भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक संपन्न: MP के शेष 94 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम फाइनल

1309

भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक संपन्न: MP के शेष 94 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम फाइनल

नई दिल्ली: भाजपा केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आज शाम दिल्ली केंद्रीय कार्यालय में संपन्न हुई। प्राप्त जानकारी अनुसार इस बैठक में MP के शेष 94 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम फाइनल हो गए है।

इस बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के अलावा मध्य प्रदेश के प्रभारी केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, सह प्रभारी केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव, मध्य प्रदेश भाजपा समन्वय समिति के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने भाग लिया। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और बीजेपी अध्यक्ष वी डी शर्मा ने भी भाग लिया और वे आज रात ही दिल्ली से भोपाल के लिए रवाना हो गए है।

इस बैठक के बाद अब कभी भी उम्मीदवारों के नाम की अधिकृत घोषणा हो सकती है लेकिन माना जा रहा है कि बजाय रात के यह सूची कल सुबह ही जारी की जाएगी।

बता दें कि मध्य प्रदेश में भाजपा की पांचवी सूची का इंतजार लंबा होता जा रहा है। टिकट के इंतजार में भाजपा के आठ मंत्रियों सहित कई विधायकों की सांसें अटकी हुई है।

हालांकि इसी बीच संगठन ने कई नेताओं को सूचित कर दिया है कि उनके टिकट पक्के हैं और वह काम में जुटे रहे। इसके बावजूद भी जब तक टिकट की अधिकृत घोषणा नहीं हो जाती तब तक ये मंत्री और विधायक परेशान हैं और टिकट की आस में अपने राजनीतिक आकाओं के दर पर लगातार दस्तक दे रहे हैं।

माना जा रहा है कि ग्वालियर दक्षिण से नारायण सिंह कुशवाहा, बमोरी से महेंद्र सिंह सिसोदिया,अमरपाटन से रामखेलावन पटेल, जतारा से हरिशंकर खटीक, महू से उषा ठाकुर, शुजालपुर से इंदर सिंह परमार, भिंड से नरेंद्र कुशवाहा, भोजपुर से सुरेंद्र पटवा और इंदौर 5 से महिंद्रा हार्डिया को हरी झंडी दे दी गई है। लेकिन ,ये नेता अभी भी चिंतित है जब तक उनके टिकट की विधिवत घोषणा नहीं हो जाती।

इसी बीच पता चला है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक मंत्रियों में OPS भदोरिया को छोड़कर बाकी मंत्रियों को भी हरी झंडी दे दी गई है।

यह तो तय माना जा रहा है कि अगर बीजेपी की सूची आज नही आती है तो कल शनिवार को तो निश्चित तौर पर जारी हो जाएगी। बता दें कि भाजपा अब तक चार सूचिया जारी कर अपने 136 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान कर चुकी है। इनमें 57 विधायक भी शामिल हैं। इन सूची में उन मंत्रियों और वर्तमान विधायकों के नाम होल्ड कर दिए थे जिनके नाम पर विवाद या फिर क्षेत्र के नेता एक मत नहीं हो रहे थे।