मशहूर अभिनेत्री ने IFS अधिकारी के साथ आनन फानन में रचाई शादी, मंदिर में ही ले लिए फेरे

जहां हुई थी शिव-पार्वती की शादी वहीं एक्ट्रेस ने लिये सात फेरे, फॉरेस्ट ऑफिसर हैं पति

14542

मशहूर अभिनेत्री ने IFS अधिकारी के साथ आनन फानन में रचाई शादी, मंदिर में ही ले लिए फेरे

चित्रा शुक्ला ने फॉरेस्ट ऑफिसर वैभव उपाध्याय के साथ शादी की है। उनकी शादी उत्तराखंड के एक मंदिर में हुई है। इस मंदिर में पार्वती-शिव का विवाह हुआ था।पॉपुलर एक्ट्रेस चित्रा शुक्ला ने 2014 की हिंदी फिल्म ‘चल भाग’ से अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद, उन्होंने ‘पुली’, ‘नेनु शैलजा’, ‘मा अब्बायी’ और कई अन्य फिल्मों के साथ टॉलीवुड में अपनी जर्नी शुरू की।
हालांकि, वह राज तरूण के साथ साल 2018 की फिल्म ‘रंगुला रत्नम’ से फेमस हुईं।

Chitra Shukla love story

IFS officer

वर्क फ्रंट की बात करें, तो वर्तमान में उनकी कोई फिल्म कमिटेड नहीं है और फैंस यह जानने के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं कि क्या चित्रा शादी के बाद अपना अभिनय करियर जारी रखेंगी या नहीं; हाल ही में अभिनेत्री ने मध्य प्रदेश के एक IFS अधिकारी के साथ सात फेरे लिए और इसकी झलकियां बेहद प्यारी हैं।हाल ही में, चित्रा शुक्ला ने अपने जीवन के प्यार व आईएफएस वैभव उपाध्याय से उत्तराखंड के त्रियुगीनारायण मंदिर में शादी की। ये दोनों इंदौर के रहने वाले हैं और काफी समय से एक-दूसरे को डेट कर रहे हैं। इसका सबूत दोनों के सोशल मीडिया हैंडल पर मिलता है।

Chitra Shukla films

शादी के बंधन में बंधने के बाद चित्रा और वैभव ने जॉइंट पोस्ट में अपने-अपने इंस्टा हैंडल से इसकी झलकियों की एक सीरीज शेयर की। अपनी टेंपल वेडिंग के लिए चित्रा ने डबल दुपट्टे के साथ रेड कलर का एक हैवी एम्बेलिश्ड लहंगा चोली चुना था।

चित्रा ने अपने लुक को चौड़े नेकपीस, मैचिंग इयररिंग्स, मांग टीका, माथा पट्टी, नथ और चूड़ा सहित कुंदन ज्वेलरी के साथ पूरा किया था। ग्लैम मेकअप (जिसमें ब्लश्ड एंड हाईलाइटेड चीक्स, ग्लासी रेड लिपस्टिक, विंग्ड आईज और एक बन हेयरस्टाइल शामिल था) ने उनके लुक को पूरा किया था। दूसरी ओर, वैभव ने अपनी दुल्हन को व्हाइट कलर के बंदगला सूट के साथ मैचिंग कलर का साफा और पगड़ी से मैच किया था। कुल मिलाकर वे पिक्चर-परफेक्ट लग रहे थे।

अपनी शादी की तस्वीरें साझा करते हुए उन्होंने कैप्शन में लिखा, “जिस क्षण हम अपने फेरे के लिए बैठे और त्रियुगीनारायण मंदिर में दिव्य पूजा शुरू हुई, सूर्यनारायण भगवान उठे और सूर्य की किरणें कहीं से सीधे हम दोनों पर आईं, जैसे कि भगवान सूर्य हमें भगवान के दिव्य निवास शिव और देवी पार्वती विवाह मंडपम में शादी करने का आशीर्वाद दे रहे हों। सूरज की किरणें हम दोनों पर तेज फोकस लाइट की तरह लग रही थीं और हमारे परिवार और आसपास के सभी लोग सरप्राइज थे कि यह कैसे और क्यों हो रहा है। सूरज की किरणें इतनी तेज थीं कि उन्हें तस्वीरों में भी स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है।”