Blog

हेमंत पाल

तीन दशक से ज्यादा समय से पत्रकारिता में संलग्न। नवभारत, नईदुनिया (इंदौर, भोपाल) और जनसत्ता (मुंबई) में कार्य किया। नईदुनिया में लम्बे समय तक चुनाव डेस्क प्रभारी। राजनीतिक और फिल्म और टीवी पत्रकारिता में परीचित नाम। देशभर के अखबारों और पत्रिकाओं में लेखन। राजनीतिक और फिल्म स्तंभकार। फिलहाल 'सुबह सवेरे' के इंदौर संस्करण में स्थानीय संपादक।


संपर्क : 9755499919

मंत्रिमंडल के असंतुलित विस्तार  में कई समीकरण अधूरे छूटे!  - जातीय और क्षैत्रीय संतुलन का ध्यान नहीं रखा

मंत्रिमंडल के असंतुलित विस्तार में कई समीकरण अधूरे छूटे! - जातीय और क्षैत्रीय संतुलन का ध्यान नहीं रखा

मीडियावाला.इन। शिवराजसिंह चौहान के बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल का विस्तार हो गया। 28 नए मंत्री शामिल कर लिए गए। कुछ तय नाम कट गए, तो कुछ नए नाम जुड़ गए। जो विधायक और गैर-विधायक मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल किए...

कांग्रेस से आने वालों कार्यकर्ताओं  को भाजपा अब अपने रंग में रंगेगी!

कांग्रेस से आने वालों कार्यकर्ताओं को भाजपा अब अपने रंग में रंगेगी!

मीडियावाला.इन। भारतीय जनता पार्टी ने दूसरी पार्टी से आने वाले नेताओं और कार्यकर्ताओं को अपने रंग में रंगने की योजना बनाई है! पार्टी पहले उन्हें अपनी विचारधारा के सेनेटाइजर से सेनेटाइज़ करके उनका राजनीतिक संक्रमण दूर करेगी! फिर उन्हें...

भाजपा में कांग्रेसियों की भीड़ से समन्वय खतरे में!

भाजपा में कांग्रेसियों की भीड़ से समन्वय खतरे में!

मीडियावाला.इन।  'भाजपा में यदि कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की भीड़ इसी तरह बढ़ती रही, तो हमें पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं के साथ समन्वय बैठाने में मुश्किल होगी!' भाजपा के दिग्गज और खांटी नेता विक्रम वर्मा ने पार्टी की चुनाव अभियान...

उपचुनाव के बे-भरोसे के ऊंट पर टिकी गिद्ध दृष्टि!  

उपचुनाव के बे-भरोसे के ऊंट पर टिकी गिद्ध दृष्टि!  

मीडियावाला.इन।         कहा जाता है कि ऊंट कब किस तरफ करवट ले ले, कहा नहीं जा सकता! यही स्थिति राजनीति की भी है। राजनीति का ऊंट भी बे-भरोसे का ही होता है! कब और कहाँ, किस करवट पलटी खा...

समाज के माथे रहेगा 'सोनू' का ये 'सूद'

समाज के माथे रहेगा 'सोनू' का ये 'सूद'

मीडियावाला.इन।  कोरोना के इस दौर में बॉलीवुड के कई कलाकारों ने गरीबों और जरूरतमंदों के लिए बहुत कुछ किया! लेकिन, उन्होंने जो किया वो इंडस्ट्री तक सिमटा रहा! ऐसे में सबसे अलग काम किया फिल्मों के खलनायक का...

भाजपा की आँखों में क्यों खटकने लगे 'सिंधिया के लोग!'

भाजपा की आँखों में क्यों खटकने लगे 'सिंधिया के लोग!'

मीडियावाला.इन। ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस छोड़कर दलबल सहित भाजपा में शामिल हुए दो महीने से ज्यादा वक़्त हो गया। पर, अभी तक एक बार भी ये महसूस नहीं हुआ कि भाजपा ने उन्हें या उनके समर्थकों को दिल से...

इंदौर को हॉटस्पॉट बनाने वाली कुछ गलतियाँ!

इंदौर को हॉटस्पॉट बनाने वाली कुछ गलतियाँ!

मीडियावाला.इन।  देश का सबसे साफ शहर इंदौर कोरोना वायरस के हॉटस्पॉट के रूप में उभरा है, ये सबसे बड़ी विडंबना है। केंद्र सरकार के स्वच्छता सर्वेक्षण में लगातार तीन बार यह शहर देश का सबसे स्वच्छ शहर घोषित...

सलमान को इस बार ईदी नहीं, कोरोना में फंसी 'राधे'

सलमान को इस बार ईदी नहीं, कोरोना में फंसी 'राधे'

मीडियावाला.इन। सलमान खान पिछले कई सालों से (2013 को छोड़कर) अपने चाहने वालों ईद पर किसी फिल्म का तोहफा देते हैं! बदले में उन्हें दर्शकों से फिल्म के अच्छे कारोबार की ईदी मिलती है। लेकिन, इस बार की ईद...

भाजपा संगठन के आंगन में विरोध के डंके की गूंज!

भाजपा संगठन के आंगन में विरोध के डंके की गूंज!

मीडियावाला.इन। इन दिनों प्रदेश का भाजपा संगठन अजीब मुसीबत में फंसा है! वो जो भी फैसला करता है, उस पर उंगलियां उठने लगती है। मामला चाहे 22 सिंधिया समर्थकों को उपचुनाव में टिकट देने का हो या 24 नए...

मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा के नामों पर फंसा पेंच!

मंत्रिमंडल विस्तार में भाजपा के नामों पर फंसा पेंच!

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में इन दिनों शिवराज सरकार के सामने दो बड़े संकट हैं, एक तो कोरोना संक्रमण और दूसरा मंत्रिमंडल का विस्तार! दोनों ही संकट ऐसे हैं, जिनसे आसानी से पार नहीं पाया जा सकता। कोरोना संक्रमण...

जानलेवा बीमारियों की गिरफ्त में बॉलीवुड

जानलेवा बीमारियों की गिरफ्त में बॉलीवुड

मीडियावाला.इन। इन दिनों फिल्मों की दुनिया बीमारियों के संक्रमणकाल से गुजर रही है। इरफ़ान खान और ऋषि कपूर जैसे दो बड़े कलाकारों की लगातार दो दिनों में कैंसर से हुई मौत ने सिनेमा जगत को हिला दिया।...

सिंधिया और भाजपा के बीच खिंची लकीर का चौड़ा होना!

सिंधिया और भाजपा के बीच खिंची लकीर का चौड़ा होना!

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में शिवराजसिंह चौहान के शपथ लेने के बाद मंत्रिमंडल को लेकर लम्बे समय तक सन्नाटा रहा! मुख्यमंत्री अकेले ही कोरोना संक्रमण से इंतजाम को लेकर व्यवस्थाओं का किला लड़ाते रहे! इसके बाद 15 दिन तक यही कवायद...

संक्रमण से बचाने वाला 'फेस शील्ड, इंदौर के युवाओं की जिद का नतीजा!

संक्रमण से बचाने वाला 'फेस शील्ड, इंदौर के युवाओं की जिद का नतीजा!

मीडियावाला.इन।   इंदौर को लेकर इस शहर के लोगों में एक जुनून है। यहाँ की तासीर ही कुछ ऐसी है कि यहाँ के लोगों को अपने शहर से बहुत लगाव है। वे यहाँ की संस्कृति, जीवन शैली और खान-पान...

विधानसभा उपचुनाव: शिवराज और सिंधिया दोनों की अग्नि परीक्षा लेगी 22 सीटें!

विधानसभा उपचुनाव: शिवराज और सिंधिया दोनों की अग्नि परीक्षा लेगी 22 सीटें!

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश के चौथी बार मुख्यमंत्री बने शिवराजसिंह चौहान की राजनीतिक परिपक्वता पर किसी को शक नहीं! वे पहली बार सांसद से सीधे मुख्यमंत्री बने थे। किसी भी मंत्रिमंडल में मंत्री बने बिना पार्टी ने उन्हें सीधे मुख्यमंत्री बनाया...

22 बागियों को चुनाव जिताना शिवराज सरकार की सबसे बड़ी चुनौती!

22 बागियों को चुनाव जिताना शिवराज सरकार की सबसे बड़ी चुनौती!

मीडियावाला.इन। पंद्रह महीने चली कांग्रेस की कमलनाथ सरकार जिस तरह गिरी और शिवराजसिंह चौहान ने भाजपा की सरकार बनाई, वह राजनीति के इतिहास की अनोखी घटना है। लेकिन, शिवराजसिंह के लिए विधानसभा के बचे करीब...

तोमर मुख्यमंत्री बने तो भाजपा के लिए कई मुश्किलें आसान!

तोमर मुख्यमंत्री बने तो भाजपा के लिए कई मुश्किलें आसान!

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में फिर से सत्ता में आ रही भाजपा का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? ये ऐसा सवाल है, जो सियासी गलियारों में लगातार घनघनाकर अपनी मौजूदगी लगातार दर्ज करा रहा है। मुख्यमंत्री पद की दौड़ में शिवराजसिंह ...

'अटेर' के तीर से निशाना बनी सत्ता की बटेर!

'अटेर' के तीर से निशाना बनी सत्ता की बटेर!

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में सत्ता के सिंहासन पर पार्टी बदल गई! पाँच साल तक सरकार चलाने का सपना देखने वाली कांग्रेस सवा साल में ही घर लौट गई! विधानसभा चुनाव के समय जो कांग्रेस एकजुट नजर आ रही थी,...

'महाराज' के आने से किस नेता की जमीन खिसकेगी!

'महाराज' के आने से किस नेता की जमीन खिसकेगी!

मीडियावाला.इन। ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा का दामन थामने के बाद मध्यप्रदेश की राजनीति में कई नए समीकरण बनेंगे! इससे कांग्रेस की राजनीति का क्या हश्र होगा, फिलहाल इससे ज्यादा प्रासंगिक यह है कि भाजपा में...

'कमल' फिर से खिलेगा या 'कमल' बचेगा!  

'कमल' फिर से खिलेगा या 'कमल' बचेगा!  

मीडियावाला.इन।   मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार फ़िलहाल आईसीयू में है। सरकार की स्थिति गंभीर है। हिचकियाँ चल रही है। डॉक्टर पूरी कोशिश में है कि सरकार की सांसे सामान्य हो जाएं, पर बार-बार बढ़ रही हिचकियों ने चिंता बढ़ा दी...

मध्यप्रदेश में 'वीडी' भाजपा को बदलेंगे या नए शीतयुद्ध संकेत!

मध्यप्रदेश में 'वीडी' भाजपा को बदलेंगे या नए शीतयुद्ध संकेत!

मीडियावाला.इन।  भारतीय जनता पार्टी ने विष्णुदत्त शर्मा उर्फ़ 'वीडी' को प्रदेश अध्यक्ष बनाकर पार्टी की सोच में बदलाव के संकेत दिए हैं। उनके अध्यक्ष बनने से या तो प्रदेश में भाजपा की राजनीति बदलेगी...