Action on Ineligible : मुरैना SP के माता-पिता की मुफ्त तीर्थ दर्शन की कोशिश विफल!

कलेक्टर ने शासकीय सेवक और आयकर दाता आवेदक को सस्पेंड किया! 

880
TI Suspend

Action on Ineligible : मुरैना SP के माता-पिता की मुफ्त तीर्थ दर्शन की कोशिश विफल!

Satna : मुखयमंत्री ने गरीबों के लिए ‘मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना प्रारंभ की है। लेकिन, इसका लाभ अपात्र लोग भी लेने से नहीं चूकते। ऐसा ही एक मामला सतना जिले में भी सामने आया। मुरैना एसपी आशुतोष बागरी के पिता लालजी बागरी और उनकी पत्नी विद्यादेवी बागरी ने पत्नी सहित तीर्थ दर्शन योजना के तहत द्वारिका यात्रा करने का फॉर्म भरा था। जबकि, वे शासकीय सेवक होते हुए आयकर दाता भी हैं।

सतना कलेक्टर अनुराग वर्मा के मुताबिक अपात्र होने के बाद भी योजना में जाने की जानकारी मिली तो उनका नाम सूची से हटा दिया है। कलेक्टर ने आज जारी अपने एक आदेश में लालजी बागरी को निलंबित करने के भी आदेश दिए!

एसपी आशुतोष बागरी के पिता लालजी बागरी द्वारा पत्नी सहित तीर्थ दर्शन योजना के तहत द्वारिका यात्रा का फॉर्म भरने का मामला संज्ञान में आने पर जिला प्रशासन ने उनका नाम यात्रियों की सूची से अलग कर दिया। आज 24 जनवरी को मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत सतना से द्वारिका के लिए तीर्थ यात्रा शुरू होना है। इसके लिए जब जिला प्रशासन ने आवेदन मंगाए तो रघुराजनगर तहसील के ग्राम गडऱा निवासी लालजी बागरी ने पत्नी विद्यादेवी बागरी के साथ तीर्थ यात्रा के लिए आवेदन भरा, जबकि वे योजना के लिए अपात्र हैं।

IMG 20230124 WA0043

शासकीय सेवक, आयकर दाता भी

लालजी बागरी सहायक शिक्षक हैं। पदस्थापना मसनहा हाईस्कूल में है। दस्तावेजों के अनुसार उनकी जन्मतिथि 26 जून 1962 है। उनकी सेवानिवृत्ति 2024 में होगी। वर्तमान में उनका मासिक वेतन 80 हजार रुपए से ज्यादा है। वे आयकर दाता हैं।