DME Removed : डॉ जितेन शुक्ला को हटाकर डॉ. एके श्रीवास्तव को DME बनाया!

मेडिकल की पढ़ाई हिंदी में कराने के लिए हिंदी की किताबों के प्रिंटिंग में देरी की!

730

DME Removed : डॉ जितेन शुक्ला को हटाकर डॉ. एके श्रीवास्तव को DME बनाया!

Bhopal : संचालक चिकित्सा शिक्षा (DME) डॉ जितेन शुक्ला को राज्य सरकार ने पद से हटा दिया। उनके स्थान पर गांधी मेडिकल कॉलेज के फार्माकोलॉजी डिपार्टमेंट के प्रो डॉ एके श्रीवास्तव को नया DME बनाया गया। इसके आदेश चिकित्सा शिक्षा विभाग की अपर सचिव बबीता वसुनिया ने जारी किए।

DME के बाद मेडिकल कॉलेजों के डीन के बदलाव की भी तैयारी

मेडिकल की पढ़ाई हिंदी में कराने के लिए मेडिकल की हिंदी भाषा की किताबों के वितरण और प्रिंटिंग में देरी होने के मामले में डॉ जितेन शुक्ला को हटाया गया है। कहा गया कि डीएमई डॉ शुक्ला ने हिंदी में मेडिकल की पढ़ाई के प्रोजेक्ट में कोताही बरती है। हिंदी में मेडिकल पुस्तकों को विद्यार्थियों को वितरण में किया जाना था, जिसमें अनावश्यक विलंब हुआ। द्वितीय एवं तृतीय वर्ष की हिंदी में पुस्तकों को तैयार करने में उन्होंने रुचि नहीं दिखाई।

इससे पहले चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्चास सारंग ने मेडिकल कॉलेजों में मेडिकल की पढ़ाई हिंदी में कराने के प्रोजेक्ट की समीक्षा की। मेडिकल की पढ़ाई हिंदी में कराने के प्रोजेक्ट की समीक्षा के दौरान मेडिकल काेर्सेस की किताबों की हिंदी में प्रिंटिंग और वितरण के मामले में डीएमई डॉ जितेन शुक्ला के स्तर पर देरी करने का खुलासा हुआ। इससे खफा मंत्री सारंग ने डीएमई डॉ शुक्ला को हटा दिया।