कॉलम / नजरिया

बदलाव के मौसम की बयार है ये, आनंद लीजिये 

बदलाव के मौसम की बयार है ये, आनंद लीजिये 

दृश्य एक। नये नवेले केबिनेट मंत्री पीसी शर्मा आये हैं भोपाल में शिवाजी नगर के दुष्यंत कुमार स्मृति संग्रहालय के सालाना समारोह में। जब वो भाषण देने आते हैं तो कुछ सकुचाते हुये कहते हैं आप मंत्री कहते...

मोदी की घुमक्कड़ी का खर्च

मोदी की घुमक्कड़ी का खर्च

हमारे प्रधानमंत्री लोग अपनी विदेश यात्राओं पर कितनी बेरहमी से पैसा बहाते हैं, इसका पता अभी राज्यसभा में पूछे गए एक सवाल से पता चला है। नरेंद्र मोदी ने पिछले साढ़े चार साल में अपनी विदेश यात्राओं पर...

सरकार से बेदखल होने लगे संघ के दीनदयाल

सरकार से बेदखल होने लगे संघ के दीनदयाल

मध्यप्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के आरएसएस की शाखा में जाने पर प्रतिबंध लगाने संबंधी वचन के साथ सत्ता में आई कांग्रेस ने सरकारी कामकाज से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा नेताओं के लिए पूज्य जनसंघ के संस्थापक दीनदयाल...

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ से रूबरू होने का कांग्रेस का सराहनीय साहस

‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ से रूबरू होने का कांग्रेस का सराहनीय साहस

मध्यप्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार ने विवादास्पद बनाने की कोशिशों के बीच फिल्म ‘ द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ को मप्र में बैन नहीं करने का फैसला किया है तो यह एक सही और विवेकसम्मत निर्णय है। इसलिए...

सिंधिया की खलनायक वाली छवि बनाने में कामयाब होते दिग्विजय सिंह

सिंधिया की खलनायक वाली छवि बनाने में कामयाब होते दिग्विजय सिंह

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में अभी जितने लाचार कमलनाथ नजर आ रहे हैं उतने असहाय तो इस ऐतिहासिक फोटो में नजर आने वाले न तो श्यामाचरण शुक्ल रहे, न मोतीलाल वोरा और न ही दिग्विजय सिंह रहे।कमलनाथ...

ओ तेरी! सिम्बा तो छोटा सिंघम निकला  

ओ तेरी! सिम्बा तो छोटा सिंघम निकला  

मीडियावाला.इन। पुलिस वाले जोकर नहीं होते। सिम्बा में इंटरवल के पहले जिस तरह पुलिसवाले को जोकर जैसा दिखाया गया है, वह अटपटा लगता है। पुलिसवाले इमोशनल हो सकते हैं, भ्रष्ट भी हो सकते हैं, लेकिन मजाक का विषय...

मुसलमानों के सबसे बड़े दुश्मन

मुसलमानों के सबसे बड़े दुश्मन

मीडियावाला.इन। राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने कमाल का काम कर दिखाया है। उसने जिन 10 आतंकवादियों को पकड़ा है, अगर वह उन्हें नहीं पकड़ती तो नया साल भारत के लिए बहुत बुरा साबित होता। दिल्ली और बाहर की 17...

वो अक्सर याद आते हैं!

वो अक्सर याद आते हैं!

मीडियावाला.इन। पटवा जी ने कहा था- राजनीति में कोई किसी का गुरू-चेला नहीं, सबका अपना अपना प्रारब्ध! पुण्यस्मरण  पटवाजी आज हमारे बीच नहीं हैं। भगवान ने उनके महाप्रयाण का वही...

फेक न्यूज के जरिए पत्रकारों को बदनाम करने की साजिश

फेक न्यूज के जरिए पत्रकारों को बदनाम करने की साजिश

मीडियावाला.इन। पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही पोस्ट में दावा किया गया था कि देश के 68 पत्रकारों, लेखकों और पूर्व नौकरशाहों को मोदी सरकार के खिलाफ लिखने के लिए दो से पांच लाख...

खाद, बिजली संकट और असंतोष पर पार पाना होगा

खाद, बिजली संकट और असंतोष पर पार पाना होगा

खाद की विशेषकर यूरिया की कमी किसानों के लिए परेशानी तो सरकार के लिए सिरदर्द बनती जा रही है। सरकार बदल गई है, शिवराजसिंह की जगह कमलनाथ मुख्यमंत्री हो गए हैं। किसानों के आंसूओं के सहारे अपनी सत्ता...

फैसला दिल्ली से होगा

फैसला दिल्ली से होगा

नई सरकार का गठन हो चुका था। सब खुश थे कि चलो सब निपट गया अब कुछ किया जाए। सारे अफसरों को बुलाया गया, उनसे प्रदेश की मौजूदा स्थिति समझी गई। खजाने में झांककर देखा, वचन पत्र के...

सोशल मीडिया में  मंत्रिमंडल विभाग वितरण का महामनोरंजक एपीसोड...!

सोशल मीडिया में  मंत्रिमंडल विभाग वितरण का महामनोरंजक एपीसोड...!

मध्यप्रदेश में नवगठित कमलनाथ मंत्रिमंडल में मंत्रियों को महकमों के बंटवारे को लेकर जितनी व्याकुलता और ‘अंदर’ की जानकारी सोशल मीडिया के पास थी, उतनी तो खुद मुख्यकमंत्री और उन मंत्रियों को भी शायद नहीं थी, जो शपथ...

क्योंकि संपत्ति नहीं है स्त्री

क्योंकि संपत्ति नहीं है स्त्री

मीडियावाला.इन। व्यभिचार कानून को रद्द करने का सुप्रीम कोर्ट का फैसला बस इतना नहीं है कि स्त्री और पुरुष के विवाहेतर संबंधों को अब जुर्म नहीं माना जाएगा. दुर्भाग्य से हमारे लगातार सतही-सपाट होते समय में ज़्यादातर लोग इस फैसले...

यह कैसी जासूसी है ?

यह कैसी जासूसी है ?

भारत सरकार अब किसी भी फोन, किसी भी ई मेल, किसी भी डाक-तार, किसी भी हिसाब-किताब या बैकिंग लेन-देन या किसी भी निजी संवाद की निजता या गोपनीयता में हस्तक्षेप कर सकेगी। सरकार ने अपनी 10 जासूसी एजेन्सियां...

2019 की तैयारियों की झलक है, कमलनाथ की कैबिनेट

2019 की तैयारियों की झलक है, कमलनाथ की कैबिनेट

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ की नवगठित कैबिनेट में एक साथ कई निशाने साधने की कोशिश की गई है. राजनीति के इन्द्रधनुष में मौजूद प्राय: सभी रंगों से इसे सजाने के प्रयास किए गए हैं. 'सामंजस्य और संतुलन' इस...

मीडियाकर्मियों पर हमलों का साल रहा 2018

मीडियाकर्मियों पर हमलों का साल रहा 2018

मीडियावाला.इन। 2018 मीडियाकर्मियों के लिए अच्छा नहीं रहा। खासकर रिपोटर्स के लिए। 2018 में जितनी संख्या में पत्रकारों की हत्या हुई, उतने पत्रकार तो युद्ध की रिपोर्टिंग करते हुए भी नहीं मारे गए। गत 3 साल से मीडिया...

लँगड़ी सरकार की बैसाखी, लेकर ना भाग जाए भाजपा 

लँगड़ी सरकार की बैसाखी, लेकर ना भाग जाए भाजपा 

कमलनाथ की माया, हीरा को भरमाया, उज्जैन को तरसाया  मंत्रिमंडल गठन में भले ही जातीय-गुटीय संतुलन बनाए रखने में कमलनाथ ने राहुल गांधी का भरोसा जीत लिया हो लेकिन मनावर से जीते जयस के डॉ...

दिग्विजय ‘इफेक्ट’ से प्रभावित है, कमलनाथ मंत्रिमंडल!... 

दिग्विजय ‘इफेक्ट’ से प्रभावित है, कमलनाथ मंत्रिमंडल!... 

मध्यप्रदेश की राजनीति का एक नया अध्याय शुरू हो गया। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपनी सरकार की टीम बनाकर प्रदेश के सामने रख दी। 28 सदस्यों की इस टीम में जातीय, क्षेत्र और अनुभव के साथ सबसे ज्यादा गुटों...

गडकरी से नाराज मत होइए

गडकरी से नाराज मत होइए

कई वर्षों पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी जब पहली बार संघ मुख्यालय में मुझसे नागपुर में मिले थे, तब मैंने उनसे कहा था कि आप ‘गडकरी’ हैं या ‘गदगद्करी’ हैं ? आपकी बातों अखबारों में पढ़कर मेरी तबियत...

इंदौर और उज्जैन लोकसभा चुनाव में भाजपा उतारेगी नए चेहरे, बहुत हुईं महाजन, अब मालवीय भी नहीं 

इंदौर और उज्जैन लोकसभा चुनाव में भाजपा उतारेगी नए चेहरे, बहुत हुईं महाजन, अब मालवीय भी नहीं 

विधानसभा चुनाव में मालवा-निमाड़ क्षेत्र की 66 सीटों पर अप्रत्याशित हार से भाजपा गहरे सदमे में है लेकिन इस हार से सबक लेकर वह लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई है। दूध की जली भाजपा की हालत...