AAP & Swati Maliwal: स्वाति मालीवाल बनी आप के गले की हड्डी

611

AAP & Swati Maliwal: स्वाति मालीवाल बनी आप के गले की हड्डी

दिल्ली से अजय कुमार चतुर्वेदी की खास रिपोर्ट 

आप का राजनीतिक स्वास्थ्य इन दिनों ठीक नहीं चल रहा है। पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल 20 दिनों के लिए अंतरिम जमानत पर जेल से बाहर आए हैं, लेकिन सांसद स्वाति मालीवाल के साथ हुए दुर्व्यवहार के मामले में पार्टी के लिए एक नया सिरदर्द खड़ा कर दिया है।

राजनीतिक गलियारों में चल रही चर्चा के अनुसार मालीवाल के साथ हुआ दुर्व्यवहार पूर्व नियोजित बताया जा रहा है। सूत्रों के अनुसार पार्टी में इन दिनों दो धाराएं चल रही है और मालीवाल उसी की शिकार हुई बताई जाती है।

सूत्रों का यह भी कहना है कि इस सारे नाटक के पीछे एक जाने माने वकील को सांसद बनाने की खबर है जो अदालत में केजरीवाल के सारे मुकदमें लड रहे है।

बताया जाता है कि केजरीवाल उन्हें राज्य सभा का सांसद बनाना चाहते हैं और इसीलिए मालीवाल पर सांसद पद से त्यागपत्र देने का दबाव डाला जा रहा है।

कहा तो यह भी जा रहा है कि संजय सिंह ने अपने पद को छोडने से स्पष्ट मना कर दिया जिसके बाद मालीवाल पर दबाव डाला जा रहा है।

मालीवाल के साथ हुई घटना पर केजरीवाल सहित आप के सभी नेताओं ने चुप्पी साध ली है।

जानकारों का कहना है कि अगर पार्टी का संकट नहीं सुलझा तो पार्टी टूट सकती है। हालांकि मालीवाल ने अपना बयान दिल्ली पुलिस को रिकार्ड करा दिया है और भाजपा से इस मुद्दे पर राजनीति न करने को कहा है, लेकिन यह मामला जल्दी शांत होता नहीं दिख रहा। हालांकि पार्टी का एक घटक केजरीवाल के कांग्रेस के साथ खडे होने पर नाराज बताया जा रहा है। उनका कहना है कि जिस पार्टी के खिलाफ भ्रष्टाचार का आंदोलन किया उसी के साथ जाने पर गलत संदेश जा रहा है।

पार्टी को एक बार और चिंता सता रही है। सूत्रों के अनुसार अगर दिल्ली आबकारी घोटाले में ईडी अगर आप को आरोपित बनाती है तब पार्टी के सामने मान्यता बचाने का संकट भी खड़ा हो सकता। जानकारों का कहना है कि आरोपी बनाए जाने के बाद चुनाव आयोग आप की मान्यता खत्म कर सकती है। ऐसा होने पर आप की दिल्ली और पंजाब सरकारों पर भी संकट खडा हो सकता है।