कॉलम / नजरिया

कांग्रेस, बसपा मध्यप्रदेश में मिलकर लड़ी तो भाजपा होगी मुश्किल में

कांग्रेस, बसपा मध्यप्रदेश में मिलकर लड़ी तो भाजपा होगी मुश्किल में

मीडियावाला.इन। 50 सीटों पर बसपा होगी मददगार, कांग्रेस कम से कम 30 सीटें छिन सकती है दिल्ली के राजनीतिक गलियारे से जो खबर छनकर आ रही है, उससे लगता है कि मध्यप्रदेश में...

अकबर को अब भी महान कहने वालों से ...!

अकबर को अब भी महान कहने वालों से ...!

मीडियावाला.इन। अकबर, महान नहीं निकृष्टता, क्रूरता, चरित्रहीनता और सांप्रदायिक मतलबपरस्ती की पराकाष्ठा था.. महाराणा प्रताप की जयंती पर श्यामनारायण पांडेय की "हल्दीघाटी का युद्ध" कविता को पोस्ट करने के साथ मैंने संक्षिप्त टिप्पणी दी.. इस पर मेरे एक...

इंदर भाई.....ऐसी भी क्या जल्दी थी !

इंदर भाई.....ऐसी भी क्या जल्दी थी !

मीडियावाला.इन। स्मृति शेष  —————- फ़ोन पर जब भी बात होती या विवाह समारोह, भजन संध्या, उठावने आदि में मुलाक़ात होती, मेरे सवाल पूछने से पहले ही जवाब मिल जाता परसों ही दिल्ली से चेक करा...

सावधान! महंगाई बढ़ने वाली है!!

सावधान! महंगाई बढ़ने वाली है!!

मीडियावाला.इन। अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतें उछाल पर हैं, तो दूसरी तरफ रुपये की कीमत में गिरावट आ रही है. इसके पीछे चाहे मध्य-पूर्व में तनाव और वैश्विक अर्थव्यवस्था व राजनीति हो, पर घरेलू...

युवा अफसरों का मनोबल तोड़ रही है सरकार

युवा अफसरों का मनोबल तोड़ रही है सरकार

हाल ही जारी आईएएस की तबादला सूची में भाप्र सेवा के 2014 बैच के एक अफसर लोकेश जांगिड़  को छोड़कर सरकार ने इस बैच के सभी अफसरों को जिला पंचायत सीईओ बनाया है।  सूत्रों के अनुसार शहडोल में एस...

लंबित मामले, कालेजियम और सरकार

लंबित मामले, कालेजियम और सरकार

मीडियावाला.इन। अदालतों में लटके पड़े मामलों की चर्चा होती रहती है।  बॉम्बे उच्च न्यायालय के जज शाहरुख कथावाला ने शुक्रवार-शनिवार की रात 3.30 बजे तक काम कर और उस दिन तुरंत सुनवाई के लिए सूचीबद्ध सभी मामलों का...

ट्विटर पर कौन बेहतर नरेन्द्र मोदी या राहुल गांधी?

ट्विटर पर कौन बेहतर नरेन्द्र मोदी या राहुल गांधी?

कांग्रेस ने भी सोशल मीडिया को आक्रामक तरीके से लेना शुरू कर दिया है। अब कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं के सोशल मीडिया पोस्ट में भाजपा और नरेन्द्र मोदी को उन्हीं की शैली में जवाब देने की कोशिश की जा रही है।

चेहरे की चमक नहीं, कार्यकर्ता और संगठन की खूबियों का सहारा

चेहरे की चमक नहीं, कार्यकर्ता और संगठन की खूबियों का सहारा

मीडियावाला.इन। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जो कुछ कहा उसके मायने समझने होंगे। काडरबेस पार्टी के अध्यक्ष ने एेसा नया क्या कह दिया जो राजनीति में समझ रखने वाले न समझें? मैंने इसी कालम...

इस पाखंडपुराण से देश का भला होने वाला नहीं

इस पाखंडपुराण से देश का भला होने वाला नहीं

मीडियावाला.इन। हमारे नेताओं के पाखंड़ी आचरण का दुनिया भर में कोई जोड़ नहीं। चुनाव के सीजन के साथ ही नए-नए प्रपंच शुरू हैं। ताजा प्रपंच है दलितों के घर जाकर भोजन करने का। नेता लोग...

एकाधिनायक का काम पूरा हो चुका है

एकाधिनायक का काम पूरा हो चुका है

मीडियावाला.इन। शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्रित्व का सबसे लंबा कार्यकाल आनंद से पूरा किया है, इसलिए मज़ाक में कही बातों से आनंद ज्यादा आने लगता है। सच मान लो कि शिवराजसिंह के मप्र में पूर्ण होते 13 साल तक...

वनवासियों की मुश्किल हमारे अंत की शुरूआत

वनवासियों की मुश्किल हमारे अंत की शुरूआत

मीडियावाला.इन। कभी-कभी दूसरे के हिस्से का श्रेय और सुख अनायास ही मिल जाता है। अवधेशप्रताप सिंह विश्वविद्यालय रीवा के अनुसूचित जाति अध्ययन केंद्र के राष्ट्रीय सेमीनार में मुख्य वक्ता के रूप में यशस्वी व विद्वान,...

पीएम के सामने मुख्यमंत्री की तैयारी धरी रह गई

पीएम के सामने मुख्यमंत्री की तैयारी धरी रह गई

क्या लक्ष्मण सिंह का कांग्रेस से फिर मोह भंग हो रहा है मध्यप्रदेश में कांग्रेस में 5 कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने पर दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह की तीखी प्रतिक्रिया सामने आई है। उन्होंने ट्वीट कर कहा...

कमलनाथ की ताजपोशी से शिव-दिग्गी दोनों खुश

कमलनाथ की ताजपोशी से शिव-दिग्गी दोनों खुश

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश कांग्रेस के ताजा बदलाव से सबसे ज्यादा खुश दो व्यक्ति हैं, एक शिवराजसिंह और दूसरे दिग्विजयसिंह। शिवराज इसलिए कि वे ज्योतिरादित्य से सीधे मुकाबला करने की स्थिति में जीत के प्रति आशंकित थे। दिग्विजयसिंह इसलिए...

सुमित्रा महाजन अपराजेय ताई

सुमित्रा महाजन अपराजेय ताई

मीडियावाला.इन। महाराष्ट्र से दो बहुएं ऐसी इंदौर आईं जिनकी ख्याति पूरे देश में फैली-मां अहिल्याबाई और सुमित्रा महाजन। 30 बरस पहले तक एक घरेलू महिला ने तब डंका बजा दिया जब 1989 में देश के दिग्गज नेता...

शिवराजजी, भाजपा को चुनाव लड़ने दें, कांग्रेस हार जाएगी

शिवराजजी, भाजपा को चुनाव लड़ने दें, कांग्रेस हार जाएगी

मीडियावाला.इन। शिवराजसिंह की राह आसान है या व्यवधान से भरी है, कांग्रेस की नई ताजपोशी के बाद? उत्तर जितना आसान दिखता है, उतना है नहीं। लोग कह रहे हैं, कमलनाथ की ताजपोशी से भाजपा की 2018 की लड़ाई...

बिकने को बहुत कुछ है सरकार !

बिकने को बहुत कुछ है सरकार !

मीडियावाला.इन। ऐसा भी हो सकता है एक दिन सब कुछ बिकेगा और बेचवाल और कोई नहीं हमारी चुनी हुई सरकार होगी। सोचिये उस भयावह स्थिति को , महसूस कीजिये 15 ,20 साल में कितना कुछ...

तेरी सुनेगा कौन लाल क़िले !

तेरी सुनेगा कौन लाल क़िले !

मीडियावाला.इन। कब्र में पैर लटकने की उम्र में पहुँच चुके हमारे माँ बाप की बेहतर सेहत की देखरेख के लिए किसी कंपनी को ठेका दिया जा सकता है ? यदि हाँ तो फिर सरकार के निर्णय का समर्थन...

कांग्रेस को हमेशा कोई नाथ ही क्यों लगता है ?

कांग्रेस को हमेशा कोई नाथ ही क्यों लगता है ?

मीडियावाला.इन। यह कांग्रेस का चरित्र है, मजबूरी, परंपरा या कमजोरी कि उसे संकट से उबरने के लिये सदैव कोई व्यक्ति की जरूरत होती है। कोई नीति, कोई विचार, कोई एजेंडा कभी उसकी प्राथमिकता नहीं रहता।...