Bhai Dooj 2021:भाई दूज आज , जानें- शुभ मुहूर्त

1832
भाई दूज https://www.aajtak.in/religion/news/story/bhai-dooj-2021-date-significance-tilak-time-rituals-shuh-muhurat-puja-vidhi-rules-all-you-need-to-know-in-hindi-tlifd-1351839-2021-11-05

Bhai Dooj 2021:भाई दूज आज , जानें- शुभ मुहूर्त

bhopal;पांच दिनों तक चलने वाले दिवाली के त्योहार का समापन भाई दूज के दिन होता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, भाई दूज या भैया दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है।

यह त्योहार भी भाई-बहन के प्रति एक-दूसरे के स्नेह को दर्शाता है।इस वर्ष यह दिन(Bhai Dooj 2021)शनिवार, 6 नवंबर, 2021 को मनाया जाएगा। भैया दूज को भाऊ बीज, भातरा द्वितीया, भाई द्वितीया और भथरू द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन बहनें अपने भाइयों के माथे परतिलक करती हैं.भाई दूज का त्योहार(Bhai Dooj 2021 )इस साल 6 नवंबर 2021, दिन शनिवार को है।

Bhai Dooj 2021

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस दिन भाई को तिलक करने का शुभ मुहूर्त दोपहर 1 बजकर 10 मिनट से दोपहर 3 बजकर 21 मिनट तक है। शुभ मुहूर्त की कुल अवधि 2 घंटे 11 मिनट की है।भाई दूज को यम द्वितीया भी कहा जाता है। इस दिन मृत्यु के देवता यमराज की भी पूजा की जाती है।

भाई दूज पर बहनें भाई की लंबी आयु की कामना करती हैं। इस तिथि को भ्रातृ द्वितीया भी कहा जाता है।  भाई दूज के दिन बहनें भाई को तिलक करके उनके उज्जवल भविष्य और लंबी आयु की कामना करती हैं।

भाई की हथेली पर बहनें चावल का घोल लगाती हैं उसके ऊपर सिन्दूर लगाकर कद्दू के फूल, पान, सुपारी मुद्रा आदि हाथों पर रखकर धीरे धीरे पानी हाथों पर छोड़ते हुए कहती हैं जैसे ‘गंगा पूजे यमुना को यमी पूजे यमराज को, सुभद्रा पूजा कृष्ण को, गंगा यमुना नीर बहे मेरे भाई की आयु बढ़े’।

66525926

इस दिन शाम के समय बहनें यमराज के नाम से चौमुख दीया जलाकर घर के बाहर रखती हैं। इस समय ऊपर आसमान में चील उड़ता दिखाई दे तो बहुत ही शुभ माना जाता है।

माना जाता है कि बहनें भाई की आयु के लिए जो दुआ मांग रही हैं उसे यमराज ने कुबूल कर लिया है या चील जाकर यमराज को बहनों का संदेश सुनाएगा।. मान्यता है कि जो भाई इस दिन बहन के घर जाकर भोजन ग्रहण करता है और तिलक करवाता है, उसकी अकाल मृत्यु नहीं होती है.