवर शुरू करने के लिए 45 सकेंड का टाइम दिया जाएगा. इसे फॉलो न करने पर टीम को चेतावनी दी जाएगी. इन दिनों टेस्ट क्रिकेट में एक दिन में 90 ओवर का खेल होता है.  MCC की कमिटी में मौजूद ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर शेन वॉर्न, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक गेटिंग का कहना है कि गेंद और बल्ले के बीच संतुलन बनना बेहद जरूरी है.
 

0 comments      

Add Comment