Assembaly session कल से, तीखे सवालों से सरकार को घेरने की तैयारी

932
T1 080821045355113
असंसदीय शब्द और वाक्यांश संग्रह का विमोचन-

Assembaly session from tomorrow

Bhopal MP: Assembaly का मानसून सत्र नौ अगस्त से शुरु होगा। चार दिवसीय इस सत्र में दो लंबित विधेयक और तीन नये विधेयक पेश किए जाएंगे। वर्ष 21-22 के लिए अनुपूरक बजट भी मानसून सत्र के दौरान पेश किया जाएगा। इस बार भी सीमित संख्या में सदन में प्रवेश दिया जाएगा। वेक्सीन लगवा चुके विधायकों और अधिकारियों-कर्मचारियों को ही इस बार प्रवेश दिया जाएगा। जिन्हें वैक्सीन नहीं लगी है उन्हें वेक्सीन लगाने की व्यवस्था भी परिसर में की जाएगी।

विधानसभा अध्यक्ष ने सर्वदलीय बैठक में नेताओं से चर्चा की
सत्र की तैयारियों के सिलसिले में रविवार को विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने सर्वदलीय बैठक बुलाकर सदन के नेता मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ , संसदीय कार्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा और अन्य सदस्यों के साथ चर्चा की।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना महामारी अभी समाप्त नहीं हुई है इसलिए सुरक्षा जरुरी है। सभी विधायक मास्क लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सदन में प्रवेश करें। जिन्होंने वेक्सीन का टीका लगवा लिया है वे जानकारी दे और जिन्होंने नहीं लगवाया है वे वेक्सीन लगवाने के बाद ही प्रवेश ले। मास्क और सेनेटाईजर का उपयोग अनिवार्य रुप से करने के लिए अध्यक्ष ने सभी सदस्यों से आग्रह किया है।

Assembaly session: 1184 सवाल लगाए गए

विधानसभा के प्रमख सचिव एपी सिंह ने बताया कि चार दिवसीय सत्र के दौरान कुल इस बार विपक्षी दल कांग्रेस सहित अन्य दलों और सत्तारुढ़ दल के विधायकों द्वारा सत्र के लिए 1184 सवाल लगाए गए है। ध्यानाकर्षण की 236 सूचनाए मिली है जबकि सत्रह स्थगन प्रस्ताव आए है। शून्यकाल की चालीस सूचनाएं मिली है। अशासकीय संकल्प 14 इस बार पेश किए जाएंगे।नियम 139 के तहत लोक महत्व के विषयों पर चर्चा के लिए 8सूचनाएं आई है। पंद्रह याचिकाएं और पांच विधेयक इस सत्र के लिए मिले है जिनपर चर्चा की जाएगी।

असंसदीय शब्द और वाक्यांश संग्रह का विमोचन-
विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने विधानसभा के मानसरोवर कक्ष में असंसदीय शब्द एवं वाक्यांश संग्रह पुस्तक का विमोचन किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नेता प्रतिपक्ष कमलनाथ तथा संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा भी मौजूद थे। चालीस पेज की इस पुस्तक में लगभग 1560 असंसदीय शब्द और वाक्यांश शामिल किए गए है जिन्हें समय समय पर विधानसभा की कार्यवाही से विलोपित कराया गया है। इसमें पप्पू, फेकू, तड़ीपार, चोर,बंटाधार जैसे शब्द शामिल है। विधानसभा अध्यक्ष ने सदस्यों से आग्रह किया कि वे इन शब्दों और वाक्यांशों का उपयोग करने से बचें।

बांस आधारित उत्पादों की प्रदर्शनी – विधानसभा परिसर में अध्यक्ष ने बांस आधारित उत्पादों की एक प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया। विधानसभा के सेंट्रल हाल में आर्टइज आॅन कंपनी देवास के द्वारा यह प्रदर्शनी लगाई गई है। इसमें प्रदेश के विभिन्न अंचलों के हस्तशिल्पियों के उत्पाद प्रदर्शित किए गए।