Thursday, May 23, 2019
सीरीज जीतने की रोचक जंग आज, आखिरी वनडे में टॉस नहीं ये 'फैक्टर' पैदा करेगा बड़ा अंतर!

सीरीज जीतने की रोचक जंग आज, आखिरी वनडे में टॉस नहीं ये 'फैक्टर' पैदा करेगा बड़ा अंतर!

मीडियावाला.इन। India vs Australia, 5th ODI: भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दिल्ली में खेले जाने वाले पांचवें वनडे में ऑस्ट्रेलिया और भारत दोनों की नजरें सीरीज जीत पर होंगी

विराट कोहली की कप्तानी में जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हैदराबाद और नागपुर में लगातार दो वनडे मैच जीते तो लगा कि पांच वनडे मैचों की सीरीज एकतरफा साबित होने जा रही है। 

लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने इसके बाद जोरदार वापसी करते हुए रांची और मोहाली में खेले गए अगले दोनों मैच जीतते हुए न सिर्फ जोरदार वापसी की बल्कि अब सीरीज जीतने की कगार पर पहुंच गया है। 

भारत में 10 साल बाद पहली वनडे सीरीज जीत पर ऑस्ट्रेलिया की नजरें 

अगर ऑस्ट्रेलिया बुधवार को दिल्ली के फिरोजशाह कोटला में खेला गया मैच जीतता है तो ये उसकी 2009 के बाद से, यानी कि लगभग 10 सालों में भारत के खिलाफ भारत में उसकी पहली द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीत होगी। 

साथ ही ये पहली बार होगा जब ऑस्ट्रेलिया किसी सीरीज में 0-2 से पिछड़ने के बावजूद सीरीज जीतेगी। अब तक ये कमाल सिर्फ चार टीमें ही कर पाई हैं, जिनमें दक्षिण अफ्रीका vs पाकिस्तान 2003, बांग्लादेश vs जिम्बाब्वे 2005, पाकिस्तान vs भारत 2005 और दक्षिण अफ्रीका vs इंग्लैंड 2016 शामिल हैं।   

वहीं टीम इंडिया अगर इस मैच में जीत हासिल करती है तो ये उसकी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 50वीं वनडे जीत होगी। अगर भारत ये सीरीज गंवाता है तो ये अक्टूबर 2015 में दक्षिण अफ्रीका के हाथों 3-2 से सीरीज गंवाने के बाद से भारत की घर में पहली सीरीज हार होगी। 

मोहाली वनडे में 358 रन बनाने के बावजूद हारा भारत

भारतीय टीम मोहाली में खेले गए पिछले मैच में 358 रन बनाने के बावजूद 13 गेंदें बाकी रहते ही ऑस्ट्रेलिया से 4 विकेट से करारी शिकस्त मिली थी। भारतीय टीम इस सीरीज में वर्ल्ड कप के लिए अपनी सर्वश्रेष्ठ संयोजन की तलाश में है और कुछ हद तक हर मैच के साथ हो रहे बदलावों का उसे नुकसान उठाना पड़ा है। 

उदाहरण के लिए ऋषभ पंत को मौका देने के लिए आखिरी दो मैचों से धोनी को आराम दिया गया है। इसी तरह केएल राहुल को आजमाने के लिए भी अंबाती रायुडू को चौथे मैच में नहीं खिलाया गया।

पंत और राहुल जैसे युवा खिलाड़ियों के लिए वर्ल्ड कप से पहले अपनी प्रतिभा साबित करने का ये आखिरी मौका होगा क्योंकि इसके बाद टीम इंडिया कोई भी इंटरनेशनल सीरीज नहीं खेली है।  

ओस पैदा कर सकती है बड़ा अंतर

ओस की भूमिका भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जा रही इस वनडे सीरीज में चर्चा का विषय बन गया है। टीम इंडिया रांची और मोहाली में खेले गए पिछले दोनों वनडे में ओस का आकलन करने में नाकाम रही, जिसने काफी हद तक ऑस्ट्रेलिया को 0-2 से पिछड़ने के बावजूद 2-2 से सीरीज में वापसी करने में मदद की है। 

दिल्ली में इस समय दिन में तो हल्की गर्मी पड़नी शुरू हो गई है लेकिन शाम में अब भी ठंड पड़ रही है, जिसका मतलब है कि इस डे-नाइट मैच के आखिरी घंटों में ओस अहम भूमिका निभा सकता है।

डीडीसीए पिच और ग्राउंड कमिटी के मुताबिक, शाम 7 बजे के बाद ओस पड़ने की संभावना है। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में बुधवार को बादल छाए रहने की संभावना है, ऐसे में टॉस जीतने वाली टीम को पहले गेंदबाजी करनी चाहिए।    

 

 

लोकमत न्यूज़ से साभार

0 comments      

Add Comment