कॉलम / नजरिया

तो क्या लड़ना भूल गयी है कांग्रेस ?

तो क्या लड़ना भूल गयी है कांग्रेस ?

मीडियावाला.इन। बीते पांच साल से विपक्ष में बैठी कांग्रेस लगता है जनता की लड़ाई लड़ना ही भूल गयी है ,कांग्रेस का मौथरापन ही उसके लिए घातक साबित हो रहा है।कांग्रेस से ठीक उलट पांच साल से केंद्र की सत्ता...

लीची-अमरूद की ‘दहशत’ और रोगों के प्रति लापरवाह फितरत...

लीची-अमरूद की ‘दहशत’ और रोगों के प्रति लापरवाह फितरत...

मीडियावाला.इन। देश में इन ‘फलवाहक बीमारियों’ और उनसे होने वाली मौतों को देखकर लगता है कि हमे अब ‘फलने-फूलने’ जैसे मुहावरों का भी रिव्यू करना पड़ेगा। क्योंकि अब  रसीले फल भी जानलेवा रोगों के वाहक बनने लगे हैं। हालांकि वैज्ञानिक...

मैं सूअर और तू मेरा बच्चा

मैं सूअर और तू मेरा बच्चा

मीडियावाला.इन। उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बारे में एक ट्वीट पर पत्रकार प्रशांत कनोजिया को उप्र की पुलिस ने दिल्ली आकर गिरफ्तार कर लिया थाl सर्वोच्च न्यायालय ने इस पत्रकार को तुरंत रिहा कर दिया और कहा कि...

अरे... कुछ तो सीखो इजराइल से

अरे... कुछ तो सीखो इजराइल से

मीडियावाला.इन।   mediawala.in इजराइल की गैलीना मनुस्किन मेरी सोशल मीडिया मित्र हैं। वे पूरी दुनिया घूमती हैं पर भारत से उनका खास लगाव है। वे यह इतिहास जानती हैं कि यहूदियों को जब दुनिया भर से खदेड़ा जा...

डिप्टी सीएम का रेवड, एक नया राजनीतिक मज़ाक

डिप्टी सीएम का रेवड, एक नया राजनीतिक मज़ाक

मीडियावाला.इन। इधर मध्यप्रदेश में कमलनाथ मंत्रिमंडल विस्तार के साथ राजनीतिक गोटियां नए सिरे से जमाने की कवायद की चर्चा है तो उधर आंध्र प्रदेश में पहली बार पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आई वायएसआर कांग्रेस के मुख्यमंत्री...

राजनीति का मूड बताएगा झाबुआ का थर्मामीटर!

राजनीति का मूड बताएगा झाबुआ का थर्मामीटर!

मीडियावाला.इन।   झाबुआ को प्रदेश की राजनीतिक गर्मी मापने का थर्मामीटर कभी नहीं माना गया! लेकिन, संयोग है कि ये मौका दूसरी बार झाबुआ को ही मिला! पिछले लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा सांसद दिलीपसिंह भूरिया का निधन...

सरकार की पाक-दुविधा

सरकार की पाक-दुविधा

mediawala.in भारत सरकार की यह दुविधा मेरी समझ के बाहर है। एक तरफ उसने पाकिस्तान को सबक सिखाने की ठान रखी है और दूसरी तरफ उसकी छोटी-सी कृपा पाने के लिए ववह गिड़गिड़ा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 13-14...

गिरीश कर्नाड नहीं रहे, अब 'टाइगर' की खबर कौन रखेगा?

गिरीश कर्नाड नहीं रहे, अब 'टाइगर' की खबर कौन रखेगा?

मीडियावाला.इन।  सलमान खान की फिल्म 'टाइगर' और 'टाइगर जिंदा है' में ख़ुफ़िया एजेंसी 'रॉ' के चीफ डॉ शेनॉय एक ऐसा किरदार था, जिसे लोग भूल नहीं पाए थे! ख़ुफ़िया एजेंट 'टाइगर' यानी सलमान को किस मिशन पर लगाना...

अब तो चल कर दिखाइए सरकार

अब तो चल कर दिखाइए सरकार

mediawala.in ​​​​​देश में नई सरकार बने दस दिन हो रहे हैं लेकिन सरकार अभी भी चुनावी खुमार से बाहर नहीं निकली है।केवल सरकार ही नहीं बल्कि विपक्ष भी इसी खुमार में डूबा है ,देश सेवा का संकल्प अभी भी खूंटी...

शुतुरमुर्ग की तरह खतरों से लड़ नहीं सकती कांग्रेस

शुतुरमुर्ग की तरह खतरों से लड़ नहीं सकती कांग्रेस

mediawala.in लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस क्या करे? लाख टके का सवाल है कि उसे किस रणनीति पर काम करना चाहिए कि वह जल्द से जल्द हार के अवसाद से बाहर निकलकर कार्यकर्ताओं में जोश भरे और...

अब तो देखें कि'कम्युनिकेशन गैप' है कहाँ 

अब तो देखें कि'कम्युनिकेशन गैप' है कहाँ 

मीडियावाला.इन।   अभी पिछले हफ्ते'विश्व पर्यावरण दिवस'था.उसके चार दिन पहले 'विश्व दूध दिवस'था.इसके पहले,लगे-लगे महीनों में 'विश्व पृथ्वी दिवस','विश्व पानी दिवस' और 'विश्व वन्य प्राणी दिवस'थे. साफ़ साफ़ कहें तो ये सब वार्षिक कर्मकांड से...

संयुक्त परिवारों में बच्चों के यौन शोषण का खतरा ज्यादा!

संयुक्त परिवारों में बच्चों के यौन शोषण का खतरा ज्यादा!

मीडियावाला.इन।  बच्चों के यौन शोषण की अधिकांश घटनाएं 'परिवारों' में होती है। वास्तव में ये अबूझ पहेली है और सामाजिक रूप से एक बड़ा खतरा भी! ऐसी घटनाओं में पिता, चाचा, मौसा, भाई, चचेरा भाई या...

चुनाव में जातिवाद का घटता प्रभाव

चुनाव में जातिवाद का घटता प्रभाव

mediawala.in                                    लोक सभा चुनाव के परिप्रेक्ष्य में इस भाग में मैं राजनीति में जातिवाद के ह्रास की ओर ध्यान आकृष्ट करना चाहता हूँ। भारत का बहुसंख्यक हिंदू समाज हज़ारों वर्षों से जातियों में विभक्त रहा है और भारत की...

भारत: कायम है सलमान का जादू

भारत: कायम है सलमान का जादू

मीडियावाला.इन। सलमान की फ़िल्मों के बारे में लिखते हुए मैं थोड़ा पूर्वागृही हो ही जाता हूँ | भद्रलोक के आभामंडल से आने वाले नायकों से इतर सलमान की छवि आम आदमी के बीच से उठने वाले नायक की है ,...

आखिर कब तक हम शर्मसार होते रहेंगे ?

आखिर कब तक हम शर्मसार होते रहेंगे ?

मीडियावाला.इन। जेसिकालाल से लेकर निर्भया और अब ऐसी अनेक घटनाएं ,भूलिए मत इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली कठुआ और उन्नाव गैंग रेप की घटनाओं से लेकर इन दिनों देश में हो रही घटनाओं पर नजर डालिए, ...

पाकिस्तान से बात शुरू करें

पाकिस्तान से बात शुरू करें

मीडियावाला.इन। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान और विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री जयशंकर को पत्र लिखे हैं। उन्होंने दोनों देशों के बीच बातचीत की पहल की है। दोनों ने कहा...

किसी रोते हुए बच्चे को हंसाया जाए....

किसी रोते हुए बच्चे को हंसाया जाए....

मीडियावाला.इन। रमजान का माह कितना मुकद्दस होता है...बचपन में अपने करीबियों के साथ जिया है इसे इसलिए कहती हूं "सबकी मीठी ईद में कड़वाहट घोलने का हक एक क्रूर हैवान को कैसे दिया जा सकता है।"अलीगढ़ में ढ़ाई साल...

ट्विंकल और आसिफा से उठे सवाल

ट्विंकल और आसिफा से उठे सवाल

मीडियावाला.इन। ट्विंकल और आसिफा जैसी बच्चियों से जो घिनौने कांड हुए उनसे रूह कांप उठती है । हालांकि ये पहले या आखिरी कांड नहीं हैं । दिल्ली की निर्भया से लेकर जेसिका लाल तक कितनी तरह के कांड सामने आते...

क्या आगे पीछे हाशिए पर धकेले जाएंगे राजनाथ

क्या आगे पीछे हाशिए पर धकेले जाएंगे राजनाथ

मीडियावाला.इन। क्या मोदी - शाह और राजनाथ के बीच विश्वास की कमी है? क्या राजनाथ का कांटा मोदी को एक न एक दिन निकालना ही है? क्या आगे पीछे हाशिए पर धकेले जाएंगे राजनाथ? क्या प्रधानमंत्री...

पीके की शरण में दीदी

पीके की शरण में दीदी

मीडियावाला.इन। एक पीके वह था, जो फिल्म में किसी दूसरे ग्रह से आया था। उसने सवाल उठाए और समझ के दायरे को बढ़ाने की कोशिश की। अहसास कराया कि दुनिया उतनी छोटी भी नहीं, जितनी अपनी-अपनी आंख और समझ से...