Girl Student Committed Suicide : फेल होने के डर से छात्रा ने आत्महत्या की!  

सुसाइड नोट में लिखा 'मम्मी आप सही कहती थी कि में किसी लायक नहीं हूं!' 

399
Sucide :
Sucide :

Girl Student Committed Suicide : फेल होने के डर से छात्रा ने आत्महत्या की!  

  Indore : बुधवार देर रात परदेशीपुरा के सर्वहारा नगर में रहने वाली 9वीं कक्षा की छात्रा ने सप्लीमेंट्री आने से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक छात्रा ने सुसाइड नोट भी छोड़ा, जिसमें लिखा है ‘मैं 9वी क्लास में पास नही हो पाऊंगी, में किसी लायक नहीं हूं।’

मृतक छात्रा ने कुछ समय पहले परीक्षा दी थी। इसमें उसके पेपर बिगड़ गए और सप्लीमेंट्री आई थी, जिससे वो कुछ दिनों से डिप्रेशन में चल रही थी। इस कारण उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक छात्रा ने जो सुसाइड नोट छोड़ा, उसमें लिखा है कि में नौंवी क्लास में पास नहीं हो पाऊंगी और मम्मी आप सही कहती थी कि में किसी लायक नहीं हूं।’
परीक्षा पास नहीं कर पाने के डर से वह डिप्रेशन में चली गई। सुसाइड नोट में छात्रा ने परीक्षा में फेल होने के डर का जिक्र करते हुए माता-पिता से माफी मांगी है। उसने लिखा कि ‘सॉरी मम्मी-पापा, अब मैं नहीं जी पाऊंगी।’ सुसाइड नोट में छात्रा ने ये भी लिखा कि उसने इससे पहले भी कुछ गोलियां खाकर जान देने की कोशिश की थी। लेकिन, तब गोलियों का असर नहीं हुआ था। घटना के वक्त घर में माता-पिता नहीं थे। गुरुवार को पोस्टमार्टम के बाद छात्रा का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

WhatsApp Image 2023 04 27 at 10.49.52 PM

पुलिस के मुताबिक छात्रा का नाम याशिका पुत्री दिनेश करेना (15) था। वह खरगोन जिले के बड़वाह में दादी के पास रहकर पढ़ाई करती थी। छुटि्टयों के चलते वह कुछ दिन पहले ही अपने माता-पिता के पास रहने इंदौर आई हुई थी। बुधवार करीब 7 बजे के आसपास छात्रा ने फांसी लगा ली। उस वक्त माता-पिता घर पर नहीं थे। पिता काम करने बाहर गए थे, जबकि मां सामान लेने मार्केट गई थी। छोटा भाई घर के बाहर खेल रहा था।

घर में कोई नहीं था, तब फांसी लगाई  
पुलिस के मुताबिक याशिका को सबसे पहले उसके छोटे भाई ऋषि ने देखा। ऋषि कक्षा 5वीं का छात्र है। वह बाहर खेल रहा था, जब वह घर पर आया तो बहन को फंदे पर झूलते हुए देखा। पड़ोसियों को सूचना दी। उन्होंने फोन करके माता-पिता को बुलाया। रिश्तेदारों ने बताया कि याशिका की 9वीं क्लास में सप्लीमेंट्री आई थी। इसके बाद से ही वह तनाव में थी।