Tuesday, February 25, 2020

कॉलम / नजरिया

कन्या भोज के आईने में भूख से मरते भारत को भी देखें !

कन्या भोज के आईने में भूख से मरते भारत को भी देखें !

जिस देश में महानवमी पर कन्या भोज की पवित्र और अनुकरणीय परंपरा हो, उसी नवरात्र में यह खबर आए ‍कि  भुखमरी खत्म करने वाले देशों की सूची में भारत और पीछे चला गया है, क्षुब्ध और चिंतित करने...

आज माता भगवती की भी कुछ सुनिए !

आज माता भगवती की भी कुछ सुनिए !

चौतरफा भक्ति भाव का वातावरण है। इन नौ दिनों सभी झंझटों को ताक पर रखकर भक्तगण प्रमुदित, आनंदित रहते हैं। त्योहारों के रूप में आनंद का बंदोबस्त हमारे पुरखे कर गए। हर त्योहार मनुष्य की जिजीविषा बढा देता...

अक्ल कहें या शर्म देर से किसे आई

अक्ल कहें या शर्म देर से किसे आई

बड़े पद पर बैठने के बाद कहा तो जाता है कि दिल दिमाग भी बड़ा हो जाता है।एमजे अकबर प्रकरण को देखकर तो ऐसा नहीं लगता, उन्हें या उनका बचाव करने वालों को अक्ल कहें या शर्म भी...

कहां नेहरु और कहां मोदी ?

कहां नेहरु और कहां मोदी ?

तीन मूर्ति के बंगले में जवाहरलाल नेहरु स्मारक संग्रहालय और पुस्तकालय है। इस संग्रहालय और पुस्तकालय को महत्वपूर्ण बनाने में मेरे साथी और अभिन्न मित्र स्व. डाॅ. हरिदेव शर्मा का विशेष योगदान है। वे डाॅ. लोहिया के अनन्य...

एक वो अकबर महान थे और एक ये हैं !  

एक वो अकबर महान थे और एक ये हैं !  

ये मी टू की चेहरा बिगाड़ने वाली होली से एक बात तो साफ होती जा रही है कि औरत की दुश्मन  औरत ही होती है। इसे एमजे अकबर के मामले से दो दशक पहले रुपल देओल बजाज विरुद्ध...

क्या इलाहाबाद ‘प्रयाग’ बनकर भाजपा को  राजनीतिक ‍अनिष्ट से भी बचाएगा ?

क्या इलाहाबाद ‘प्रयाग’ बनकर भाजपा को  राजनीतिक ‍अनिष्ट से भी बचाएगा ?

उत्तर प्रदेश के योगी सरकार ने बड़ी हिम्मत के साथ एक आसान सा काम यह किया  कि जो शहर 443 सालों से इतिहास में इलाहाबाद के नाम से चल रहा था, उसे उसका पुराना पौराणिक नाम प्रयाग लौटा...

कांग्रेस की राजनीति में दिग्विजयी धमाके की गूंज!   

कांग्रेस की राजनीति में दिग्विजयी धमाके की गूंज!   

मध्यप्रदेश में सियासी माहौल गरमा रहा है। पार्टियों में सही उम्मीदवार के लिए बार-बार पत्ते फैंटे जा रहे हैं। चुनाव की घोषणा के बाद से ही कांग्रेस और भाजपा के अलावा समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, सपाक्स, जयस...

रफाल या राजनीतिक गांडीव 

रफाल या राजनीतिक गांडीव 

राहुल गांधी बहुत रोमांचित हैं। उन्हें रफ़ाल  का एक तोहफ़ा मिल गया है जो उनके लिए जादू की छड़ी का काम कर सकता है । इस छड़ी को वे एक राजनैतिक अस्त्र बना कर 2019 के चुनावी महासमर...

खाशोगी: ट्रंप की गीदड़भभकी

खाशोगी: ट्रंप की गीदड़भभकी

सउदी अरब के प्रसिद्ध पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या का मामला अब गजब का तूल पकड़ रहा है। हर साल दर्जनों पत्रकारों की हत्या के मामले सामने आते हैं लेकिन वे उन देशों के आतंरिक मामले होते हैं।...

अन्नपूर्णा-रविशंकर के संबंधों पर ऋषिकेश मुखर्जी ने बनाई थी 'अभिमान' फिल्म

अन्नपूर्णा-रविशंकर के संबंधों पर ऋषिकेश मुखर्जी ने बनाई थी 'अभिमान' फिल्म

इन दिनों माँ शारदा की पवित्र नगरी मैहर में भक्तिभाव का समागम है। माँ शारदा ग्यान की देवी हैं, वे वीणावादिनी संगीत की देवी भी हैं। इसी नवदुर्गा में ही बाबा अलाउद्दीन खाँ साहब की बेटी अन्नपूर्णा देवी...

स्वप्निल संसार से कठोर धरातल पर उतरे स्वप्निल कोठारी 

स्वप्निल संसार से कठोर धरातल पर उतरे स्वप्निल कोठारी 

क्षेत्र क्रमांक 5 से विधानसभा चुनाव लड़ने का ऐलान पेशे से वह सीए हैं। फितरत से शिक्षक। आजीविका से शिक्षण संस्थानों के मालिक। शौकिया तौर पर मोटीवेशनल स्पीकर हैं और अब समाज में गंदगी का...

समझ आ गया है चेहरे नहीं बदले तो चित्त हो जाएगी पार्टी 

समझ आ गया है चेहरे नहीं बदले तो चित्त हो जाएगी पार्टी 

मीडियावाला.इन। इंदौर सहित प्रदेश में भाजपा के टिकटों में बड़ा उलटफेर हो सकता है  भाजपा के बड़े नेताओं को इंदौर जिले में वर्तमान विधायकों को लेकर क्षेत्र के लोगों में अंदर ही अंदर पनप रहे...

याददाश्त सुधार के बादाम राहुल को ही

याददाश्त सुधार के बादाम राहुल को ही

राजनीतिक हल्के से यह स्वास्थ्यवर्द्धक और सूखे मेवे से परिपूर्ण खबर आई है। दिल्ली भाजपा प्रवक्ता सरदार तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी को अपनी याददाश्त सुधारने के लिए पाव भर बादाम भिजवाए दिए हैं।...

'मैं, अमिताभ और बुंदेलखंड से रिश्ता'

'मैं, अमिताभ और बुंदेलखंड से रिश्ता'

अमिताभ बच्चन इस देश को कुदरत की अदभुत सौगात हैं। अब तक मीडिया ने अमिताभ बच्चन के जन्मदिन को लेकर शायद ही कुछ हो! लेकिन, अमिताभ एक ऐसी शख्सियत हैं, जिन पर जितना भी लिखा जाए, जितना बोला...

कांग्रेस की ‘कंगाली’ और दांत खुरच कर पेट भरने की मजबूरी ! 

कांग्रेस की ‘कंगाली’ और दांत खुरच कर पेट भरने की मजबूरी ! 

मीडियावाला.इन। अगर धन और संसाधनों को चुनाव जीतने का जरूरी फैक्टर माना जाए तो अंदाजा लगा लीजिए ‍कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत की  संभावनाएं क्या हैं? कारण कांग्रेस के राजनीतिक दावे कुछ भी...

'अन्न-स्वराज'की हानि तो 'जीवन की हानि'है

'अन्न-स्वराज'की हानि तो 'जीवन की हानि'है

मीडियावाला.इन। मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में अभी-अभी,6 अक्टूबर से गांधी जी की 150 वीं जयंती की शुरुवात में 'स्वराज-यात्रा'निकाली गई.जिले के यशस्वी पूर्वज स्व.माखनलालजी चतुर्वेदी की जन्मस्थली से निकली यह यात्रा,स्व.भवानी प्रसादजी मिश्र,स्व.डॉ.आर एच रिछारिया,स्व.हरिशंकर परसाई और...

राज टॉवर से लेकर मनी सेंटर तक सरकार बदली, ढर्रा नहीं बदला

राज टॉवर से लेकर मनी सेंटर तक सरकार बदली, ढर्रा नहीं बदला

मीडियावाला.इन। विकास प्राधिकरण ने रविवार को नगर निगम के सहयोग से बड़े साहस का काम किया, कोर्ट ने रणजीत हनुमान के समीप नाले की जमीन पर बने 52 दुकानों वाले व्यावसायिक मनी सेंटर की दुकानों का कब्जा लेने...

भारत-मुकुट थे डाॅ. लोहिया

भारत-मुकुट थे डाॅ. लोहिया

12 अक्तूबर को डाॅ. राममनोहर लोहिया की 51 वीं पुण्य-तिथि थी। 1967 में जब दिल्ली के विलिंगडन अस्पताल में वे बीमार थे, मैं वहां रोजाना जाया करता था। उन्हें देखने के लिए जयप्रकाश नारायण, इंदिरा गांधी, जाकिर हुसैन,...

‘माइकल’ से ‘मी-2’ तक, दिल का हाल बेहाल है

‘माइकल’ से ‘मी-2’ तक, दिल का हाल बेहाल है

सप्ताह दिल के मरीजों के लिए शुभ साबित नहीं हुआ। अमेरिका में आए ‘माइकल’ तूफान ने भले ही जनहानि पर रहम किया हो लेकिन जिस तरह से उसने जनता की आर्थिक कमर तोड़ी है, उससे उबरना अमेरिकी प्रभावितों...