Sunday, April 21, 2019
पत्नी जलती रही और पति मोबाइल पर परिजन को सुनाता रहा चीखें

पत्नी जलती रही और पति मोबाइल पर परिजन को सुनाता रहा चीखें

मीडियावाला.इन।

पति से हुए विवाद के बाद एक महिला ने अपने दो साल के बेटे के सामने मिट्टी का तेल डाल लिया। पति फोन पर अपने परिजनों को पत्नी की हरकत के बारे में बताने लगा, इसी दौरान महिला ने बेटे को धक्का देकर खुद को आग लगा ली।

धूं-धूकर जल रही पत्नी को बचाने की बजाए पति फोन पर अपने परिजन को उसकी चीखें सुनाता रहा। महिला को गंभीर हालत में जिला अस्पताल लाया गया, लेकि न रविवार सुबह उसने दम तोड़ दिया। महिला की मां व भाई ने दामाद पर हत्या का आरोप लगाया है। घटना के समय पति की बातचीत का एक ऑडियो भी पुलिस के हाथ लगा है, जिसके आधार पर पुलिस मामले की जांच कर ही है।

कल्पना के पिता नारायणदास लिखार बीएसएनएल में शिवपुरी जिला मुख्यालय पर पदस्थ हैं। नारायणदास शिवपुरी से रविवार सुबह होशंगाबाद पहुंचे तो उन्हें अपनी बेटी का शव जिला अस्पताल में रखा मिला। उन्होंने बताया कि यहां उनके रिश्तेदारों ने बताया कि शनिवार रात को कुलदीप का फोन उनके पास आया था, जब उससे बात रही थी, तभी चीखने की आवाजें भी आ रही थी।

जब कुलदीप से चीखने के बारे में पूछा तो उसने बताया कि कल्पना ने आग लगा ली है। इस वह यह बताता रहा कि देखो कल्पना ने आग लगा ली। कल्पना की मां बीना, भाई दीपक और पिता ने आरोप लगाया है कि कल्पना ने आत्महत्या नहीं की है, बल्कि उसकी हत्या की गई है। मायके पक्ष का आरोप है कि कल्पना को कम दहेज लाने का ताना देकर उससे मारपीट की जाती थी। उसे चार-चार दिन तक भूखा रखा जाता था। इधर कोतवाली टीआई आशीषसिंह पवार ने बताया कि महिला की मौत कि न परिस्थितियों में हुई है, इसकी जांच कराई जा रही है।

[नईदुनिया से साभार] 

0 comments      

Add Comment