AR Rehman ने सर्जन एसोसिएशन को भेजा 10 करोड़ का मानहानि नोटिस, दिया 15 दिनों का अल्‍टीमेटम

319
  • एआर रहमान ने एसोसिएशन ऑफ सर्जन्स ऑफ इंडिया को भेजा 10 करोड़ रुपये का लीगल नोटिस

  • पहले ASICON ने भेजा था एआर रहमान को नोटिस, म्‍यूजिक डायरेक्‍टर ने सौंपा 4 पन्‍नों का जवाब

  • एक लाइव शो के दौरान एआर रहमान खराब मैनेजमेंट की वजह से सुर्खियों में थे। अब रहमान एक बार फिर एक अलग वजह से खबरों में हैं। दिग्गज संगीत निर्देशक एआर रहमान ने एसोसिएशन ऑफ सर्जन्स ऑफ इंडिया को कानूनी नोटिस भेजा है।

    रहमान ने एसोसिएशन पर वार्षिक सम्मेलन में उनका नाम खराब करने का आरोप लगाया है। रहमान ने मानहानि के लिए 10 करोड़ रुपये का मुआवजा भी मांगा है। एसोसिएशन ऑफ सर्जन्स ऑफ इंडिया ने आरोप लगाया है कि 2018 में रहमान को संस्थान के 78वें वार्षिक सम्मेलन में प्रदर्शन करना था, लेकिन वह शामिल नहीं हो सके। इसके लिए एडवांस के तौर पर लिए गए 29.5 लाख रुपये रहमान ने नहीं लौटाए हैंपने जवाब में रहमान ने कहा है, ‘मुझे कभी इस तरह के कोई पैसा नहीं दिया गया। बल्कि यह पैसा थर्ड पार्टी ‘सेंथिलवेलन एंड सेंथिलवेलन’ की कंपनियों के एक समूह को किया गया। यह पूरी तरह से जानते हुए कि एसोसिएशन का मेरे साथ पैसे का कोई लेन-देन नहीं है, उन्होंने मुझे विवाद में घसीटने का फैसला किया।’ रहमान ने अपने जवाब में दावा किया है कि उन पर जो आरोप लगाए गए हैं, वह सिर्फ मीडिया का ध्यान खींचने और उन्हें परेशान करने के लिए लगाया गया है

    हालांकि, एआर रहमान की वकील नर्मदा संपत ने चार पेज के जवाब में आरोपों से इनकार किया है। कोर्ट को सौंपे गए नोटिस में एआर रहमान ने कहा है कि उन्होंने एसोसिएशन के साथ कभी कोई समझौता नहीं किया। हालांकि कहा जा रहा है कि पब्लिसिटी के लिए उनकी प्रतिष्ठा खराब करने की कोशिश की जा रही है। इतना ही नहीं दावा किया गया है कि रहमान को इसके लिए एडवांस के तौर पर कोई रकम नहीं मिली। साथ ही उन्होंने यह भी साफ किया है कि रहमान पर लगाए जा रहे आरोप सिर्फ मीडिया का ध्यान आकर्षित करने के लिए लगाए जा रहे हैं। इसलिए, नर्मदा संपत ने मांग की है कि एसोसिएशन ऑफ सर्जन्स ऑफ इंडिया को रहमान से सार्वजनिक माफी मांगनी चाहिए। इसके साथ ही नोटिस में यह भी कहा गया है कि रहमान को 15 दिन के अंदर 10 करोड़ की रकम का भुगतान किया जाए।