कॉलम / नजरिया

'जीत के आगे ज़िन्दगी क्यों नहीं'?

'जीत के आगे ज़िन्दगी क्यों नहीं'?

मीडियावाला.इन। टीवी,अखबारों और रेडियो पर एक विज्ञापन खूब आता है कि 'डर के आगे जीत है'.यह वाक्य शायद हमारे अपने सपनों को छूता होगा,तभी तो सबकी ज़बान पर जल्दी से चढ़ा,और लगातार बहुत दिनों तक चला,या प्रभावी रूप से चल...

भारत के हित में है खुशहाल, लोकतांत्रिक पाकिस्तान

भारत के हित में है खुशहाल, लोकतांत्रिक पाकिस्तान

मीडियावाला.इन। पाकिस्तान ऐतिहासिक बर्बादी के कग़ार पर है। इमरान खान की चारों तरफ थू-थू  हो रही है। पाकिस्तानी रुपया नीचे, निर्यात नीचे, विकास दर न्यूनतम स्तर पर. महंगाई चरम पर, जनता में त्राहि-त्राहि ! लेकिन इसमें खुश होने की...

'बस्तर बीयर': आकाश पानी यानी प्रसिद्ध देशी बीयर

'बस्तर बीयर': आकाश पानी यानी प्रसिद्ध देशी बीयर

मीडियावाला.इन। सल्फी (वानस्पतिक नाम:Caryota urens / केरियोटा यूरेन्स) ताड़ कुल का एक पुष्पधारी वृक्ष है। यह भारतीय उपमहाद्वीप तथा दक्षिण-पूर्व एशिया का देशज है। इसको संस्कृत में 'मोहकारी' कहते हैं। सूखने के बाद इसकी पत्ती को मछली पकडने के डण्डे...

तो क्या इसे हम ‘राजनीतिक वेश्यावृत्ति’ का स्वीकार मानें?

तो क्या इसे हम ‘राजनीतिक वेश्यावृत्ति’ का स्वीकार मानें?

मीडियावाला.इन। गोवा में सत्ता की मजबूती के लिए बीजेपी ने जो राजनीतिक खेल खेला, उसे कांग्रेस के (शेष बचे) विधायको में से एक एलेक्सो रेजिनाल्डो ने ‘राजनीतिक वेश्यावृत्ति’ ( पाॅलिटिकल प्राॅस्टिट्यूशन) करार दिया। हैरानी की बात यह है कि...

अनुभूति: ये हार्ट अटैक नहीं था , पर आखिर ये था क्या ?

अनुभूति: ये हार्ट अटैक नहीं था , पर आखिर ये था क्या ?

मीडियावाला.इन। अब तो ख़ैर झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया है , पर थोड़े दिनों पहले जब बेहिसाब गर्मी से लोग हलाकान थे तब पहाड़ों पर जाने की होड़ मची हुई थी | दिल्ली के पास होने की वजह...

गरीबी का मजाक है यह

गरीबी का मजाक है यह

मीडियावाला.इन। संयुक्तराष्ट्र संघ की एक ताजा रपट के मुताबिक दुनिया में गरीबी को सबसे ज्यादा खत्म करनेवाला कोई देश है तो भारत ही है। भारत में सन 2006 से 2016 तक याने 10 साल में 27 करोड़ 10 लाख...

दास्तान ए रागदरबारी व्हाया दास्तानगोई...

दास्तान ए रागदरबारी व्हाया दास्तानगोई...

मीडियावाला.इन। राग दरबारी पर कुछ लिखना ठीक वैसा ही है जैसा नदी के पानी को अंजुली में उठाकर फिर सोचना कि अरे बहुत सारा पानी तो नीचे रह गया। राग दरबारी हमारे कालेज के दिनों की पसंदीदा किताब रही है।...

लव मैरिज और ऑनर किलिंग का डर

लव मैरिज और ऑनर किलिंग का डर

मीडियावाला.इन। आज अचानक एक वीडियो वायरल होकर फेसबुक पर आया । बाद मेअं टी वी खोला तो उसमें भी यही वायरल वीडियो सुनने को मिला और पूरी तरह देखने को भी मिला । लडकी राजेश मिश्रा नाम के भाजपा विधायक...

कोचिंग माफिया से लड़ती फिल्म सुपर 30

कोचिंग माफिया से लड़ती फिल्म सुपर 30

मीडियावाला.इन। बिहारी केवल ओरिजनल होते हैं। उनकी नकल कोई नहीं कर सकता। ऋतिक रोशन भी नहीं। यह बात सुपर 30 में साबित हो गई। ऋतिक ने भले ही श को स, छह को छौ और नर्वस होने को नरभस...

लोकतंत्र बचाओ ,आगे आओ

लोकतंत्र बचाओ ,आगे आओ

मीडियावाला.इन। गोवा और कर्नाटक में इन दिनों जो हो रहा है वो भारतीय लोकतंत्र के इतिहास की न पहली घटना है  और न अभूतपूर्व ,इसलिए इस पर चींटी होनेके बजाय इस बात पर संसद को बहस करना चाहिए कि...

जब हम हार के साथ खड़े होते हैं

जब हम हार के साथ खड़े होते हैं

मीडियावाला.इन। जब हम हार के साथ खड़े होते हैं क्योंकि तय है कि न कोई हार आखिरी होती है और न कोई जीत अंतिम। फूलों की माला में यह फैसला करना मुश्किल ही है कि कौन सा सबसे पहले पिरोया...

बजट मेरी नजर में

बजट मेरी नजर में

मीडियावाला.इन। बजट में कमलनाथ सरकार के चुनावपूर्व घोषित वचनपत्र के प्रति संकल्प साफ दिखता है। राइट-टु-वाटर निसंदेह एक क्रांतिकारी कदम है। नदियों के पुनर्जीवन की चिंता समय की माँग है। सरकार इस महत्वपूर्ण जनाधिकार को यथार्थ के धरातल पर...

मध्यप्रदेश के विकास के छद्म आभामंडल का सच!

मध्यप्रदेश के विकास के छद्म आभामंडल का सच!

मीडियावाला.इन।  मध्यप्रदेश के विकास के दावे छद्म और झूठे हैं। दिखाने के लिए विकास के नाम पर सड़कें, पुल और पुलिया दिखाई जाती है! जबकि, किसी राज्य का वास्तविक विकास प्रति व्यक्ति आय, गरीबी का अनुपात, ऊर्जा की...

मोदी के मनोवैज्ञानिक चक्रव्यूह में फंसी कांग्रेस

मोदी के मनोवैज्ञानिक चक्रव्यूह में फंसी कांग्रेस

मीडियावाला.इन।     सतीश जोशी  लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी के भाषणों में नामदार विरुद्ध कामदार की बड़ी बहस  छिड़ी। उस बहस का असर वंशवाद पर जरूर पड़ा है। बकौल नरेंद्र मोदी नामदार लोग उत्तरप्रदेश, बिहार...

चीन और भारत के बीच हसीना

चीन और भारत के बीच हसीना

मीडियावाला.इन।बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने चीनी प्रधानमंत्री ली केकियांग के साथ अपनी चीन-यात्रा के दौरान नौ समझौते पर दस्तखत किए हैं। भारत में बजट का इतना शोर-गुल था कि इस महत्वपूर्ण घटना पर हमारा ज्यादा ध्यान नहीं गया। हमारे...

सपना चौधरी का राजनीति में आना

सपना चौधरी का राजनीति में आना

मीडियावाला.इन। हरियाणा की लोक कलाकार सपना चौधरी जिसने बडी तेजी से सफलता की सीढियां पार कीं , वह भाजपा में शामिल हो गयी और उसका कहना है कि सब कुछ सोच समझ कर नहीं किया जाता । कुछ काम बिना...

मप्र विधानसभा : समान विभाजित सदन में अध्‍यक्ष प्रजापति पर संतुलन का भार

मप्र विधानसभा : समान विभाजित सदन में अध्‍यक्ष प्रजापति पर संतुलन का भार

मीडियावाला.इन। मप्र विधानसभा का पावस सत्र 8 जुलाई से आरंभ हो रहा है। सत्‍ता पक्ष और प्रतिपक्ष के विधायकों की संख्‍या के मान से लगभग बराबर विभाजित सदन में प्रतिपक्ष ने सत्‍ता पक्ष को घेरने की पूरी तैयारी की है।...

बच्चे को सिर्फ प्यार ही न दें, उसकी सुरक्षा भी करें!

बच्चे को सिर्फ प्यार ही न दें, उसकी सुरक्षा भी करें!

मीडियावाला.इन।  हर तरह के अपराध का एक अपना अलग मनोविज्ञान होता है। अपराध करने वाले की शारीरिक भावभंगिमाएं और उनकी नजरें इस बात की चुगली करती हैं कि वे कोई वारदात करने की मंशा में हैं! लेकिन, बाल...

माॅब लिंचिंग के डरावने पहलू और ‘निराशावाद’ की नई व्याख्या

माॅब लिंचिंग के डरावने पहलू और ‘निराशावाद’ की नई व्याख्या

मीडियावाला.इन।  दो घटनाक्रम काबिले गौर हैं। पहला तो ‘देशद्रोही सीरीज ‘की अगली कड़ी का खुलासा हो गया है। यानी कि आप अर्थव्यवस्था की उड़ान की व्यावहारिकता पर भी कोई सवाल उठा रहे हैं तो आप ‘पेशेवर निराशावादी’ हैं। शक्की...