Blog

सतीश जोशी

पिछले चालीस वर्षों से पत्रकारिता कर रहे, राजनीतिक विश्लेषक, टिप्पणीकार, नईदुनिया, भास्कर, चौथा संसार सहित प्रदेश के कई समाचार पत्रों के लिए लेखन। 


आदिवासी जनजीवन पर एक पुस्तक, राजनीतिक विश्लेषण पर पांच पुस्तकें, राज रंग, राज रस, राज द्रोह, राज सत्ता, राज पाट।  


रक्षा संवावदाता, रिपोर्टिंग के क्षेत्र में खोजी पत्रकारिता में महारथ हांसिल। प्रेस क्लब इंदौर के अध्यक्ष रहे। वर्तमान में सांध्य दैनिक 6pm के समूह सम्पादक, इंदौर में कार्यरत।


संपर्क : 9425062606

कोरोना महामारी ने लौटाया हमें अपने जीवन मूल्यों की ओर, विश्व हमारी ओर देख रहा है

कोरोना महामारी ने लौटाया हमें अपने जीवन मूल्यों की ओर, विश्व हमारी ओर देख रहा है

मीडियावाला.इन। कोरोना महामारी के संकट में जिस हिम्मत, संयम, अनुशासन और वैज्ञानिकों एवं डॉक्टरों के बल पर कोरोना से भारत ने संघर्ष किया, उसने यह सिद्ध कर दिया कि अब हम हिंदुस्तानी सबसे आगे हो गए हैं। संकटकाल में...

राजनीतिक नेताओं के अपने-अपने राजधर्म,योगी आदित्यनाथ ने गढ़ी राजधर्म की सही परिभाषा

राजनीतिक नेताओं के अपने-अपने राजधर्म,योगी आदित्यनाथ ने गढ़ी राजधर्म की सही परिभाषा

मीडियावाला.इन। मैंने इसी कालम में लिखा था कि भावना से महान कर्तव्य है।  राजनेताओं के राजधर्म संविधान के नाम पर ली गई शपथ और कर्तव्य से जुड़े होते हैं। देश में राजनेताओं के अपने-अपने राजधर्म है। कल उत्तरप्रदेश के...

गांव भोग रहे शहर के लापरवाह लोगों की सजा हम गांव का गक्खड़ के समझ में आए, पर ये शहरी क्यों नहीं समझें ?

मीडियावाला.इन। जांच नहीं कराने औवर अभद्र व्यवहार करने वालों से गुस्साए ग्रामीण मैंने पत्रकारिता का धर्म निभाया और इंदौर शहर के आसपास के गांवों मे लाकडाऊन के चलते हाल जान आया। सुमठा से लेकर खाण्डिया, शाहपुरा, मिर्जापुर, मांगलिया, अजनोठी,...

आम जनता को कोरोना महामारी से उपजे अवसाद से बाहर निकालने  की कसरत है यह...

आम जनता को कोरोना महामारी से उपजे अवसाद से बाहर निकालने की कसरत है यह...

मीडियावाला.इन। विश्वव्यापी कोरोना महामारी के साइड इफेक्ट  से लडऩा और उसकी गंभीरता को भी समझिए। जिद्दी मौलाना साद ने  जो नफरत और कोरोना बम जगह-जगह बिछाए हैं उस पर तो मरहम लगाना एक लंबी प्रक्रिया है। यह जमात को...

तिलक और गांधी ने जो किया वही मोदी कर रहे हैं, अपना नजरिया बदलिये

तिलक और गांधी ने जो किया वही मोदी कर रहे हैं, अपना नजरिया बदलिये

मीडियावाला.इन। कल जब पूरे देश के साथ इंदौर में भी  नौ बजकर नौ मिनट पर हर घर की बालकानियां और दरवाजे दीपक की रोशनियों, मोबाइल की टार्च से जगमग होने लगी तो यकीन मानिए देश ने दुनिया को यह...

फिर कह रहा हूँ सूक्ष्म परीक्षण और जांच कीजिए, चंद लोग मौत बाँटने निकले हैं.....

फिर कह रहा हूँ सूक्ष्म परीक्षण और जांच कीजिए, चंद लोग मौत बाँटने निकले हैं.....

मीडियावाला.इन। कुछ लोगों को राजनीति करना, यह उनका हक है। यह कितना न्यायोचित है, यह निर्णय कल अवाम करेगा। मैंने पहले भी गिना है कि पत्थर फेंकने...

आखिर इन बस्तियों से ही पत्थर क्यों आते हैं?

आखिर इन बस्तियों से ही पत्थर क्यों आते हैं?

मीडियावाला.इन। वसुदैव कुटुम्बकम और सर्वे भवंतु सुखिना में विश्वास करने वाली संस्कृति और सभ्यता वाले देश में आपने सुना होगा कि कुछ दिन पहले लोगों को डर लगता था। ऋषियों और मुनियों के इस देश में कुछ लोग सहिष्णुता...

मैं  और हाजी मस्तान, मैंने लिखा था आज इंदौर में दंगा हो जाएगा, और हो गया

मैं और हाजी मस्तान, मैंने लिखा था आज इंदौर में दंगा हो जाएगा, और हो गया

मीडियावाला.इन। अपनी बात प्रसंगवश कर रहा हूं, क्योंकि मेरे पत्रकार मित्र कीर्ति राणा ने मुझे याद दिलाया कि हाजी मस्तान के...

भ्रष्टाचार  को दूर करने में राजनीति बड़ी बाधा

भ्रष्टाचार को दूर करने में राजनीति बड़ी बाधा

मीडियावाला.इन। एक तरफ व्यवस्था जनता का शोषण करती है, पग-पग पर वह भ्रष्टाचार का शिकार होती है, कोई छोटा-मोटा काम भी हो तो व्यवस्था के कलपुर्जे को तेल-पानी दिए बिना आम आदमी का काम होता ही नहीं है। यहां...

बल्लेबाजी के लिए पिच की तलाश में विपक्ष

मीडियावाला.इन। श्रीनगर एयरपोर्ट से रिटर्न टिकट कटवाकर लौटा विपक्ष भारत की राजनीतिक जमीन पर एक ऐसे पिच की तलाश में है जिसमें धुआंधार बल्लेबाजी कर नरेंद्र मोदी-अमित शाह की विजय यात्रा को रोक सके। इसके लिए समूचे विपक्ष की...

आज राज-चिंतन की बजाए, राष्ट्र-चिंतन की जरूरत

आज राज-चिंतन की बजाए, राष्ट्र-चिंतन की जरूरत

मीडियावाला.इन।                                       आजादी की 72वीं वर्षगांठ पर राष्ट्र चिंतन करने की महती आवश्यकता है।  पिछले एक पखवाड़े में सरकार के एक बड़े कदम को राष्ट्र चिंतन के नजरिए से देखा जाना चाहिए था, मगर उस पर राज चिंतन हावी है। जम्मू-कश्मीर...

फिर सभी को चौंकाया प्रधानमंत्री मोदी ने

मीडियावाला.इन। उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, अमेरिका के प्रधानमंत्री ट्रंप से मिलकर जम्मू-कश्मीर के मामले में मध्यस्थता का झुनझुना ढूंढ रहे थे उसी समय नरेंद्र मोदी-अमित शाह की जोड़ी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के अजीत डोभाल के...

मोदी के मनोवैज्ञानिक चक्रव्यूह में फंसी कांग्रेस

मीडियावाला.इन।     सतीश जोशी  लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी के भाषणों में नामदार विरुद्ध कामदार की बड़ी बहस  छिड़ी। उस बहस का असर वंशवाद पर जरूर पड़ा है। बकौल नरेंद्र मोदी नामदार लोग उत्तरप्रदेश, बिहार...

कांग्रेस में संगठन चलाने नए मनमोहन सिंह का अनुसंधान जारी है

कांग्रेस में संगठन चलाने नए मनमोहन सिंह का अनुसंधान जारी है

  मीडियावाला.इन| ...तो कांग्रेस के भीतर मंथन शुरू हो गया है, इस्तीफों का दौर जारी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद पूरी कांग्रेस में ऊपर से नीचे तक कोई बड़े...

नेहरू-गांधी ब्रांड ठप्पे से कांग्रेस अपने मूल चरित्र में कब लौटेगी?

नेहरू-गांधी ब्रांड ठप्पे से कांग्रेस अपने मूल चरित्र में कब लौटेगी?

मीडियावाला.इन। आपातकाल और कांग्रेस  कांग्रेस पार्टी आज जिस दौर से गुजर रही है वह सब देख रहे हैं कि वह एक कमजोर पार्टी और कमजोर नेतृत्व की सिवाय कुछ नहीं बची है, जबकि एक समय में वह...

,....तो सैकड़ों बस्तियां और  लाखों अतिक्रमण आएंगे चपेट में

,....तो सैकड़ों बस्तियां और लाखों अतिक्रमण आएंगे चपेट में

मीडियावाला.इन। इंदौर। इंदौर शहर में किसी जमाने में बहने वाली नदियां अब नाले में तब्दील हो गई हैं, हालांकि पिछले पांच सालों में इनको साफ करने की बड़ी मुहिम शुरू की गई है। गंगा, यमुना सफाई परियोजना के कारण देश...

किस संगठनात्मक ढांचे की सर्जरी करे कांग्रेस

किस संगठनात्मक ढांचे की सर्जरी करे कांग्रेस

मीडियावाला.इन। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी 17वीं लोकसभा के पहले सत्र में शपथ लेने के लिए शाम को 4 बजे पहुंचे। यह उनका विशेषाधिकार है, वहीं भारतीय जनता पार्टी ने शाम को अपनी संसदीय बोर्ड की...

शुतुरमुर्ग की तरह खतरों से लड़ नहीं सकती कांग्रेस

mediawala.in लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस क्या करे? लाख टके का सवाल है कि उसे किस रणनीति पर काम करना चाहिए कि वह जल्द से जल्द हार के अवसाद से बाहर निकलकर कार्यकर्ताओं में जोश भरे और...

मोदी के नहीं राष्ट्र के हक में आया जनादेश

मीडियावाला.इन। 2014 में 44 और 2019 में 52 सीटों तक का सफर तय कर कांग्रेस ने 5 साल तय किए। इन 5 वर्षों में नेहरू-गांधी खानदान के तीन व्यक्तित्व सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने मिलकर इस पार्टी...

अपमान की क्रोधाग्नि में ढह गया सिंधिया का किला

मीडियावाला.इन। द्रोपदी ने जब दुर्योधन का अट्टहास कर अपमान किया था तो उसे पता नहीं था कि यह अपमान महाभारत रच रहा है। दुर्योधन यह अपमान कभी नही भूला और अपमान की आग में जलता रहा। खुद के...