CM शिवराज ने मंच से ही 3 अधिकारियों को किया Suspend, कहा- Enquiry के बाद Jail भी भेजा जाएगा

295
Suspend

CM Shivraj Suspended 3 Officers

निवाड़ी। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान निवाड़ी में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने मंच से ही 3 अधिकारियों को Suspend करने का आर्डर जारी कर दिया। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने तालियों के साथ मुख्यमंत्री के इस फैसले का स्वागत किया। इतना ही नहीं, शिवराज सिंह चौहान ने ये भी कहा कि जांच के बाद जेल भी भेजा जाएगा।

Suspend

Suspend: क्या है पूरा मामला?

दरअसल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जेरोन में पीएम आवास योजना में अनियमितताओं को लेकर निवाड़ी में एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान राज्य के अधिकारियों को फटकार लगाई। इतना ही नहीं, जिन दो अधिकारियों के ऊपर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा उनका नाम मंच से ही पता लगाया और Suspend करने का आदेश जारी कर दिया।

सीएम शिवराज ने कहा, “प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रधानमंत्री जी पैसा भेजते हैं और मैं भी पैसा भेजता हूं…गरीबों के मकान बनवाने के लिए। लेकिन मुझे पता चला कि जेरोन में आवास योजना के पैसे में भारी भ्रष्टाचार किया गया है।” इतना कहने के बाद मंच से शिवराज सिंह चौहान ने पूछा कि आप में से कोई ऐसा है जिनका आवास स्वीकृत हुआ और पिछले दिनों गड़बड़ हुई हो।

Also Read: https://mediawala.in/the-entire-khargone-city-remained-closed-in-protest-against-the-removal-of-sp/

 

इस सवाल पर वहां मौजूद कई लोगों ने अपने हाथ उठाए। इसके बाद उन्हें तत्कालीन सीएमओ का नाम पता किया। मंच पर मौजूद अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को जानकारी दी कि उस समय उमाशंकर नाम का सीएमओ था और अभिषेक राजपूत नाम का यंत्री था।

नाम पता चलने के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इन दोनों को तत्काल प्रभाव से Suspend किया जाता है, भले ही ये कहीं पर भी हों। उन्होंने कहा, “अभी आदेश निकालो। और इसकी जांच होगी। केवल Suspend नहीं, ईओडब्ल्यू को जांच देकर जिसने पैसा खाया है उसे जेल भिजवाऊंगा…जनता के लिए हम पैसे भिजवाते हैं और ये बीच में हड़प जाते हैं।”

Also Read: https://en.wikipedia.org/wiki/Chief_minister_(India)

तहसीलदार भी Suspend 

इसी प्रकार मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार और अन्य मामलों की शिकायत मिलने पर पृथ्वीपुर के तहसीलदार को भी Suspend  कर दिया|