कर्मचारियों का डेटा उपलब्ध न कराने पर कलेक्टर ने दिया ट्रिपल ITDM की कुलसचिव को नोटिस,24 घण्टे में जबाब देने के निर्देश!

294

कर्मचारियों का डेटा उपलब्ध न कराने पर कलेक्टर ने दिया ट्रिपल ITDM की कुलसचिव को नोटिस,24 घण्टे में जबाब देने के निर्देश!

 

जबलपुर – परीक्षाओं के बहाने संस्थान में पदस्थ व्याख्याताओं और कर्मचारियों का डेटा बेस उपलब्ध नहीं कराने पर जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर दीपक सक्सेना ने पंडित द्वारका प्रसाद मिश्र भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी अभिकल्पन एवं विनिर्माण संस्थान (आईआईआईटीडीएम) जबलपुर की कार्यवाहक रजिस्ट्रार डॉ स्वप्नाली डी गडेकर को कारण बताओ नोटिस जारी किया है ।

कलेक्टर ने ट्रिपल आई टी डी एम की कार्यवाहक कुलसचिव को कारण बताओ नोटिस का जबाब 24 घण्टे के भीतर समक्ष में उपस्थित होकर स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिये हैं । नोटिस में समय सीमा में तथा संतोषजनक स्पष्टीकरण न मिलने पर लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की सुसंगत धाराओं के तहत एक पक्षीय कार्यवाही की चेतावनी भी ट्रिपल आईटीडीएम की कार्यवाहक कुलसचिव को दी गई है ।

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा केंद्र और राज्य शासन के सभी विभागों एवं संस्थानों से कर्मचारियों-अधिकारियों का डेटा बेस मांगा गया था । लेकिन ट्रिपल आईटीडीएम की कार्यवाहक कुलसचिव ने परीक्षाओं के नाम पर संस्थान में पदस्थ कर्मचारियों और प्राध्यापकों का डेटा बेस जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध नहीं कराया गया था। डेटा बेस नहीं उपलब्ध कराने पर कार्यवाहक कुलसचिव से संस्थान द्वारा आयोजित की जा रही परीक्षा के कार्यक्रम, परीक्षाओं की तारीख और समय की जानकारी मांगी गई । लेकिन यह जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध नहीं कराई गई ।

जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर श्री सक्सेना ने ट्रिपल आईटीडीएम की कार्यवाहक कुलसचिव के इस कृत्य को निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य के प्रति लापरवाही का द्योतक और लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की 1951 की धारा 134 का उल्लंघन माना है । कारण बताओं नोटिस में विधानसभा चुनाव -2023 में भी ट्रिपल आईटीडीएम की कार्यवाहक कुलसचिव द्वारा कर्मचारियों और शिक्षकों का डेटा बेस जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध नहीं कराये जाने का उल्लेख करते हुये कहा गया है इस बार भी उनका यह कृत्य जानबूझकर किया जाना प्रतीत हो रहा है ।