CM Helpline : इंदौर जिला सीएम हेल्पलाइन निपटान मामलों में Top-5 में शामिल!

अच्छा काम करने वाले अधिकारियों को प्रशासन पुरस्कृत करेगा!

315

CM Helpline : इंदौर जिला सीएम हेल्पलाइन निपटान मामलों में Top-5 में शामिल!

Indore : जिले में सीएम हेल्प लाइन योजना का प्रभावी क्रियान्वयन किया जा रहा है। सीएम हेल्प लाइन योजना के तहत दर्ज जन समस्याओं के निराकरण में इंदौर जिले ने प्रदेश में चौथा स्थान प्राप्त कर प्रदेश के टॉप फाइव जिलों में अपना स्थान बनाया। कलेक्टर ने जनसमस्याओं के निराकरण में इस उपलब्धि के लिए अधिकारियों के द्वारा किए गए कार्यों की सराहना की।

उन्होंने कहा कि इसी तरह अपने कार्यों को और अधिक बेहतर बनाए। जिससे कि इंदौर जिला प्रदेश में अव्वल स्थान पर आ सके। उल्लेखनीय कार्य करने वाले अधिकारियों को पुरस्कृत करने की बात भी कही। कलेक्टर की अध्यक्षता में यहां हुई समय-सीमा के पत्रों के निराकरण (टीएल) की बैठक हुई। बैठक में अपर कलेक्टर अभय बेड़ेकर, अजय देव शर्मा, राजेश राठौर, आरएस मंडलोई तथा सपना लोवंशी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

बैठक में कलेक्टर डॉ ने सीएम हेल्पलाइन के तहत दर्ज प्रकरणों के निराकरण की विभागवार प्रगति की समीक्षा की। बताया गया कि गत फरवरी माह की रैंकिंग में इंदौर जिला प्रदेश के टॉप फाइव जिलों में शामिल है। इंदौर जिला प्रदेश में चौथे स्थान पर है। जिले में उक्त अवधि में 14400 प्रकरण लंबित थे, इसमें से 11500 से अधिक प्रकरणों का निराकरण आवेदकों की संतुष्टि के साथ किया गया।

कलेक्टर ने अधिकारियों को बधाई दी और कहा कि उत्कृष्ट कार्य करने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा। बैठक में अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि वे वित्तीय लेनदेन में सावधानी रखें। कोई भी आहरण सक्षम अधिकारी की बगैर वित्तीय स्वीकृति के नहीं करें। केशबुक का गहनता से परीक्षण करें। अपने-अपने कार्यालयों में ऑडिट भी करवाना सुनिश्चित करें। गड़बड़ी पाए जाने पर संबंधितों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।