घरेलू उड़ानों के लिए सरकार ने तीन महीने के लिए फिक्स किए रेट, सात रूटों पर 3500 से 10 हजार रु. तक होगा किराया

घरेलू उड़ानों के लिए सरकार ने तीन महीने के लिए फिक्स किए रेट, सात रूटों पर 3500 से 10 हजार रु. तक होगा किराया

मीडियावाला.इन।

25 मई यानी आने वाले सोमवार से घरेलू उड़ानों को करीब दो महीने बाद शुरू किया जा रहा है। हालांकि इस दौरान बहुत कुछ पहले जैसा नहीं होगा। घरेलू उड़ानों के लिए जरूरी गाइडलाइन्स और एसओपी (स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर) जारी किए जाने के बाद अब घरेलू उड़ानों के लिए तीन महीने का न्यूनतम और अधिकतम किराया निर्धारित किया गया है।

नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने गुरुवार को बताया कि घरेलू उड़ान सेवाओं के लिए तीन महीने का न्यूनतम और अधिकतम किराया निर्धारित किया गया है, जो 25 मई से शुरू होगा। पुरी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, हमने एक न्यूनतम और अधिकतम किराया निर्धारित किया है। दिल्ली, मुंबई के केस में 90-120 मिनट के बीच की यात्रा के लिए न्यूनतम किराया 3500 रुपये होगा, अधिकतम किराया 10,000 रुपये होगा। यह 24 अगस्त को आधी रात होने से एक मिनट पहले तक करीब 3 महीनों के लिए संचालित रहेगा। उन्होंने कहा कि 40% सीटें बैंड के मध्य पॉइंट से कम किराए पर बेची जानी हैं। उदाहरण के लिए 3500 रुपये और 10,000 रुपये का मिडपॉइंट 6700 रुपये है। इसलिए 40% सीटों को 6700 रुपये से कम कीमत पर बेचा जाना है। इस तरह हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि किराया नियंत्रण से बाहर न हो। उन्होंने कहा कि आज जारी किया गया आदेश 24 अगस्त 23:59 बजे तक लागू रहेगा।

7 सेक्शन में बंटे रूट्स

एविएशन मिनिस्ट्री ने 7 सेक्शन में रूट्स को बांटे हैं। ये रूट्स उड़ान में लगने वाले समय के आधार पर तय किए गए हैं। तय किए गए 7 सेक्शन हैं-

पहला रूट - 40 मिनट से कम का होगा

दूसरा- 40 से 60 मिनट के बीच का होगा

तीसरा- 60-90 मिनट तक का होगा

चौथा- 90 से 120 मिनट लेने वाला रूट

पांचवा- 120 से 150 मिनट का समय लेने वाला रूट

छठा- 150 से 180 मिनट का होगा

सातवां- 180 से 210 मिनट

ऐसे होगी टिकटों की बुकिंग

हम अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के बारे में बाद में सोचेंगे ऐसे होगी टिकटों की बुकिंग उड्डयन मंत्रालय ने कहा है कि टिकटों की बुकिंग के लिए मिनिमम और मैक्सिमम लिमिट तय की गई है। वहीं विमानों में 40 फीसदी सीटें आधे से कम कम किराए पर बुक होंगे। सरकार ने साफ किया है कि सभी एयरलाइंस आधे से कम दाम पर बुक करने होंगे। अगले तीन महीने यानी अगस्त तक इसी सिस्टम से विमान टिकटों की बुकिंग होगी। अभी इसका पहला फेज अगस्त तक जारी रहेगा। उड्डयन मंत्री ने कहा कि हमने वास्तविक किराया फिक्स किया है ताकि किसी के बिजनेस को नुकसान न हो।

मिडिल सीट खाली नहीं रखी जाएगी

हरदीप पुरी ने कहा कि मेट्रो से मेट्रो सिटी के लिए एक तिहाई उड़ानों को इजाजत मिली है। एक तिहाई उड़ानों को विमानन कंपनियां चला सकती हैं। उड़ान के दौरान बीच की सीट खाली नहीं रखी जाएगी। हर उड़ान के बाद फ्लाइट की डिसइन्फेक्ट किया जाता है। यात्रियों और क्रू के लिए हर सावधानी बरती जाती है। अगर मिडिल सीट खाली छोड़ दें तो इसका भार यात्रियों पर जाएगा।

यात्रियों को पहनना होगा फेस मास्क सैनिटाइजर लाना होगा

हरदीप पुरी ने बताया कि यात्री को सुरक्षात्मक गियर, फेस मास्क पहनना होगा। सैनिटाइजर की बोतल भी उसके पास होनी चाहिए। यात्रा के दौरान कोई खाना नहीं दिया जाएगा। पानी जरूर सीट पर दिया जाएगा। फ्लाइट में कैबिन क्रू पूरी तरह के सुरक्षा उपकरणों से लेस होंगे। चेक इन के दौरान सिर्फ एक बैग लेकर जाने की छूट होगी। फ्लाइट के वक्त से दो घंटे पहले यात्रियों को एयरपोर्ट पहुंचना होगा। किराए पर कंट्रोल रखा जाएगा इसका हरदीप पुरी ने भरोसा दिलाया।

इससे पहले एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एएआई) ने यात्रियों को प्रस्थान से 2 घंटे पहले एयरपोर्ट पर पहुंचने की सलाह दी है। एएआई ने अपने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर्स में यात्रियों से आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप को इंस्टाल करने के लिए भी कहा है। बिना इस एप के यात्रियों को टर्मिनल भवन में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। यात्री के मोबाइल फोन में न केवल आरोग्‍य सेतु एप्‍लिकेशन इंस्‍टॉल होना चाहिए, बल्कि उसका स्‍टेटस भी ग्रीन होना चाहिए। ऐसा नहीं होने पर आपको एयरपोर्ट टर्मिनल के भीतर इंट्री नहीं मिलेगी। इसके अलावा, टर्मिनल में प्रवेश करने से पहले सभी यात्रियों को थर्मल जांच से गुजरना अनिवार्य होगा।

200 अतिरिक्त ट्रेनों के लिए टिकट बुकिंग शुरु

रेलवे ने लॉकडाउन 4.0 के बाद यानी 1 जून से 200 अतिरिक्त ट्रेनें चलाए जाने का ऐलान किया है। इसके लिए आज टिकटों की बुकिंग शुरू हो गई है। शुरुआती 2 घंटों में 1.5 लाख टिकटों की बुकिंग हो चुकी थी। बुधवार को सिविल एविएशन मंत्री हरदीप पुरी ने 25 मई से घरेलू उड़ानों को लेकर भी ऐलान किया था।

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment