Tuesday, October 15, 2019
कूरियर के बंडल में बांधकर ट्रेन से भेजे गए हवाला के करोड़ों रुपए, ऐसे हुआ खुलासा

कूरियर के बंडल में बांधकर ट्रेन से भेजे गए हवाला के करोड़ों रुपए, ऐसे हुआ खुलासा

मीडियावाला.इन।  जबलपुर। जबलपुर में हवाला का काम करने वालों की लिस्ट लंबी होती जा रही है। आयकर विभाग की इंवेस्टिगेशन विंग की छापेमारी के बाद खुलासा हुआ है कि शहर का तीसरा हवाला कारोबार मधुर कूरियर से चल रहा था। आयकर विभाग ने छापा मारकर कई अहम दस्तावेज जब्त किए हैं। सूत्रों की मानें तो ट्रेन के साथ मधुर कूरियर से हवाला के करोड़ों रुपए मुंबई, दिल्ली समेत 20 शहरों में भेजे गए।

आईटी इंवेस्टिगेशन विंग को मिली जानकारी में करमचंद चौक से लगे कॉफी हाउस के सामने वाली गली में इसका दफ्तर था, जहां से यह काम किया जा रहा था। कूरियर के बंडल में करोड़ रुपए पैक होकर ट्रेन से जाते थे।

तीसरे नाम के बाद चौथे की तलाश

अतुल खत्री और पंजू गिरी गोस्वामी के बाद आईटी ने शहर के तीसरे हवाला कारोबारी को पकड़ने के बाद चौथे की तलाश शुरू कर दी है। हालांकि कूरियर कंपनी के दफ्तर से मिले दस्तावेज में आईटी को यह पता चल गया है कि शहर में हवाला का कारोबार कैसे और किसकी मदद से चल रहा था। शहर से 15 से 20 हवाला कारोबारी के नाम सामने आ रहे हैं, जिसमें रेडीमेड गारमेंट, मसाला, परचून और स्टील का कारोबार करने वाले लोग मुख्य तौर पर हैं।

बालाघाट-सतना से चल रहा था कारोबार


बालाघाट के धर्म ज्वेलर्स के यहां की गई छापेमारी में हवाला से जुड़े सबूत मिले हैं, जिसके बाद शुक्रवार को उसने 4 करोड़ रुपए आईटी इंवेस्टिगेशन विंग के सामने सरेंडर किए। इधर शुक्रवार को इंवेस्टिगेशन विंग ने सतना में भी छापेमारी की। यहां से दिल्ली के व्यापारी विपिन धींगरा को पकड़ा है। इससे चार करोड़ रुपए पकड़े गए, जिसका हवाला किया जा रहा था। इससे मिले सबूत में यह जानकारी सामने आई है कि विपिन दिल्ली का दो नंबर का पैसा सतना में एक नंबर में बदलता था। इसमें हवाला का काम मुख्यतौर पर शामिल था। 

0 comments      

Add Comment