चमगादड़, सांप से नहीं बल्कि इस जानवर से फैल रहा कोरोना वायरस, जानकर वैज्ञानिकों के उड़े होश

चमगादड़, सांप से नहीं बल्कि इस जानवर से फैल रहा कोरोना वायरस, जानकर वैज्ञानिकों के उड़े होश

मीडियावाला.इन।

नई दिल्ली॥ बीते महीने भर से विश्व के कई वैज्ञानिक इस बात का पता लगाने में जुटे हैं कि आखिर Corona Virus मनुष्य में आया कैसे? पहले कयास लगाए जा रहे थे कि ये वायरस मनुष्य में चिमकादडों से फैला है। लेकिन अब इस कयास को दरकिनार करते हुए चीन के एक रिसर्च में खुलासा हुआ है कि मनुष्यों में Corona Virus पैंगोलिन से पहुंचा है। ये पहली बार है जब इस दुर्लभ जानवर से इंसानों में Corona Virus फैलने का दावा किया जा रहा है।

चाइना के दक्षिण चाइना एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों का दावा है कि मनुष्य में पाए गए Corona Virus का DNA पैंगोलिन में पाए जाने वाले DNA से 99% मैच कर रहा है। वैज्ञानिकों का दावा है कि मनुष्यों में Corona Virus इस जानवर से आया है।     

इससे पहले कुछ वैज्ञानिकों के दावा किया था कि Corona Virus चिमकादड से मनुष्यों में प्रवेश हुआ होगा। लेकिन रिसर्च में पाया गया कि चिमकादड का DNA मात्र 80 प्रतिशत से भी कम मैच कर रहा था।

पैंगोलिन असल में विश्व में दुर्लभ होता जा रहा है। स्तनधारी वन्यजीव है जो दिखने में अन्य स्तनधारियों से बिल्कुल अलग व विचित्र आकृति का जिसके शरीर का पृष्ठ भाग खजूर के पेड़ के छिलकों की भाँति कैरोटीन से बने कठोर व मजबूत चौड़े शल्कों से ढका रहता है। दूर से देखने पर यह छोटा डायनासोर जैसा प्रतीत होता है। पैंगोलिन कीड़े-मकोड़े और चींटी खाता है। चीनी शोध का कहना है कि किसी शख्स द्वारा इस जानवर को खाने की वजह से ही Corona Virus के इंसानों में प्रवेश की संभावना जताई जा रही है।

वैज्ञानिकों का दावा है कि चिमकादडों में भी Corona Virus पाया जाता है। लेकिन इनसे मनुष्य में वायरस के प्रवेश की संभावना बेहद कम है। जबकि पैंगोलिन से इंसान में वायरस घुसने की आशंका अधिक है। हालांकि अभी तक इस चीनी शोध को WHO की मान्यता नहीं मिली है। लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि यदि ये चीनी वैज्ञानिकों का दावा सही साबित हुआ तो इस वायरस के टीके बनाने में जल्द सफलता मिल सकती है।

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment