साहित्य

वर्ष 2021 का हिन्दी गौरव अलंकरण श्री पंत व डॉ. दवे को

वर्ष 2021 का हिन्दी गौरव अलंकरण श्री पंत व डॉ. दवे को

मीडियावाला.इन। इंदौर। सर्वाधिक हिन्दी प्रेमियों से सुसंगठित हिन्दी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए प्रतिबद्ध 'मातृभाषा उन्नयन संस्थान' द्वारा प्रतिवर्ष दो हिन्दी साधकों को 'हिन्दी गौरव अलंकरण' से विभूषित किया जाता है। इसी शृंखला में वर्ष 2021 के...

खबरपालिका लोकतंत्र का दिल हैं- डा वैदिक

खबरपालिका लोकतंत्र का दिल हैं- डा वैदिक

मीडियावाला.इन। इंदौर। लोकतंत्र को शरीर माने तो न्यायपालिका उसके दिमाग, कार्यपालिका उसके हाथ, और विधायिका उसके पैर है तब खबरपालिका उसका दिल हैं और दिल का काम लोकतंत्र को जोड़ना...

सफलता के  कीर्तिमान स्थापित करेगा 'देश में निकला होगा चाँद', विदेशी सरजमीं पर बसे प्रवासी भाई-बहनों का फेसबुक लाइव कार्यक्रम

सफलता के कीर्तिमान स्थापित करेगा 'देश में निकला होगा चाँद', विदेशी सरजमीं पर बसे प्रवासी भाई-बहनों का फेसबुक लाइव कार्यक्रम

मीडियावाला.इन। भोपाल: आरिणी चैरिटेबल फाउंडेशन के साहित्य समूह ने प्रवासी भारतीय साहित्यकारों का फेसबुक लाइव के माध्यम  से काव्यपाठ और लघुकथापाठ   जनवरी  माह से  देश में निकला  होगा चांद आरंभ किया है। इसमें प्रतिदिन विदेशी सर जमीं पर बसे...

 ममता कालिया की  कवितायें

 ममता कालिया की कवितायें

मीडियावाला.इन। ममता कालिया साहित्य की दुनिया का सुप्रसिद्ध नाम ।ममता कालिया एक प्रमुख भारतीय लेखिका हैं। वे कहानी, नाटक, उपन्यास, निबंध, कविता और पत्रकारिता अर्थात साहित्य की लगभग सभी विधाओं में हस्तक्षेप रखती हैं। हिन्दी कहानी के...

पति के नाम इक खत

पति के नाम इक खत

मीडियावाला.इन। पति के नाम इक खत ----------------------------- भूल जाऊँ दाल में नमक या बनाना चावल जैसे रखकर भूल जाती हूँ चाबी ख्वाबों की तरह भूल जाती हूँ किराने का हिसाब रखकर दिन रात के शेल्फ पर बेटे की उम्र...

नहीं रहे ललित भैया, पत्रकारिता का सूर्य अस्त हो गया

नहीं रहे ललित भैया, पत्रकारिता का सूर्य अस्त हो गया

मीडियावाला.इन। रायपुर।  देशबंधु ग्रुप के चेयरमैन व वरिष्ठ पत्रकार ललित सुरजन नहीं रहे यह खबर दिल को हिला देने वाली है। तबीयत उनकी काफी दिन से खराब चल रही थी। उनका इलाज चल रहा था। अस्पताल में...

बाल साहित्य:मूंगफली के दाने

बाल साहित्य:मूंगफली के दाने

मीडियावाला.इन।   बहुत सारी मूंगफली एक कमरे में पड़ी हुई थीं कुछ बड़ी,कुछ बहुत बड़ी, कुछ छोटी तो कुछ बिल्कुल छोटी,  ....किसी में पाँचदाने, किसी में चार, किसी में तीन ,किसी में दो दाने थे। वे सब दाने आपस...

देश विदेश से 161 लघुकथाएं पढ़ी गईं, रचनाओं का अखंड पाठ बना कीर्तिमान, मध्यप्रदेश स्थापना दिवस पर  लघुकथा  सतत पाठ

देश विदेश से 161 लघुकथाएं पढ़ी गईं, रचनाओं का अखंड पाठ बना कीर्तिमान, मध्यप्रदेश स्थापना दिवस पर लघुकथा सतत पाठ

मीडियावाला.इन। भोपाल| साहित्य  में  व्यस्त और भागती जिंदगी के कारण छोटी रचनाएं ज्यादा लोकप्रिय हो रही हैं. ऐसी ही  एक विधा है लघु कथा। लघुकथा कारों को मंच देने के लिए अनेक कार्यक्रम भी हो रहे  है।...

विजय मनोहर तिवारी की नई किताब का दिल्ली में ऐलान, किताब का शीर्षक है-उफ ये मौलाना, इंडिया फाइट्स कोरोना

विजय मनोहर तिवारी की नई किताब का दिल्ली में ऐलान, किताब का शीर्षक है-उफ ये मौलाना, इंडिया फाइट्स कोरोना

मीडियावाला.इन। दिल्ली। मध्यप्रदेश के राज्य सूचना आयुक्त विजय मनोहर तिवारी की नई किताब के प्रकाशन की औपचारिक घोषणा शनिवार को दिल्ली में की गई है। कोरोना काल की डायरी के रूप में यह किताब गरुड़ प्रकाशन से...

आउटडेटिड

आउटडेटिड

मीडियावाला.इन। दोपहर बीत चुकी थी! ये उनके एक नींद लेकर जागने का समय था जो अब आती ही कहाँ है! उम्र का तकाजा ही है, कमबख्त ये भी गच्चा दे देती है! किस्से सुनने के लिए उन्हें...

अरूणोदय 

अरूणोदय 

मीडियावाला.इन। यह कहानी है अबूझमाड़ (बस्‍तर ) की एक आश्रम शाला के गुरू जी शिवप्रसाद जी की । पर उनके बादे में जानने के पहले उनकी अबूजा कार्य भूमि के बारे में कुछ जान लेना उचित होगा ।  ...

डॉ.राकेश पाठक को तिलका मांझी राष्ट्रीय सम्मान

डॉ.राकेश पाठक को तिलका मांझी राष्ट्रीय सम्मान

मीडियावाला.इन। भागलपुर। वरिष्ठ साहित्यकार,पत्रकार और राष्ट्रीय तिलका मांझी सम्मान समारोह के संयोजक लतांत प्रसून ने इस वर्ष के सम्मान की घोषणा की है। वरिष्ठ पत्रकार और गांधीवादी कार्यकर्ता डॉ.राकेश पाठक(ग्वालियर) को  सम्मान की घोषणा करते हुये प्रसून...

समीक्षा 'कहाँ से कहाँ तक' :बेबाक सम्प्रेषणीयता

समीक्षा 'कहाँ से कहाँ तक' :बेबाक सम्प्रेषणीयता

मीडियावाला.इन। कविता की कसौटी पर मेरा दूसरा गजल संग्रह पास हो गया .देश के वयोवृद्ध साहित्यकार प्रो प्रकाश दीक्षित कविता की निर्मम कसौटी हैं ,मुझे संतोष है कि उन्होंने मेरे संग्रह को मनोयोग से पढ़कर अपना आशीर्वाद...

विश्व हेंडलूम दिवस :कपास की यही कहानी

विश्व हेंडलूम दिवस :कपास की यही कहानी

मीडियावाला.इन। देशभर में आज राष्ट्रीय हथकरघा दिवस मनाया जा रहा है। यह तीसरा हथकरघा दिवस है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य हथकरघा उद्योग के महत्व एवं आमतौर पर देश के सामाजिक आर्थिक विकास में इसके योगदान के बारे में...

सीमा व्यास  की  चुनिन्दा  लघुकथाएँ

सीमा व्यास की चुनिन्दा लघुकथाएँ

मीडियावाला.इन।  लघुकथाएँ 1. परमानंद    एयरपोर्ट पर खड़े विमान ने कुछ दूर खड़ी बस से कहा,' मैं तो यहाँ खड़े - खड़े बोर हो गई। तुम कैसे रह लेती हो एक ही जगह ? ' 'जहाँ...

कदमताल "

कदमताल "

मीडियावाला.इन।   " मम्मा........... दादा जी को छींकें आ रही है।" छह वर्ष की पोती शिवानी आवाज लगाती दौड़कर किचेन में गई । उसे यह पता है कि सर्दी, जुकाम, खाँसी और बुखार कोराना महामारी के लक्षण...

एमपी में कांग्रेस की सत्ता जाने और भाजपा की सत्ता आने के खेल को उजागर करती बृजेश राजपूत की पुस्तक  ' वो 17 दिन ' का पोस्टर रिलीज

एमपी में कांग्रेस की सत्ता जाने और भाजपा की सत्ता आने के खेल को उजागर करती बृजेश राजपूत की पुस्तक ' वो 17 दिन ' का पोस्टर रिलीज

मीडियावाला.इन। सीहोर। हमारा इतिहास सबसे प्राचीन है, इसको कोई मिटा नहीं सका है, यूरोप, चीन और अमेरिका आदि का इतिहास मात्र दो से तीन हजार वर्ष पूर्व का है। पुस्तक एक सोच व सच्चा हमसफर है। यह इंसान की...

बिटर पिल

बिटर पिल

मीडियावाला.इन। वेन इट स्नोज इन योर नोज़ यू कैच कोल्ड इन योर ब्रेन (‘हिम जब आपके नाक में गिरती है तो ठंडक आपके दिमाग़ को जा जकड़ती है’) –ऐलन गिंज बर्ग