विश्व कप में मोरक्को की जीत के बाद बेल्जियम, नीदरलैंड में दंगे, दंगाइयों ने कारों, ई-स्कूटरों में लगाई आग, हालात बेकाबू

442

विश्व कप में मोरक्को की जीत के बाद बेल्जियम, नीदरलैंड में दंगे,  हालात बेकाबू.

पुलिस ने ब्रसेल्स में करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया।दंगा रोधी अधिकारियों ने करीब 500 लोगों के फुटबॉल समर्थक समूह को रोकने का प्रयास किया जिन्होंने पुलिस पर पथराव किया नीदरलैंड की राजधानी एम्सटर्डम और हेग में अशांति का माहौल है।

ब्रसेल्सः फुटबॉल विश्वकप में रविवार को बेल्जियम पर मोरक्को की 2-0 से जीत के बाद बेल्जियम और नीदरलैंड के कई शहरों में दंगे भड़क उठे। ब्रसेल्स में भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार छोड़ी और आंसू गैस के गोले दागे।

पुलिस ने ब्रसेल्स में करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया जबकि उत्तरी शहर एंटवर्प में भी आठ लोगों को पकड़ा गया।ब्रसेल्स पुलिस की प्रवक्ता इल्से वैन डे कीरे ने कहा कि कई दंगाई सड़कों पर उतर आए और कारों, ई-स्कूटरों में आग लगा दी तथा गाड़ियों पर पथराव किया।

घटना में एक व्यक्ति के घायल होने के बाद पुलिस ने कार्रवाई की। ब्रसेल्स के महापौर फिलिप क्लोज ने लोगों से शहर के मध्य में जमा नहीं होने का अनुरोध किया और कहा कि अधिकारी सड़कों पर व्यवस्था बहाल करने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। हालांकि पुलिस के आदेश के बाद ट्रेन और ट्राम यातायात बाधित हुआ है।

 

 

क्लोज ने कहा, ”ये लोग खेल के प्रशंसक नहीं हैं बल्कि ये दंगाई हैं।” आंतरिक मंत्री एनेलीज वेरलिंडेन ने कहा, ”यह देखना दुखद है कि किस तरह से मुट्ठी भर लोग स्थिति को खराब कर रहे हैं।” पड़ोसी देश नीदरलैंड में पुलिस ने कहा कि रॉटरडैम में हिंसा भड़क उठी और दंगा रोधी अधिकारियों ने करीब 500 लोगों के फुटबॉल समर्थक समूह को रोकने का प्रयास किया जिन्होंने पुलिस पर पथराव किया और आगजनी तथा तोड़फोड़ की।

घटना में दो पुलिस अधिकारी घायल हुए हैं। रविवार देर शाम कई शहरों में अशांति की सूचना मिली। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक देश की राजधानी एम्सटर्डम और हेग में अशांति का माहौल है।