मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का प्रदर्शन अनिश्चित काल के लिए टला

मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का प्रदर्शन अनिश्चित काल के लिए टला

मीडियावाला.इन।  मुंबई : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' का प्रदर्शन अनिश्चित काल के लिए टल गया है. फिल्म के निर्माता संदीप सिंह ने गुरुवार को यह जानकारी दी. फिल्म का प्रदर्शन देशभर में 5 अप्रैल को प्रस्तावित था.

केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के अध्यक्ष प्रसून जोशी ने कहा कि फिल्म की जांच और प्रमाणन की प्रक्रिया पर कार्य जारी है. फिल्म का शुरू में प्रदर्शन 12 अप्रैल को होना था, लेकिन निर्माता ने 'लोगों की मांग' का दावा करते हुए प्रदर्शन की तारीख को पहले कर दिया था.

सिंह ने गुरुवार को ट्वीट कर कहा ''इस बात की पुष्टि की जाती है कि हमारी फिल्म 'पीएम नरेंद्र मोदी' 5 अप्रैल को प्रदर्शित नहीं हो रही है. जल्द अगली जानकारी देंगे.' हालांकि, उन्होंने इसके अलावा जानकारी नहीं दी. सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि प्रक्रिया अभी जारी है.

जोशी ने कहा फिल्म के प्रमाणन को लेकर कई सवाल होते हैं, (मैं) तस्वीर स्पष्ट करना चाहूंगा कि फिल्म तय नियमावली के तहत जांच और प्रमाणन की प्रक्रिया में है और इसे प्रमाणित किया जाना है क्योंकि इस बिंदु पर यह प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है.

'मैरी कॉम' के निर्माता उमंग कुमार ने इस फिल्म का निर्देशन किया है, जबकि विवेक ओबराय मुख्य भूमिका में हैं.

फिल्म लगातार चर्चाओं में थी क्योंकि कई राजनीतिक दलों का कहना कि पहले चरण के मतदान से एक हफ्ते पहले फिल्म के प्रदर्शन से भाजपा को चुनाव में लाभ मिलेगा. कांग्रेस ने तो फिल्म के प्रदर्शन को लेकर चुनाव आयोग से औपचारिक तौर पर शिकायत भी की थी. हालांकि चुनाव आयोग ने कहा कि वह इस फिल्म के प्रदर्शन को लेकर शुक्रवार को अंतिम फैसला लेगा.

नयी दिल्ली में उपचुनाव आयुक्त संदीप सक्सेना ने कहा कि हमने फिल्म के निर्माता और भाजपा के महासचिव से विवरण मांगा था...यह मिल गया है. मामला विचाराधीन है और इसे कल प्रस्तुत (चुनाव आयुक्त के समक्ष) किया जाएगा. देश में 11 अप्रैल से लेकर 19 मई तक सात चरणों में लोकसभा चुनाव के लिये मतदान होगा.

 

0 comments      

Add Comment