Brajdham holi : ब्रजधाम हवेली में ठाकुरजी का सखी स्वरूप श्रृंगार

पुरुषों ने भी चुनरी ओढ़ी, रसिया गायन के बीच जमकर झूमी गोपियाँ

1579

खरगोन से आशुतोष पुरोहित की रिपोर्ट

Khargone : अवनी ग्राम स्थित ब्रजधाम हवेली में ब्रज की तर्ज चल रहे 40 दिन के होली उत्सव के दौरान आज देर शाम ठाकुर जी का सखी स्वरूप श्रृंगार किया गया। इस दौरान वैष्णव संप्रदाय के संत यदुनाथ की मौजूदगी में पुरूष भी चुनरी ओढकर आयोजन में शामिल हुए।

 

इस अवसर पर रसिया गायन के बीच मंदिर में मौजूद महिलाएं और युवतियाँ गोपियाँ बनकर जमकर झूमी। ऐसी धार्मिक मान्यता है की राधारानी की सखियों ने होली के दौरान ठाकुर जी को सखी स्वरूप का श्रृंगार किया था। इसलिए इस परम्परा का निर्वहन किया जाता है जिसमें सैकड़ों श्रद्धालु शामिल होते हैं।

इस दौरान आरती के आयोजन के पूर्व यदुनाथ महाराज ने मंदिर परिसर में प्राकृतिक रंगों की बौछार की। रंगो की बौछार के बीच हर कोई श्रद्धालु अपने ऊपर रंग डालने को आतुर नजर आया।

ब्रज की तर्ज पर 40 दिन तक होली उत्सव का धार्मिक आयोजन ब्रजधाम हवेली में होता है। भगवान ने आज श्रद्धालुओं को सखी स्वरूप में दर्शन दिए। अहमदाबाद से विशेष रूप से इस आयोजन में शामिल होने पहुंचे वैष्णव संप्रदाय के संत यदुनाथ महाराज का कहना था कि भगवान ठाकुर जी के सखी स्वरूप श्रृंगार के दर्शन का दिव्य लाभ होता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार राधाजी की सखियों ने भगवान को सखी के रूप में श्रृंगार किया था। पुरूष भी चुनरी ओढकर दर्शन करते है। ब्रजधाम हवेली के व्यवस्थापक नवनीत महाजन ने बताया कि हवेली में दो दिवसीय होली उत्सव को लेकर विशेष धार्मिक आयोजन यदुनाथ महाराज की मौजूदगी मे सम्पन्न होंगे। रविवार दोपहर 12 बजे से 4 बजे रक्तदान शिविर और शाम को फूल होली का आयोजन होगा।