गणेशोत्सव की शर्तों पर श्रद्धालुओं में नाराजगी, नेताओं की सभाओं में बंदिश नहीं पर झांकियों के कार्यक्रम प्रतिबंधित

46

भोपाल: सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से गृह विभाग की ओर से गणेशोत्सव मनाने को लेकर जारी की गई शर्तों को लेकर विरोध हो रहा है। यूजर्स द्वारा कहा जा रहा है कि मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष, मंत्रियों की सभाओं में कोरोना की गाइडलाइन का पालन हुए बगैर हजारों लोग पहुंच रहे हैं, वहां किसी तरह का प्रतिबंध नहीं लागू किया गया है। इसके अलावा भाजपा और कांग्रेस की बैठकों, संगोष्ठियों, संवाद कार्यक्रमों में भी प्रतिबंध नहीं हैं लेकिन गणेशोत्सव मनाने वालों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम, भजन, भंडारे आदि पर रोक है जबकि खुले स्पेस में कार्यक्रम करने वाले नागरिक सुरक्षा का पूरा ध्यान भी रखते हैं। सोशल मीडिया में यूजर्स यह भी लिख रहे हैं कि स्कूल, कालेज खुले हैं तो दिक्कत नहीं है, पर धार्मिक कार्यक्रम पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।

माना जा रहा है कि सीएम चौहान ने इस मामले में अधिकारियों को राहत देने के निर्देश दिए हैं।

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या मुख्यमंत्री अनंत चतुर्दशी जुलूस के लिए कोई रियायत देंगे या गणेश चतुर्थी विसर्जन कार्यक्रमों के लिए कोई छूट मिलेगी?