पाकिस्‍तान विमान क्रैश में बड़ा खुलासा, चीन से जुड़े हैं इस तरह तार

पाकिस्‍तान विमान क्रैश में बड़ा खुलासा, चीन से जुड़े हैं इस तरह तार

मीडियावाला.इन।

नई दिल्‍ली: ईद से पहले पाकिस्‍तान से एक दर्दनाक खबर सामने आई है। लॉकडाउन के बावजूद पाकिस्‍तान में घरेलू विमान सेवा बहाल थी, जिस वजह से लाहौर से कराची की उड़ान भरने वाले विमान PK-8303 एयरपोर्ट के नजदीक क्रैश हो गया। इस विमान में 98 लोग सवार थे।

मिली जानकारी के अनुसार, जहाज पर कुल मिलाकर 98 लोग सवार थे, जिसमें 85 लोग इकोनामी क्‍लॉस में, 6 बिजनेस क्‍लॉस में, 5 कैबिन क्रू और 2 पायलट मौजूद थे। विमान जहां पर गिरा, वह एक बड़ा रिहायशी इलाका है। बताया जा रहा है कि विमान गिरने की चपेट में 7 से 8 घर बुरी तरह से जल चुके हैं। कराची के इस इलाके में गली इतनी छोटी थी कि यहां पर फायर ब्रिगेड की बड़ी गाडि़यां नहीं पहुंच पाई थी, जिसके बाद फायर ब्रिगेड ने छोटी गाड़ी भेजी और आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है। खबर लिखे जानते तक 8 घायलों को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है, जिसमें बच्‍चे भी शामिल हैं।

जिस इलाके में यह विमान गिरा, वहां पर पहुंची एम्‍बुलेंस भी गली में फंस गई। इस कारण से घायलों को पैदल मैन रोड तक ले जाना पड़ा। यह जगह मॉडल कॉलोनी का इलाक जिन्‍ना गार्डन बताया जा रहा है। सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि एयरपोर्ट के नजदीक ऐसी तंग इलाके नहीं होते और ना ही लोगों को बहू मंजिल इमारत बनाने की परमिशन दी जाती है, लेकिन यहां पर सभी नियम-कानूनों को ताक पर रखा गया। बताया जा रहा है कि इस हादसे में करीब 200 लोगों की जान गई है, क्‍योंकि बड़ी तादाद में घरों को नुकसान पहुंचा है।

चीन से किराए पर लिया था विमान
पाकिस्‍तान का यह विमान जो 150 से ज्‍यादा लोगों की मौत का कारण बना, उसमें चीन की बहुत बड़ा हाथ है। पाकिस्‍तान के न्‍यूज चैनल जियो न्‍यूज के अनुसार, यह विमान चीन से किराए पर लिया गया था और यह करीब 10 से 11 साल पुराना था। प्राथमिक जांच में यह जानकारी सामने आ रही है कि विमान का लैंडिंग गेयर नहीं खुला था, जिस वजह से यह हादसा हुआ है। हालांकि पाकिस्‍तान के अधिकारी ने कहा है कि विमान में किसी तरह की कोई खराबी नहीं थी और यह बिल्‍कुल सही था, लेकिन जांच के बाद ही पता चलेगा यह किस तरह से हादसे का शिकार हुआ।

प्रत्‍यक्षदर्शी ने बताया कि विमान के इंजन में आग लग गई थी, जिसके बाद यह गिरा। वही कंट्रोल टावर का कहना है कि पायलट ने आखिरी बार यह जानकारी दी कि विमान के एक इंजन ने काम करना बंद कर दिया था और विमान अचानक दाईं तरफ जाने लगा था। पॉयलट ने एमरजेंसी लैंडिंग की इजाजत मांगी थी, जिसके बाद कहा कि गया कि दो रवने खाली हैं, लेकिन विमान लैंड करने से पहले की क्रैश हो गया।

news  24

0 comments      

Add Comment