कमलनाथ का अब चंबल की ओर रूख, उपचुनाव में हारी हुई सीटों पर भी जाएंगे

361

कमलनाथ का अब चंबल की ओर रूख, उपचुनाव में हारी हुई सीटों पर भी जाएंगे

भोपाल: प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ अब ऐसी सीटों पर भी जाएंगे, जहां कांग्रेस उपचुनाव हारी है। इस तरह के दौरे की शुरूआत वे शनिवार से करने जा रहे हैं। इस दिन वे चंबल क्षेत्र की जौरा विधानसभा में जाएंगे। इसके बाद वे ऐसी ही सीटों पर ज्यादा फोकस और दौरे करेंगे जहां उपचुनाव में कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा था।
जौरा सीट कांग्रेस के कब्जे में 2003 में आई थी। इसके बाद दो चुनाव में भाजपा यहां से जीती। वर्ष 2018 में कांग्रेस के टिकट पर बनवारी लाल शर्मा जीते थे। उनका निधन होने से यह सीट खाली हो गई थी। इसके बाद हुए उपचुनाव में यहां पर भाजपा फिर से जीत गई थी। अब ऐसी ही 20 अन्य सीटों पर भी कमलनाथ के जाने का कार्यक्रम बनाए जाने पर विचार हो रहा है। प्रदेश में वर्ष 2018 के बाद 34 सीटों पर उपचुनाव हुए। जिसमें कमलनाथ ने बतौर मुख्यमंत्री चुनाव लड़ा, वहीं झाबुआ से गुमान सिंह के लोकसभा में जाने से हुए उपचुनाव में कांतिलाल भूरिया जीते थे। जबकि 6 विधायकों के निधन होने से उनकी सीट पर उपचुनाव हुआ। बाकी की 26 सीटों पर विधायकों के दल बदल के चलते उपचुनाव हुए थे।

कुल 34 सीटों पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने 13 सीटों पर जीत पाई, बाकी की 21 सीटों पर उसकी हार हुई। अब इन 21 सीटों पर कमलनाथ दौरे कर सकते हैं। इसका प्लान बनाया जा रहा है। हालांकि अभी वे इसी तरह से हारी हुई सीट जौरा में जा रहे हैं। जहां पर वे आमसभा के साथ ही मंडलम और सेक्टर के पदाधिकारियों की बैठक लेंगे।